Monday, Jun 17 2019 | Time 22:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कर्तव्य में लापरवाही बरतने के आरोप में एएसआई निलंबित
  • सारण में व्यवसायी की गोली मारकर हत्या
  • योगी ने मुठभेड़ में शहीद मेजर केतन शर्मा को दी श्रद्धांजलि
  • डग्गामार वाहनों एवं ओवर लोडिंग पर हो प्रभावी नियंत्रण:योगी
  • मोदी की वापसी से पिछले पांच साल की बर्बादी और तबाही को ढंका नहीं जा सकता : दीपंकर
  • मैनपुरी से चार बदमाश गिरफ्तार,जेवरात आदि बरामद
  • गुजरात की युवती को विदेश में रहने वाले पति ने व्हाट्सएैप पर भेजा तीन तलाक का संदेश
  • सहारनपुर लूट का खुलासा दो लुटेरे गिरफ्तार नकदी बरामद
  • बिहार के लू प्रभावित इलाकों में बाजार रहेंगे बंद
  • एआईएमआईएम के पार्षदों का औरंगाबाद महापौर के खिलाफ धरना
  • कपड़ा मजदूरों ने 27 जून को हड़ताल का ऐलान किया
  • जेपी नड्डा को भाजपा का कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाये जाने पर सुशील ने दी बधाई
  • जल सरंक्षण के लिए श्री दरबार साहिब में सयंत्र स्थापित
  • दिल्ली पुलिस की सिख युवक से मारपीट की लोंगोवाल ने की निंदा
  • मरीज की मौत को लेकर हुआ हंगामा
दुनिया


काम के लिए तीन महीने का समय दे मीडिया: इमरान

काम के लिए तीन महीने का समय दे मीडिया: इमरान

इस्लामाबाद 31 अगस्त (वार्ता) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि मीडिया किसी किस्म की आलोचना करने से पहले तीन महीने तक उनके कामकाज का आंकलन करे।

इस्लामाबाद में शुक्रवार को मीडिया से मुखातिब हुए श्री खान ने कहा कि तीन महीने में उनके कामकाज से देश की मौजूदा स्थिति में काफी बदलाव देखने को मिलेगा।

पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, श्री खान ने एक सवाल के जवाब में कहा कि पाकिस्तान अमेरिका से किसी प्रकार का संघर्ष नहीं बल्कि अपने संबंधों को बेहतर बनाना चाहता है। उन्होंने यह भी कहा कि व्हाइट हाउस की किसी भी गलत मांग को पाकिस्तान स्वीकार नहीं करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान भारत, अफगानिस्तान और ईरान के साथ शांतिपूर्ण संबंधों का पक्षधर है। श्री खान ने मीडिया को बताया कि राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) को देश में बिना किसी भेदभाव के अपना काम निष्पक्ष रूप से काम करने की हिदायत दी गयी है।

उन्होंने कहा कि यदि मंत्रिमंडल का कोई सदस्य भी किसी प्रकार के संदेह के दायरे में आता है तो उसको भी जिम्मेदार ठहराने में हिचक नहीं होनी चाहिये।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के ऊपर 12 खरब रुपये का ऋण है और व्यापक तौर पर जवाबदेही दिये बिना इससे उबरना संभव नहीं होगा।

उनकी दो दिन की हेलिकॉप्टर यात्रा पर उठे विवाद पर श्री खान ने बचाव करते हुये कहा कि यातायात रोकने से नागरिकों को होने वाली असुविधा के मद्देनजर हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल किया गया।

मिश्रा, यामिनी

वार्ता

image