Friday, May 29 2020 | Time 22:38 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में मध्यम तीव्रता के भूकंप के झटके
  • राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में मध्यम तीव्रता के भूकंप के झटके
  • भाजपा के पूर्व अध्यक्ष भंवरलाल शर्मा का निधन
  • पूर्वी चंपारण में पर्यवेक्षण गृह से फरार बालकैदी गिरफ्तार
  • पूर्वी चंपारण में दो महिला की हत्या
  • पश्चिम चंपारण में शराब के नशे मे धुत युवक हथियार के साथ गिरफ्तार
  • बेगूसराय में महिला की गोली मारकर हत्या, एक घायल
  • राबड़ी ने नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी अरुण यादव को कहां छुपाया : सुशील
  • उत्तराखंड में कोरोना के 216 नए मामले संक्रमितों की संख्या 716 हुई
  • बॉम्बे हाईकोर्ट का नाम महाराष्ट्र हाईकोर्ट करने संबंधी याचिका दायर
  • जम्मू-कश्मीर में सभी शैक्षणिक, प्रशिक्षण संस्थान 15 जून तक बंद
  • देश के कई हिस्सों में आंधी, छिटपुट बारिश
  • दरभंगा में आईपीएस अधिकारी समेत 19 लोग हुए कोरोना संक्रमित
  • राजस्थान में कोरोना संक्रमित संख्या 8365 पहुंची, चार की मौत
राज्य


मोदी और जिनपिंग ने की लंबी अनौपचारिक वार्ता

मोदी और जिनपिंग ने की लंबी अनौपचारिक वार्ता

महाबलीपुरम ,11 अक्टूबर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और दो दिवसीय अनौचारिक शिखर सम्मेलन के लिए तमिलनाडु के महाबलीपुरम पहुंचे चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने शुक्रवार को लगभग पांच घंटे तक बातचीत की।

श्री मोदी और चीन के राष्ट्रपति ने रात्रि भोजन के समय करीब दो घंटे तक वार्ता की। इसके पहले श्री मोदी तमिलनाडु के पम्परागत परिधान में श्री जिनपिंग का ममल्लापुरम में अर्जुन की तपोभूमि में स्वागत किया। इस दौरान दोनों नेता काफी सहज नजर आए। श्री मोदी ने श्री जिनपिंग के गाइड का काम किया और उन्हें प्राचीन शिलाखंडों से निर्मित महाबलीपुरम के ऐतिहासिक धरोहरों शोर मंदिर और पंचरथ के बारे में जानकारी दी।

श्री मोदी ‘नये अवतार’ में सफेद कमीज और धोती पहने हुए थे और अंगवस्त्र डाले हुए थे। इसके बाद दोनों नेता लगभग तीन घंटे तक अनौपचारिक वार्ता की। इस तरह दोनों नेताओं ने शुक्रवार को लगभग चार घंटा 40 मिनट तक अनौपचारिक वार्ता की। इस दौरान श्री मोदी ने चीन के राष्ट्रपति को नृत्य करती स्वरस्वी की तंजावुर की पेंटिंग और नचियार कोइल अन्नम दीप स्तंभ भेंट की। श्री मोदी के साथ रात्रि भोज के बाद श्री जिनपिंग अपने होटल के लिए रवाना हो गये।

दोनों नेताओं के बीच लंबी वार्ता के कारण विदेश मंत्रालय द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में देर हो गयी।



संतोष आशा

जारी वार्ता

image