Sunday, Sep 23 2018 | Time 12:37 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अाजमगढ:जमीनी विवाद में पोते ने मारी दादी को गोली
  • अन्नाद्रमुक विधायक करुनास गिरफ्तार
  • वीरायतन नेपाल में खोलेगा शिक्षण संस्थान
  • जॉनी इंग्लिश स्ट्राइक्स अगेन में एटकिंसन के साथ दिखेंगी थॉम्पसन
  • चंबल में वनाधिकारियों ने पहली बार देखा अजगर का लाइव शिकार
  • आईएमआई ने एक्जीक्यूटिव पीजीडीएम कोर्स के लिए आवेदन आमंत्रित किए
  • अवध विश्वविद्यालय में बनेगा बेगम अख्तर संग्रहालय
  • पुलवामा में मुठभेड़, एक आतंकवादी ढेर
  • 76 साल की अमेरिकी ‘युवती’ ने लाइव फूड से उम्र के प्रभाव पर पायी जीत, अब मोदी से सीखना चाहती है योग
  • पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़
  • कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हसन इमाम का निधन
  • ईरान में हो सकती है क्रांति: गुलियानी
  • चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द की
  • सीरियाई विद्रोही इदलिब में तुर्की से करेंगे सहयोग
  • नाइजीरिया में नौका से चालक दल के 12 सदस्यों का अपहरण
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

इलाहाबाद में गंगा और यमुना के जलस्तर में बढ़ोत्तरी से बाढ़ का संकट

इलाहाबाद में गंगा और यमुना के जलस्तर में बढ़ोत्तरी से बाढ़ का संकट

इलाहाबाद, 02 सितम्बर (वार्ता)उत्तराखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश तथा मध्य प्रदेश में हो रही लगातार बारिश के चलते पिछले 24 घंटों को दौरान गंगा तथा यमुना नदी के जलस्तर पर बृद्धि होने से इलाहाबाद में बाढ़ का संकट एक बार फिर से गहरा गया है।

आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि मध्यप्रदेश में हो रही बारिश के चलते केन और बेतवा नदियों का जल स्तर बढ़ गया है। दोनों नदियाें का पानी यमुना मिलने से नदी के जलस्तर में बृद्धि हो गयी है। इस बीच उत्तरखण्ड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी बारिश हो रही है। लगातार हो रही बारिश से गंगा और यमुना के जलस्तर में बृद्धी दर्ज की गयी।

सूत्रों ने बताया कि तीर्थराज प्रयाग में गंगा और यमुना का बढ़ रहा जलस्तर धीरे धीरे खतरे के निशान की ओर बढ़ रहा है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष द्वारा प्राप्त आंकड़ों के अनुसार शनिवार सुबह आठ बजे की तुलना में रविवार को उसी समय तक फाफामऊ में गंगा के जलस्तर में 16, छतनाग में 23 और नैनी (यमुना) में 29 सेंटीमीटर की बढ़ोत्तरी दर्ज किया गया है।

शनिवार को पूरे दिन गंगा और यमुना का जलस्तर बढ़ता रहा। फाफामऊ में सुबह आठ बजे गंगा का जलस्तर 80.28 मीटर दर्ज किया गया जो शनिवार की तुलना में 12 सेंटीमीटर अधिक है, छतनाग में 78.40 मीटर दर्ज किया गया जो 23 सेंटीमीटर अधिक है। इसी प्रकार नैनी (यमुना) में गंगा का जलस्तर 29 सेंटीमीटर वृद्धि के साथ 78.90 मीटर दर्ज किया गया है।

पिछले एक पखवाडे के आंकडों का आंकलन करने पर गंगा का जलस्तर फाफामऊ में क्रमश: 1.08 मीटर, छतनाग में 1.26 मीटर और नैनी (यमुना) में 1.30 मीटर वृद्धि दर्ज की गयी है। 20 अगस्त को फाफामऊ में गंगा का जलस्तर 79.20मीटर, छतनाग में 78.40 मीटर और नैनी में 78.90 मीटर दर्ज किया गया था।

पिछले दो दिनों से हो रही लगातार बारिश के कारण गंगा और यमुना नदियों में पानी का जलस्तर बढ़ना जारी है। घाट पर रहने वाले तीर्थ पुरोहिताें को लगातार अपनी चौकियों को पीछे खिसकाते जा रहे हैं। दोनों नदियों का जलस्तर तेजी से खतरे के निशान (84.73 मीटर) की ओर बढ़ रहा है, जिससे यमुना किनारे बसे पालपुर, मड़ौका और बसवार और गंगा किनारे मवैया, बजहा, लवायन, छतनाग, कबरा, टुमटुमा और रामपुर आदि गांवों में बाढ़ का पानी घुसने से भय उत्पन्न हो गया है। जिला प्रशासन ने इसे देखते हुए तटीय इलाकों के लिए अलर्ट जारी कर दिया है। रविवार को गंगा का जलस्तर 80.28 मीटर और यमुना का 78.90 मीटर तक पहुंच चुका है, जिसके बाद प्रशासन पूरी सतर्कता बरत रहा है।

वहीं लगातार बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से तो राहत मिली है, लेकिन जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बारिश के कारण शहर के कई इलाकों में जलजमाव की स्थिति बन गई है। साथ ही लोगों को बिजली की समस्या का सामना भी करना पड़ रहा है। बारिश के कारण सबसे अधिक परेशानी इलाहाबाद के पुराने शहर के इलाकों में रहने वाले लोगों को हो रही है।

दिनेश भंडारी

वार्ता

More News

लोकरूचि-अजगर शिकार तीन अंतिम

23 Sep 2018 | 12:28 PM

 Sharesee more..

लाेकरूचि -अजगर शिकार दो इटावा

23 Sep 2018 | 12:25 PM

 Sharesee more..

एटा में अवैध शस्त्र बनाते एक गिरफ्तार

22 Sep 2018 | 10:23 PM

 Sharesee more..
image