Friday, Apr 19 2024 | Time 23:28 Hrs(IST)
image
राज्य


गुजरात के लाखों परिवारों के घरों में लापसी बनाकर हो रहा गृह प्रवेश: पटेल

गुजरात के लाखों परिवारों के घरों में लापसी बनाकर हो रहा गृह प्रवेश: पटेल

पालनपुर, 10 फरवरी (वार्ता) गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने शनिवार को कहा कि आज राज्य के लाखों परिवारों के घरों में लापसी (गुजराती मिठाई) बनाकर अपने गृह प्रवेश का उत्सव मना रहे हैं।

श्री पटेल ने आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की आभासी उपस्थिति में समग्र राज्य में 2,993 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित कुल 1,31,454 आवासों का ई-लोकार्पण और शिलान्यास अवसर पर कहा कि इस ऐतिहासिक आयोजन के प्रेरणा स्त्रोत श्री मोदी हैं।

उन्होंने अयोध्या महोत्सव को याद करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने भगवान श्रीराम की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा कर नया इतिहास रचा और देश को विश्व में प्रतिष्ठा भी दिलाई है। उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री ने गरीबों और वंचित लोगों की चिंता की है और अंतिम छोर पर रहने वाले लोगों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाकर वर्तमान युग में राम राज्य की अवधारणा स्थापित की है। उन्होंने तुलसीदासजी के ‘निर्बल के बल राम’ की उक्ति को साकार करने का काम किया है।

सरकार देश के गरीबों और वंचित लोगों तक आवास, आहार और स्वास्थ्य प्रदान करके देश में सही अर्थ में सुराज्य स्थापित करने के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय बजट में ग्रामीण क्षेत्रों में दो करोड़ नई आवास इकाइयों के निर्माण का प्रावधान किया गया है।

मुख्यमंत्री ने राज्य में आवास निर्माण की चर्चा करते हुए कहा कि राज्य में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 13.42 लाख से अधिक आवास इकाइयों का निर्माण किया गया है। उन्होंने आवास योजना के लाभार्थियों को बधाई और कहा कि प्रधानमंत्री के विज़न के अनुसार सरकार महिलाओं, गरीबों, अन्नदाताओं, किसानों और युवाओं के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। हम अमृत काल में प्रवेश कर रहे हैं तो गुजरात प्रधानमंत्री के विकसित भारत के संकल्प को साकार करने के लिए प्रतिबद्ध है। गुजरात ने अपना विज़न डॉक्यूमेंट भी तैयार किया है। राज्य में ‘सबका साथ, सबका विकास’ की कार्य संस्कृति के परिणाम स्वरूप आज विकास का फल अंतिम छोर पर स्थित लोगों तक पहुंचा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार राम राज्य की संकल्पना को साकार करने के लिए प्रतिबद्ध है।

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष शंकर चौधरी ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज का दिन बनासवासियों के लिए गौरव का दिन है। आज प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने बनास की धरती से लाखों गरीब लोगों के लिए आवास का ई-लोकार्पण किया है। प्रधानमंत्री की अनेक जनोन्मुखी योजनाओं का लाभ आज नागरिकों को मिल रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना से कई गरीब लोग झुग्गी- झोपड़ियों से निकालकर पक्के मकानों में रहने लगे है। जिसके कारण लोगों की जीवनशैली बदली है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के दृढ़ संकल्प के कारण आज गरीबों का पक्के मकान का सपना भी साकार हो रहा है। जिससे सामाजिक उत्थान हो रहा है। श्री मोदी का आशीर्वाद सदैव बनास की धरती पर रहा है। उन्होंने नर्मदा जल से लेकर बनास की धरती को अनेक लाभ दिए हैं। आज मुख्यमंत्री भी राज्य के विकास के लिए लगातार काम कर रहे हैं। हाल ही में उन्होंने करमावत झील में पानी की योजना को मंजूरी दी है, जो बनास के लिए नई बड़ी भेंट है।

इस अवसर पर श्री मोदी ने मोरबी ज़िले के नाना खिजड़िया, राजकोट, वापी और बनासकांठा ज़िले के कुंभारिया और जलोत्रा गांवों के लाभार्थियों के साथ वर्चुअल संवाद किया। लाभार्थियों ने अपने सपनों का घर प्राप्त करने के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया। इसके उपरांत लाभार्थियों ने अपना घर मिलने के बाद जीवन निर्वाह में आए परिवर्तन के विषय में भी बात की। प्रधानमंत्री आवास योजना की लाभार्थी बहनों ने सरकार की विभिन्न योजनाओं से अपने जीवन और परिवार में हुई उन्नति के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।

कार्यक्रम के आरंभ में डीसा के विधायक प्रवीणभाई माली ने स्वागत उद्बोधन दिया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल ने ‘सेल्फी विद मोदीजी’ रथ का प्रस्थान कराया। बनासकांठा ज़िले के ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ के 2,95,000 लाभार्थियों द्वारा प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए लिखे गए पोस्टकार्ड जिला कलेक्टर ने मुख्यमंत्री को सौंपें।

इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री हरिभाई चौधरी, पूर्व मंत्री कीर्तिसिंह वाघेला, पूर्व मंत्री हरजीवनभाई पटेल, स्थानीय विधायक केशाजी चौहान, अनिकेतभाई ठाकर, मावजीभाई देसाई, राजनीतिक अग्रणी जयंतीभाई कवाडिया, मुख्य सचिव राज कुमार, ग्राम विकास आयुक्त श्रीमती मनीषा चंद्रा, शहरी विकास एवं गृह निर्माण सचिव आर.जी. गोहिल, कलेक्टर वरुणकुमार बरनवाल, ज़िला विकास अधिकारी एम.जे. दवे, पुलिस अधीक्षक अक्षयराज मकवाणा सहित अधिकारी-कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित रहे।

अनिल, संतोष

वार्ता

image