Wednesday, Jul 17 2019 | Time 09:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अफगानिस्तान में हथियारों का जखीरा बरामद
  • पेरू के पूर्व राष्ट्रपति टोलेडो गिरफ्तार
  • लखनऊ में संदिग्ध हालत में निजी अस्पताल के प्रबंधक की मृत्यु
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 18 जुलाई)
  • लखनऊ में पिता ने जमीन पर पटककर कर दी आठ माह के पुत्र की हत्या
  • 100 से अधिक एफ-35 लड़ाकू विमान नहीं खरीद सकता तुर्की : ट्रम्प
  • मिसाइल कार्यक्रम पर नहीं होगी कोई बातचीत: ईरान
  • नोट्रे डेम कैथेड्रल के पुनर्निर्माण पर फ्रांस की संसद ने पारित किया बिल
  • अमेरिका बिना किसी पूर्व शर्त के ईरान से बातचीत के लिए तैयार : ओर्टागुस
  • ईरानी तेल टैंकर को हिरासत में लेने पर खेमनेई ने की ब्रिटेन की आलोचना
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


ओवरलोडिंग रोकने के लिए 500 बसें चलाएगी सरकारः गोबिंद

ओवरलोडिंग रोकने के लिए 500 बसें चलाएगी सरकारः गोबिंद

शिमला, 12 जुलाई (वार्ता) हिमाचल के परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने कहा है कि हिमाचल पथ परिवहन निगम (एचआरटीसी) की स्थिति सुधारने के लिए प्रदेश सरकार हरसम्भव प्रयास कर रही है ।



श्री ठाकुर ने आज यहां निगम के निदेशक मंडल की बैठक की अध्यक्षता करने के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि सरकार ने प्रदेश के बस अड्डों के रख रखाव पर 82.3 करोड़ खर्च किए गए है और नए बस अड्डों का आधुनिक तकनीक से निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में बसों में ओवरलोडिंग न हो इसके लिए 500 बसों की अतिरिक्त व्यवस्था की जाएगी। साथ ही नए रुट भी खोले जाएंगे।



एक सवाल पर उन्होंने कहा कि राज्य में जवाहर लाल नेहरू शहरी नवीनीकरण मिशल की 325 बसेंं खड़ी है। अदालत के इन बसों को चलाने का आदेश आने के बाद इनमें से 225 बसें चला दी गई हैं। शेष बसें आकार में लम्बी हैं साथ निगम में चालकों की भी कमी है। जिसकी वजह से ये बसें खड़ी हैं। जल्द ही 519 चालकों की भर्ती प्रक्रिया पूरी की जाएगी। इसी तरह 500 परिचालकों की भर्ती भी की जाएगी।



श्री ठाकुर ने कहा कि बस अड्डों पर शौचालयों की व्यवस्था और साफ सफाई का ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि साफ सफाई का काम निजी हाथों में दिया जाएगा जिसके लिये आठ करोड़ रूपये निर्धारित किये गये हैं। चार बस अड्डों शिमला, पालमपुर, हमीरपुर और मनाली में महिलाओं के लिए सेनेटरी नैपकिन मशीन स्थापित की गई हैं।



उन्होंने कहा कि बंजार बस हादसे की जांच रिपोर्ट आ गई है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिस जगह बस गिरी वहाँ पर पेराफीट नहीं था जबकि आसपास पेराफीट थे ऐसे में पीडब्ल्यूडी से भी जबाब तलब किया गया। उन्होंने बताया कि झंझीडी बस हादसे की न्यायिक जांच की जा रही है। रिपोर्ट आने पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

रमेश2045वार्ता

image