Wednesday, Jun 19 2019 | Time 02:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मार्क एस्पर होंगे अमेरिका के नए कार्यकारी रक्षा मंत्री
  • झारखंड में होगी केवल एक जल योजना : रघुवर
  • केरल माकपा प्रमुख के बेटे पर दुष्कर्म का मामला दर्ज
  • किसानों को प्रति बूंद अधिक फसल योजना का लाभ देने में झारखंड अव्वल
राज्य


पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने किया आत्मसमर्पण, जमानत पर छूटे

पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने किया आत्मसमर्पण, जमानत पर छूटे

पटना 10 सितंबर (वार्ता) बिहार की राजधानी पटना स्थित सांसदों-विधायकों की विशेष अदालत में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के एक मामले में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने आज आत्मसमर्पण किया, जहां बाद में उन्हें जमानत पर मुक्त कर दिया गया।

विशेष न्यायाधीश परशुराम सिंह यादव की अदालत में श्री मांझी सशरीर उपस्थित हुये और जमानत की याचिका दाखिल की। याचिका पर सुनवाई के बाद अदालत ने उन्हें पांच हजार रुपये के निजी मुचलके के साथ उसी राशि के दो जमानतदारों का बंध-पत्र (बॉन्ड पेपर) दाखिल करने के बाद जमानत पर मुक्त किये जाने का आदेश दिया। इस मामले में अदालत ने 03 अगस्त 2018 को उनकी उपस्थिति के लिए वारंट जारी किया था।

मामला वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान का है। आरोप के अनुसार, 30 मार्च 2014 को श्री मांझी के वाहन पर दो पार्टियों के झंडे लगे हुये थे। इस संबंध में गया कोतवाली थाने में एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। विशेष अदालत के गठन के बाद मुकदमा गया से पटना व्यवहार न्यायालय में स्थानांतरित कर दिया गया था।

सं सूरज रमेश

वार्ता

image