Sunday, Feb 17 2019 | Time 14:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मुस्लिम फ्रंट ने की पुलवामा हमले की पुरजोर निंदा
  • सोना 170 रुपये महंगा; चांदी स्थिर
  • शंकराचार्य ने अयोध्या के लिए 'रामाग्रह यात्रा' स्थगित की
  • कृषि के क्षेत्र में देश का नेतृत्व करे हरियाणा:कोविंद
  • अफगानिस्तान में बम विस्फोट से तीन लोगों की मौत
  • मोदी ने कहा, जो आग आपके दिल में है, वही आग मेरे दिल में भी
  • कृषि के क्षेत्र में देश का नेतृत्व करे हरियाणा:कोविंद
  • उत्तर प्रदेश में 107 वरिष्ठ पीसीएस अधिकारियों का तबादला
  • जम्मू में कर्फ्यू तीसरे दिन भी जारी, स्थिति सामान्य
  • आगरा- सड़क दुर्घटना में तीन महिलाओं और बच्चे सहित पांच लोगों की मृत्यु
  • श्रीनगर समेत घाटी के अन्य हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट पर रोक
  • व्यापारी करेंगे चीनी वस्तुुओं का बहिष्कार
  • न्यायाधीशों, सेवानिवृत्त न्यायाधीशों के लिए एयर एंबुलेंस सेवा
  • मोदी ने केसीआर को दी जन्मदिन की बधाई
  • बंगलादेश में आग से नौ लोगों की मौत
भारत Share

कोयला घाटाले में फंसे पसंदीदा उद्योगपतियों को बचा रही है सरकार : कांग्रेस

कोयला घाटाले में फंसे पसंदीदा उद्योगपतियों को बचा रही है सरकार : कांग्रेस

नयी दिल्ली 03 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि कोयला आयात में 29 हजार करोड़ रुपए का घोटाला हुआ है जिसमें उद्योगपति गौतम अडानी तथा अनिल अम्बानी की कंपनियों समेत 40 कंपनियां शामिल हैं और मोदी सरकार इन्हें बचाने का प्रयास कर रही है, कांग्रेस ने इसके लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित करने और निर्धारित समय में इसकी जांच कराने की मांग की है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने सोमवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह मामला सामने आने के बाद राजस्व सतर्कता निदेशालय (डीआरआई) ने अक्टूबर 2014 में इसकी जानकारी दी और फिर इसकी जांच करते हुए 31 मार्च 2016 को बताया कि घोटाले में 40 कंपनियां शामिल हैं। उन्होंने कहा कि काेयला आयात का 70 प्रतिशत जिम्मा अडानी समूह की कंपनी को मिला था।

उन्होंने कहा कि जांच का काम सही तरीके से आगे बढ़े, इसके लिए राजस्व सचिव हंसमुख अधिया ने स्टेट बैंक आफ इंडिया की तत्कालीन अध्यक्ष अरुणधति भट्टाचर्या को पत्र लिखकर इस करार संबंधी कुछ जरूरी दस्तावेज की मांग की लेकिन बैंक के अध्यक्ष ने 20 मई 2016 को यह कहते हुए दस्तावेज देने से इनकार कर दिया कि सिंगापुर से काेयला आयात हुआ है और वहां के कानून के अनुसार बैंक संबंधी दस्तावेज देने की इजाजत नहीं है।

प्रवक्ता ने कहा कि सितम्बर 2017 में दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की गयी जिसमें आरोप लगाया गया कि इस मामले की जांच सही नहीं चल रही है। याचिका में न्यायालय से मामले की जांच को निष्पक्ष और सही तरीके से पूरा करने के लिए एसआईटी के गठन की मांग की गयी लेकिन डीआरआई ने एसआईटी की जांच की मांग को ठुकरा दिया।

अभिनव.श्रवण

जारी वार्ता

More News
व्यापारी करेंगे चीनी वस्तुुओं का बहिष्कार

व्यापारी करेंगे चीनी वस्तुुओं का बहिष्कार

17 Feb 2019 | 2:50 PM

नयी दिल्ली, 17 फरवरी (वार्ता) अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ ने पुलवामा आतंकवादी हमले का विरोध करते हुए चीन में निर्मित वस्तुओं का बहिष्कार करने का फैसला किया है।

 Sharesee more..
मोदी ने केसीआर को दी जन्मदिन की बधाई

मोदी ने केसीआर को दी जन्मदिन की बधाई

17 Feb 2019 | 2:34 PM

नयी दिल्ली 17 फरवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव को उनके जन्मदिन की बधाई देते हुए उनकी दीर्घायु और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की।

 Sharesee more..

माकपा ने की कश्मीरियों पर हमले की निंदा

17 Feb 2019 | 2:03 PM

 Sharesee more..
राष्ट्रीय जनजाति आयोग के 15 वें स्थापना दिवस में नायडु करेंगे शिरकत

राष्ट्रीय जनजाति आयोग के 15 वें स्थापना दिवस में नायडु करेंगे शिरकत

17 Feb 2019 | 1:25 PM

नयी दिल्ली 17 फरवरी (वार्ता) उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडु मंगलवार को राष्ट्रीय जनजाति आयोग (एनसीएसटी)के 15 वें स्थापना दिवस समारोह का उद्घाटन करेंगे।

 Sharesee more..
image