Monday, Feb 18 2019 | Time 17:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आईएस में शामिल ब्रिटिश लड़की चाहती है वापसी
  • कर्नाटक में 'मोदी विजय संकल्प यात्रा' 21 फरवरी से
  • पंजाब-बजट पेश दो अंतिम चंडीगढ़
  • प्रियंका 21 फरवरी से प्रयागराज और वाराणसी दौरे पर
  • --
  • आतंकवादियों के खात्मे में सफल हो रहे हैं सुरक्षा बल : राजनाथ
  • आरसीए ने भी पाकिस्तानी खिलाड़ियों की तस्वीरें हटायीं
  • 14 फरवरी देश के लिए काला दिन : सानिया
  • वर्ष 2031 तक 30 करोड़ टन इस्पात उत्पादन का लक्ष्य : बीरेन्द्र सिंह
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • जिसों में टिकाव
  • वंदे भारत एक्सप्रेस के आधुनिक तकनीक वाले कोच बनायेगा एमसीएफ
  • रुपया 13 पैसे लुढ़का
  • लखनऊ से माल कस्बा शादी में गये व्यक्ति की धारदार हथियार से हत्या
  • टीम फोर्स ने जीता टीडीएस क्वींस आॅफ नार्थ इंडिया खिताब
Business Share

बड़ी संख्या में कर मामले वापस लेंगे सरकारी विभाग

बड़ी संख्या में कर मामले वापस लेंगे सरकारी विभाग

नयी दिल्ली 11 जुलाई (वार्ता) सरकार ने न्यायाधिकरणों और अदालतों में कर से जुड़े मामलों में कमी लाने तथा कारोबार की आसानी को बढ़ावा देने के लिए सरकारी विभागों द्वारा ऐसे मामलों में अपील के लिए संबद्ध न्यूनतम राशि में 300 प्रतिशत तक की वृद्धि कर दी है, जिससे विभागों को बड़ी संख्या में मामले वापस लेने होंगे।
वित्त मंत्रालय ने आज बताया कि आयकर न्यायाधिकरण और सीमा शुल्क, उत्पाद शुल्क एवं सेवा कर अपीलीय न्यायाधिकरण में विभागीय अपील के लिए न्यूनतम विवादित राशि की सीमा 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दी गयी है। उच्च न्यायालयों में अब 50 लाख रुपये या इससे ज्यादा की राशि के लिए ही अपील की जा सकेगी। पहले यह सीमा 20 लाख रुपये थी। उच्चतम न्यायालय में अपील करने के लिए न्यूनतम राशि सीमा 25 लाख रुपये से बढ़ाकर एक करोड़ रुपये की गयी है। मंत्रालय ने इसे करों से जुड़े अदालती मामलों के प्रबंधन में महत्त्वपूर्ण कदम बताते हुये कहा है कि इससे मामलों की संख्या कम करने में मदद मिलेगा औश्र विभाग बड़े मामलों पर फोकस कर सकेंगे।
इस फैसले के बाद केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड आयकर न्यायाधिकरणों में लंबित 34 प्रतिशत, उच्च न्यायालयों में लंबित 48 प्रतिशत और उच्चतम न्यायालय में लंबित 54 प्रतिशत मामले वापस लेगा। हालाँकि, कानूनी पेचीदगी वाले मामले वापस नहीं लिये जायेंगे।
केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड द्वारा सीमा शुल्क, उत्पाद शुल्क एवं सेवा कर अपीलीय न्यायाधिकरण से 16 प्रतिशत, उच्च न्यायालयों से 22 प्रतिशत और उच्चतम न्यायालय से 21 प्रतिशत मामले वापस लिये जायेंगे।
अजीत अर्चना
वार्ता

More News
रुपया 13 पैसे लुढ़का

रुपया 13 पैसे लुढ़का

18 Feb 2019 | 5:29 PM

मुंबई 18 फरवरी (वार्ता) घरेलू शेयर बाजार में लगातार आठवें दिन रही गिरावट, तेल आयातकों की डॉलर लिवाली और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) के शुद्ध बिकवाल बनने से सोमवार को रुपये में लगातार चौथे दिन गिरावट रही और यह 13 पैसे फिसलकर 71.34 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

 Sharesee more..

जिसों में टिकाव

18 Feb 2019 | 5:26 PM

 Sharesee more..
लगातार आठवें दिन शेयर बाजार में जारी रहा कोहराम

लगातार आठवें दिन शेयर बाजार में जारी रहा कोहराम

18 Feb 2019 | 4:57 PM

मुम्बई 18 फरवरी (वार्ता) एशियाई बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बावजूद टीसीएस, यस बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज और आईटीसी जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई बिकवाली के दबाव में घरेलू शेयर बाजार सोमवार को लगातार आठवें दिन लाल निशान में बंद हुए, बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 310.51 अंक लुढ़ककर 35,498.44 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 83.45 अंक की गिरावट में 10,640.95 अंक पर बंद हुआ।

 Sharesee more..
सर्राफा बाजार बंद

सर्राफा बाजार बंद

18 Feb 2019 | 3:58 PM

नयी दिल्ली 18 फरवरी (वार्ता) अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ (कैट) के आह्वान पर दिल्ली सर्राफा बाजार में सोमवार को कारोबार बंद रहा। कैट ने पुलवामा आतंकी घटना में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए आज देशव्यापी व्यापार बंद का आह्वान किया है।

 Sharesee more..
image