Monday, Sep 25 2017 | Time 15:10 Hrs(IST)
image
  • उत्तर प्रदेश बीएचयू हिरासत दो अंतिम वाराणसी
  • शिवपुरी में सड़क हादसे में दो की मौत
  • बीएचयू हिंसा, 125 सपा कार्यकर्ता पुलिस हिरासत में
  • बिल्डर ने की गोली मारकर खुदकुशी
  • ....
  • ‘चहेते’ नहीं काम करने वाले आगे बढ़ेंगे : सुष्मिता
  • कार्ती चिंदरबम की एक करोड से अधिक की परिसंपत्ति और बैंक खाते सील
  • फोटो कैप्शन पहला सेट
  • ....
  • द्वारकाधीश, शंकराचार्य के दर्शन कर गुजरात में चुनावी अभियान की राहुल ने की शुरूआत, बैलगाडी पर भी हुए सवार
  • अायकर विभाग ने एसएम कृष्णा के दामाद की 650 करोड़ रुपए की अघोषित संपति का पता लगाया
  • जबलपुर में धारदार हथियार से युवक की हत्या
  • ....
  • महबूबा के कश्मीर में शांति के दावे को उमर ने किया खारिज
  • वनोपज के मूल्य संवर्धन से होगा आदिवासियों का सशक्तिकरण: जुएल ओराम
फीचर्स Share

गांधी ने सिखाया था राजेन्द्र बाबू, कृपलानी और अनुग्रह बाबू को भोजन बनाना

गांधी ने सिखाया था राजेन्द्र बाबू, कृपलानी और अनुग्रह बाबू को भोजन बनाना

(चंपारण सत्याग्रह के सौ साल पर विशेष)

नयी दिल्ली 14 अप्रैल (वार्ता) आजादी के आंदोलन को नयी दिशा एवं गति देने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के ऐतिहासिक चंपारण सत्याग्रह की एक विशेषता यह भी है कि राष्ट्रपिता ने राजेंद्र बाबू,आचार्य कृपलानी और अनुग्रह बाबू को इस दौरान भोजन बनाना भी सिखा दिया था। गांधी जी ने उस इलाके में दस महीने रहकर ऐतिहासिक चंपारण आन्दोलन की शुरुआत की जो देश की आज़ादी का पहला सत्याग्रह साबित हुआ। इस दौरान गांधी जी ने राजेंद्र बाबू, आचार्य कृपलानी और अनुग्रह बाबू जैसे नेताओं को अपना काम नौकरों से करवाने की आदत छुड़वा दी और उन्हें खाना बनाना, अपने कपड़े खुद धोना एवं घर के अन्य काम खुद करना सीखा दिया। चंपारण आन्दोलन के दौरान गांधी जी ने चार स्कूल खोले और एक गोशाला भी खोली। यह कहना है चंपारण आन्दोलन की अध्येता, लेखिका एवं समाजसेविका डॉ सुजाता चौधरी का,जिन्होंने चंपारण के आन्दोलन का न केवल इतिहास लिखा है बल्कि गांधी जी से जुड़ी सात किताबें भी लिखीं है और हाल ही में राजकुमार शुक्ल पर उनका एक उपन्यास ‘सौ साल’ भी आया है। रासबिहारी मिशन ट्रस्ट की संचालिका डॉ चौधरी ने आज यूनीवार्ता को बताया कि जब गांधी जी दक्षिण अफ्रीका से लौटकर स्वदेश आये तो राजकुमार शुक्ल की लखनऊ कांग्रेस में गांधी जी से मुलाकात हुई थी। वहां गांधी जी से ब्रज किशोरे बाबू भी मिले जो बाद में राजेंद्र बाबू के समधि और जय प्रकाश नारायण के ससुर बने । राजकुमार शुक्ल ने ही गांधी जी को चंपारण में निलहें किसानों पर अंग्रेजो के अत्याचार की दर्दनाक कथा सुनायी थी तभी गांधी जी ने राजकुमार शुक्ल को चंपारण आने का वादा किया था। इसलिए उन्होंने शुक्ल जी को टेलीग्राम किया कि आप कोलकत्ता आ जाएँ वहां से हम आपके साथ चंपारण चलेंगे। कोलकाता में गांधी जी राजेंद्र बाबू से मिले लेकिन राजेंद्र बाबू को पुरी जाना था इसलिए वे पटना नहीं आये। गांधी जी के बेटे हरिलाल गांधी ने दो टिकट पटना के लिए करायी थी। गांधी जी का टिकट नंबर का पता नहीं लेकिन शुक्ल जी ने अपनी डायरी में अपना टिकट नंबर 3950 लिखा। दोनों नौ अप्रैल को कोलकत्ता से चले ट्रेन तीन बजकर 26 मिनट पर रवाना हुई। गांधी जी जब 10 अप्रैल 1917 को पटना स्टेशन पर बिहार के किसान राजकुमार शुक्ल जी के साथ आये थे तो वहां कोई व्यक्ति उनके स्वागत में नहीं आया था। किसी को उनके आने की जानकारी भी नहीं थी। उन्होंने बताया कि शुक्ल जी गांधी जी को ठहराने के लिए उन्हें लेकर राजेंद्र बाबू की अनुपस्थिति में उनके घर ले आये जो उन दिनों किराये के एक मकान में रहते थे, लेकिन राजेंद्र बाबू के नौकर ने उन्हें कमरे में ठहरने और गुसलखाने का इस्तेमाल करने से मना कर दिया क्योंकि गांधी जी जाति के बनिया थे। तब शुक्ल जी मौलाना मज्ररुल हक के पास गए और उन्हें यह बात बताई तब मौलाना साहब खुद अपनी मोटर गाडी से गांधी जी को लेकर अपने घर आये। गांधी जी ने लिखा है कि इस तरह का अपमान उनके जीवन की पहली घटना नहीं थी। बाद में राजेंद्र बाबू को इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने गांधी जी से इसके लिए माफी माँगी। उन्होंने बताया कि मौलाना साहब ने 10 अप्रैल को गांधी जी को पटना में घुमाया और गंगा नदी भी ले गए ।उसी दिन गांधी जी स्टीमर से हाजीपुर गए और फिर वहां से मुजफ्फरपुर पहुंचे । तब आचार्य कृपलानी लंगट सिंह कालेज में शिक्षक थे वे छात्रों के साथ उनका स्वागत करने स्टेशन पर पहुंचे । कृपलानी जी नारियल फोड़कर उनका स्वागत करने के लिए खुद नारियल के पेड़ पर चढ़कर नारियल तोड़ लाये और छात्र स्टेशन से हॉस्टल ले जाने के लिए बैल से चलने वाली फिटन ले आये और बैलों को हटाकर खुद फिटन खींचने लगे तब गांधी जी ने उन्हें इस तरह भावुक होकर काम करने से मना कर दिया।

डॉ चौधरी ने बताया कि गांधी जी 11,12,13 अप्रैल को मुज़फ्फरपुर रहकर कमिश्नर और प्लांट एसोसिएशन के लोगों से मिलकर नील की खेती के बारे में जानकारी लेते रहे और फिर 14 अप्रैल को वहां के गरीब लोगों से मिलते जुलते रहे। वह 15 अप्रैल को तीन बजे मोतिहारी पहुंचे जहां से वह वकील गोरख प्रसाद के घर गए। गांधी जी को 16 अप्रैल को लोमराज़ सिंह के गाँव जसौली पट्टी हाथी पर जा रहे थे तो लेकिन बीच रस्ते में दारोगा ने कमिश्नर का नोटिस गांधी जी को दिया। गांधी बीच रस्ते से मोतिहारी लौट गये। लोमराज़ सिंह पर बहुत अत्याचार हुए थे और उन्होंने आत्महत्या की धमकी भी दी थी। गांधी जे ने मोतिहारी पहुँच कर निलहें किसानों से मिलकर उनका बयान लेना शुरू कर दिया और उनके नाम गिरफ्तारी वारंट जारी हो गया जिसके बाद 18 अप्रैल को उन्हें अदालत में पेश किया गया। अदालत में राजेंद्र बाबू और दीनबंधु एंडरूएज़ भी थे। गांधी जी ने अदालत में कहा कि वह सत्य का पता लगाने आये हैं और अगर सच का पता लगाना अपराध है तो मैं अपराधी हूँ, जज गांधी जी के साहस और बेबाकी को देखकर पानी पानी हो गया और उसे पसीना भी आने लगा, बाद में 20 अप्रैल को मुकदमा ख़ारिज हो गया। गांधी जी ने 20 अप्रैल को सत्याग्रह की पहली विजय मनायी। 18 जून को पत्नी कस्तूबा गांधी अौर पुत्र देवदास गांधी भी चंपारण आये थे। इस दौरान गांधी जी जी ने राजेंद्र बाबू कृपलानी आदि के नौकरों को भगा दिया और सबको अपना काम खुद करने को कहा । कृपलानी रोटी बनाने लगे और राजेंद्र बाबू अनुग्रह बाबू खुद खाना बनाने लगे । इस तरह दस महीने उस इलाके में रहकर गांधी जी ने यह लडाई लड़ी। इस दौरान वह बीच बीच में रांची और पटना जाते रहे और एक बार अहमदाबाद भी गए। गांधी जी ने सात अक्तूबर को बेतिया में गोशाला भी खोली और 14 नवंबर को बडहरवा में स्कूल की नींव भी रखी। अंत में वह 24 जून 1918 को सत्याग्रह समाप्त कर बिहार से चले गए इस दस माह के आन्दोलन से पूरे देश में उनकी ख्याति फ़ैल गयी और वे आज़ादी की लड़ाई के नायक बन गए । इस तरह चंपारण की ऐतिहासिक लडाई लड़ी गयी । जिसे सौ साल बाद पूरा देश याद कर रहा है।

'विस्तृत समाचार के लिए हमारी सेवाएं लें।'
मुख्य समाचार
वंशवाद की राजनीति के बयान पर भाजपा का राहुल पर कड़ा प्रहार

वंशवाद की राजनीति के बयान पर भाजपा का राहुल पर कड़ा प्रहार

नयी दिल्ली 25 सितंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के देश में वंशवाद की परंपरा के होने संबंधी बयान काे लेकर आज कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि वह सुशासन में विश्वास करती है और इस प्रकार की राजनीति करती है जिससे लोगों की समस्याओं का समाधान हो और जीवन में सुधार आए।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 2:11 PM
मुकुल राय का टीएमसी कार्यकारिणी से इस्तीफा

मुकुल राय का टीएमसी कार्यकारिणी से इस्तीफा

कोलकाता, 25 सितंबर (वार्ता) पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ राजनीतिक पार्टी तृणमूल कांग्रेस(टीएमसी) के संस्थापक सदस्य एवं राज्यसभा सांसद मुकुल राय ने आज पार्टी की कार्यकारिणी समिति से इस्तीफा दे दिया।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 12:36 PM
राहुल के हाथ में कांग्रेस का नेतृत्व, भाजपा के हित में - गोयल

राहुल के हाथ में कांग्रेस का नेतृत्व, भाजपा के हित में - गोयल

नयी दिल्ली 25 सितंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आज कहा कि वह चाहती है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी लंबे समय तक अपनी पार्टी का नेतृत्व करें क्योंकि यह भाजपा के हित में है।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 2:54 PM
महर्षि बने नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक

महर्षि बने नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक

नयी दिल्ली, 25 सितंबर (वार्ता) पूर्व केन्द्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने आज देश के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) के रूप में शपथ ली।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 1:05 PM
शेयर बाजार धड़ाम

शेयर बाजार धड़ाम

मुम्बई 25 सितंबर(वार्ता) अधिकतर विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के बीच विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) के बिकवाल बने रहने तथा अर्थव्यवस्था की गति सुस्त पड़ने की आशंका से कमजोर हुई निवेश धारणा के कारण घरेलू शेयर बाजारों में आज लगातार पांचवें दिन गिरावट रही।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 2:47 PM
पुत्र के नाते आशीर्वाद, लेकिन अखिलेश के निर्णयों से सहमत नहीं: मुलायम

पुत्र के नाते आशीर्वाद, लेकिन अखिलेश के निर्णयों से सहमत नहीं: मुलायम

लखनऊ 25 सितम्बर (वार्ता) समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने कहा है कि पुत्र के नाते अखिलेश को उनका आशीर्वाद है लेकिन उनके निर्णयों से वह सहमत नहीं हैं।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 2:11 PM
झारखंड में अवैध पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट से नौ लोगों की मौत

झारखंड में अवैध पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट से नौ लोगों की मौत

रांची, 25 सितंबर (वार्ता) झारखंड में पूर्वी सिंहभूम जिले के बहरागोड़ा प्रखंड के कुमारडुबी गांव में कल अवैध रूप से पटाखा बनाने के दौरान हुए विस्फोट की घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर अब नौ हो गयी है।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 11:06 AM
देश के मुख्य डाकघरों में खोले जायेंगे पासपोर्ट कार्यालय : वीके सिंह

देश के मुख्य डाकघरों में खोले जायेंगे पासपोर्ट कार्यालय : वीके सिंह

मुरादाबाद 25 सितम्बर (वार्ता) लोगों की सुविधा के लिये केन्द्र सरकार आगामी एक वर्ष के दौरान देश के सभी मुख्य डाकघरों में पासपोर्ट कार्यालय खोलेगी।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 12:15 PM
भूस्खलन के कारण सिक्किम में एनएच-10 जाम

भूस्खलन के कारण सिक्किम में एनएच-10 जाम

गंगटोक, 25 सितंबर (वार्ता) सिक्किम में कल रात भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन से जीवन रेखा माना जाने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग-10 पूरी तरह जाम हो गया है।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 11:31 AM
कश्मीर में सुरक्षा के मद्देनजर रेल सेवा स्थगित

कश्मीर में सुरक्षा के मद्देनजर रेल सेवा स्थगित

श्रीनगर. 25 सितंबर (वार्ता) कश्मीर में व्यापारियों और ट्रांसपोर्टरों की आहूत हड़ताल के कारण सुरक्षा के मद्देनजर रेल सेवाएं स्थगित कर दी गई हैं।

   
आगे देखे..25 Sep 2017 | 10:50 AM
स्टार्टअप की बाधाएं हटा रही है सरकार: प्रभु

स्टार्टअप की बाधाएं हटा रही है सरकार: प्रभु

07 Sep 2017 | 1:52 PM

नयी दिल्ली 07 सितंबर (वार्ता) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने आज कहा कि ‘स्टार्टअप’ को सफल बनाने के लिए सरकार सभी बाधाएं एवं अड़चनें हटा रही है। श्री प्रभु ने सोशल मीडिया पर नए उद्यमियों से बात करते हुए कहा कि

भारतीय एवं विश्व इतिहास में 25 सितंबर की प्रमुख घटनाएं

भारतीय एवं विश्व इतिहास में 25 सितंबर की प्रमुख घटनाएं

25 Sep 2017 | 8:47 AM

नयी दिल्ली, 25 सितम्बर (वार्ता) भारतीय एवं विश्व इतिहास में 25 सितम्बर की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं: 1340 - इंग्लैंड और फ्रांस ने निरस्त्रीकरण संधि पर हस्ताक्षर किये। 1524 - वास्कोडिगामा आखिरी बार वायसराय बनकर भारत आए। 1639 - अमेरिका में पहली

दिल के दौरे के खतरे को कम करता है बिनौला तेल

दिल के दौरे के खतरे को कम करता है बिनौला तेल

20 Aug 2017 | 12:33 PM

नयी दिल्ली 20 अगस्त (वार्ता) केन्द्रीय कपास प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान मुंबई के वैज्ञानिकों का दावा है कि कपास के बिनौले का तेल अनेक विशिष्ट गुणों से भरपूर है जो मानव स्वास्थ्य के लिए बहुत ही उपयुक्त है तथा इसके नियमित उपयोग से दिल का दौरा

image