Saturday, Apr 21 2018 | Time 11:33 Hrs(IST)
image
image image
BREAKING NEWS:
  • रवि थापर बने निकारागुआ के नये राजदूत
  • लेह, मुगल रोड फिर से बंद, कश्मीर राजमार्ग वाहनों के लिए शुरू
  • कश्मीर में रेल सेवा फिर से बहाल
  • उ कोरिया ने की मिसाइल, परमाणु परीक्षण नहीं करने की घोषणा
  • यूरोपीय संघ को अमेरिकी टैरिफ से ‘पूर्ण’ छूट की आवश्यकता: मेयर
  • तीन देशों की सफल यात्रा के बाद स्वदेश पहुंचे मोदी
  • आईपीएल में सट्टा लगाने वाले तीन सटोरिये गौतमबुद्धनगर से गिरफ्तार
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 अप्रैल)
  • इंडियाना में अप्रैल ‘सिख विरासत माह’ घोषित
  • उ कोरिया अब नहीं करेगा परमाणु परीक्षण
  • हवाई हमले में 20 लोगों की मौत
  • केजरीवाल ने की मालिवाल से हड़ताल समाप्त करने की अपील
  • चांसलर मर्केल के साथ अद्‌भुत रही बैठक: मोदी
  • मोदी और मर्केल ने द्विपक्षीय संबंध बढ़ाने पर दिया जोर
Business Share

सेवाओं के लिए चार स्लैब तय, स्वास्थ्य और शिक्षा जीएसटी से बाहर

सेवाओं के लिए चार स्लैब तय, स्वास्थ्य और शिक्षा जीएसटी से बाहर

श्रीनगर 19 मई (वार्ता) वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने सेवाओं के लिए कर के चार स्लैब तय करते हुये शिक्षा और स्वास्थ्य को इससे बाहर रखा है, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने परिषद की दो दिवसीय बैठक के समापन के बाद यहां संवाददाताओं को बताया कि जीएसटी के तहत सेवा कर के लिए चार दरें तय की गयी हैं जो क्रमश: पांच, 12, 18 और 28 प्रतिशत हैं। उन्होंने कहा कि सोने पर जीएसटी कर दर तय नहीं हो पायी है और परिषद की 03 जून को दिल्ली में होने वाली बैठक में इस पर विचार किया जायेगा। उन्होेंने बताया कि शिक्षा और स्वास्थ्य समेत लगभग उन सभी क्षेत्रों को जीएसटी से बाहर रखा गया है जिन पर अभी सेवा कर नहीं लगता है। परिवहन सेवाओं पर पाँच प्रतिशत जीएसटी लगेगा। बीमा, होटल और रेस्त्रां की सेवाओं पर भी सेवा कर लेगा। रेस्त्राओं पर सेवा कर की दर पाँच से 18 प्रतिशत तय की गयी है। टेलीकॉम और वित्तीय सेवाओं पर 18 प्रतिशत कर लेगा। ऐप आधारित टैक्सी एग्रिगेटर श्रेणी में ओला और उबर जैसे सेवा प्रदाताओं पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगेगा। उन्होंने कहा कि 50 लाख रुपये या इससे कम के कारोबार करने वाले रेस्त्रां पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगेगा जबकि बिना एसी वाले रेस्त्रां के लिए यह 12 प्रतिशत होगा। एसी रेस्त्रां में यह 18 फीसदी लगेगा। विमान यात्रियों को इकोनॉमी क्लास में सफर के लिए पाँच प्रतिशत जीएसटी देना पड़ेगा जबकि बिजनेस क्लास के लिए यह 12 प्रतिशत होगा। वित्त मंत्री ने कहा कि एक हजार रुपये किराये वाले होटलों को जीएसटी से बाहर रख गया है जबकि एक हजार से 2,500 रुपये किराये वाले होटलों पर कर की दर 12 फीसदी तथा ढाई हजार से पाँच हजार वाले होटलों के लिए यह 18 फीसदी होगी। पाँच सितारा होटलों के लिए यह दर 28 फीसदी होगी। रेस क्लब, जुआ और सिनेमा घरों के लिए 28 फीसदी जीएसटी तय किया गया है। शेखर अजीत जारी (वार्ता)

More News

देश के 80 प्रतिशत व्यस्कों के पास बैंक खाता

20 Apr 2018 | 7:34 PM

 Sharesee more..

ग्राहकी से सोना-चांदी में सुधार

20 Apr 2018 | 6:15 PM

 Sharesee more..

रात की धारणा

20 Apr 2018 | 6:14 PM

 Sharesee more..

कपास्या खली मजबूत

20 Apr 2018 | 6:14 PM

 Sharesee more..

इंदौर बाजार तीन अंतिम इदौर

20 Apr 2018 | 6:12 PM

 Sharesee more..
image