Thursday, Jun 13 2024 | Time 10:32 Hrs(IST)
image
राज्य » जम्मू-कश्मीर


पीडीपी के पूर्व राज्यसभा सांसद ने अनुच्छेद 370 निरस्त करने में की थी भाजपा की मदद: उमर

पीडीपी के पूर्व राज्यसभा सांसद ने अनुच्छेद 370 निरस्त करने में की थी भाजपा की मदद: उमर

श्रीनगर, 06 मई (वार्ता) नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने सोमवार को आरोप लगाया कि उनके खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ रहे पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के पूर्व राज्यसभा सदस्य ने राज्य में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की मदद की थी।

श्री अब्दुल्ला ने कुपवाड़ा जिले के लंगेट इलाके में एक सार्वजनिक रैली के दौरान कहा, “मेरे खिलाफ बारामूला संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे पीडीपी के फैयाज अहमद मीर उस समय अनुपस्थित रहे, जब राज्यसभा में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने पर मतदान हुआ।”

उन्होंने दावा किया कि उस समय भाजपा बहुमत में नहीं थी और पीडीपी सदस्य के अनुपस्थित रहने से अनुच्छेद 370 को हटाने में सीधे तौर पर नरेंद्र मोदी सरकार को मदद मिली।

नेकां उपाध्यक्ष ने आरोप लगाया, “क्या हमें ऐसे सदस्यों को फिर से संसद में भेजना चाहिए जिन्होंने भाजपा की मदद की और अब भी उनकी मदद कर रहे हैं।”

श्री अब्दुल्ला ने कहा कि भाजपा देश में नागरिक संशोधन कानून, समान नागरिक संहिता और अन्य चीजों के नाम पर नफरत फैला रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि जम्मू-कश्मीर में पार्टियां हमेशा नेशनल कॉन्फ्रेंस को ही निशाना बनाती हैं, भले ही भाजपा सरकार ने अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया, हमारी पहचान, प्रतिष्ठा छीन ली और सब कुछ नष्ट कर दिया।

उन्होंने कहा, “भाजपा मुसलमानों के खिलाफ नफरत फैला रही है, लेकिन राजनीतिक दल अपने भाषणों के दौरान केवल नेशनल कॉन्फ्रेंस को निशाना बनाते हैं। मैं लोगों से आग्रह करता हूं कि वे बाहर आएं और 20 मई को मेरे पक्ष में मतदान करें और मैं आश्वासन देता हूं कि अगले पांच वर्षों के दौरान लोगों के लिए काम करूंगा।”

नेकां उपाध्यक्ष ने पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के नेता सज्जाद लोन की भी आलोचना की, जो बारामूला से चुनाव लड़ रहे हैं।

यामिनी.संजय

वार्ता

More News
जब तक दो देशों के बीच समझ नहीं बनेगी तब तक आतंकवाद खत्म नहीं होगा: फारूक

जब तक दो देशों के बीच समझ नहीं बनेगी तब तक आतंकवाद खत्म नहीं होगा: फारूक

12 Jun 2024 | 3:54 PM

श्रीनगर, 12 जून (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने जम्मू क्षेत्र में आतंकवाद की घटनाओं में बढ़ोतरी के बीच बुधवार को कहा कि जब तक दोनों देशों के बीच समझ नहीं बनेगी तब तक आतंकवाद खत्म नहीं होगा।

see more..
image