Friday, Sep 21 2018 | Time 23:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जडेजा के चौके और रोहित के विस्फोट से जीता भारत
  • मालगाड़ी की महिला गार्ड के साथ छेड़छाड़
  • टीआरएस नेता सपत्नीक कांग्रेस में शामिल
  • मोदी पाकयोंग ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे का सोमवार को करेंगे उदघाटन
  • भाजपा ने कुमारस्वामी के खिलाफ राज्यपाल से की शिकायत
  • लपांग के पार्टी छोड़ने से कांग्रेस पर असर नहीं : संगमा
  • राजकीय सम्मन के साथ हुआ बीएसएफ जवान का अंतिम संस्कार
  • राष्ट्रीय सैंबो प्रतियोगिता में हरियाणा चैंपियन
  • बीसीए के खिलाफ कार्रवाई करे बीसीसीआई : सीएबी
  • तंजानिया नौका हादसे में मृतक संख्या 136 हुई
  • मोदी ने राफेल सौदे में देश को दिया धोखा: राहुल
  • टीआरएस नेता कांग्रेस में शामिल
  • पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : लोईस
  • युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराना प्राथमिकता : रघुवर
दुनिया Share

फीफा विश्व कप फाइनल में प्रदर्शनकारी मैदान में घुसे

फीफा विश्व कप फाइनल में प्रदर्शनकारी मैदान में घुसे

मॉस्को 16 जुलाई (रायटर) फ्रांस और क्रोएशिया के बीच रविवार को फीफा विश्व कप फुटबॉल मैच में क्रेमलिन विरोधी पंक बैंड पूसी रायट के तीन प्रदर्शनकारियों के मैदान में घुसने से मैच कुछ समय के लिए बाधित रहा।

पुलिस ने बताया मैदान में घुसने वाले तीन प्रदर्शनकारियों ने पुलिस जैसी वर्दी पहनी हुई थी जिन्हें बाद में गिरफ्तार कर लिया।

प्रदर्शनकारियों ने अपने फेसबुक पर लिखा उनका मुख्य उद्देश्य रूस में मानवाधिकारों के दुरुपयोग के बारे में ध्यान आकर्षित करना है।

फ्रांस और क्रोएशिया के बीच रविवार को हुए फाइनल मैच के दूसरे सत्र में पुलिस की वर्दी की तरह सफेद कमीज, काली पेंट और टोपी पहनकर तीन लोग फ्रांस गोल पोस्ट के पीछे से मैदान में घुस गये। मैदान की ओर भागते हुए चौथे सदस्य को पुलिस ने पकड़ लिया। तीन सदस्य 50 मीटर तक मैदान में घुस आये। लेकिन बाद में कर्मचारियों ने उन्हें पकड़ लिया और खींचते हुए मैदान से बाहर ले गये।

राष्ट्रपति पुतिन के साथ फ्रांसीसी, क्रोएशियाई राष्ट्रपति मैच देख रहे थे। मैच को लगभग 25 सेकंड के लिए रोका गया और बाद फिर से शुरू हो गया। स्टेडियम में एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि पुलिस को घुसपैठियों को मैदानों से बाहर ले जाते हुए देखा।

पांच सप्ताह के इस टूर्नामेंट में मैदान में घुसने की इस घटना को सुरक्षा में चूक बताया गया। इससे पहले मेजबान रूस की अच्छी व्यवस्था और कार्यकुशल के लिए व्यापक रूप से प्रशंसा की गयी थी।

पूसी रायट के सदस्य ओल्गा कुराच्योवा ने बताया वह मैदान में घुसने वालों मेें से एक थीं और उसे पकड़ने के बाद लुज़्निकी पुलिस थाने में रखा गया।

मॉस्को पुलिस ने बताया कि फीफा विश्व कप फुटबॉल के फाइनल मैच के दौरान मैदान में घुसने के बाद चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है जिनमें से तीन महिलाएं और एक युवक है।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2012 में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ एक चर्च में विरोध प्रदर्शन करने पर पूसी रायट के तीन सदस्यों को जेल भेजा गया था और यह समूह तब से क्रेमलिन विरोधी कार्रवाई के प्रतीक बन गए हैं।

उप्रेती

रायटर

More News

नहीं किया ट्रंप के साथ बैठक का आग्रह: ईरान

21 Sep 2018 | 6:38 PM

 Sharesee more..
तंजानिया नौका हादसे में मृतकों की संख्या 86 हुई

तंजानिया नौका हादसे में मृतकों की संख्या 86 हुई

21 Sep 2018 | 6:13 PM

दार अस सलाम 21 सितंबर (रायटर) तंजानिया की विक्टोरिया झील में गुरुवार को नौका हादसे में कम से कम 86 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो गई है और लापता अन्य लोगों की तलाश जा रही है।

 Sharesee more..
तंजानिया नौका हादसे में 44 लोगों के मारे जाने की पुष्टि

तंजानिया नौका हादसे में 44 लोगों के मारे जाने की पुष्टि

21 Sep 2018 | 5:28 PM

दार ए सलाम , 21 सितंबर (रायटर) तंजानिया की विक्टोरिया झील में गुरुवार को नौका हादसे में कम से कम 44 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो गई है और लापता अन्य लोगों की तलाश जा रही है। पुलिस सूत्रों ने यह जानकारी दी है।

 Sharesee more..
image