Thursday, Jul 25 2024 | Time 17:33 Hrs(IST)
image
राज्य


गुजरात सरकार और धोलकिया फाउंडेशन ने गागड़िया नदी को पानी से लबालब कर दिया है: पटेल

गुजरात सरकार और धोलकिया फाउंडेशन ने गागड़िया नदी को पानी से लबालब कर दिया है: पटेल

गांधीनगर, 16 नवंबर (वार्ता) गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने गुरुवार को अमरेली जिले की लाठी तहसील के दुधाला गांव में राज्य के पहले 10 दिवसीय ‘जल उत्सव 2023’ के उद्घाटन अवसर पर कहा कि सौराष्ट्र में लगभग हर किसी ने पानी की समस्या को देखा है। लेकिन आज राज्य सरकार और धोलकिया फाउंडेशन द्वारा किए गए सुंदर आयोजन से इस लवणीय क्षेत्र में गागड़िया नदी को पानी से लबालब कर दिया गया है।

श्री पटेल ने कहा कि दूरदर्शी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन का सर्वाधिक लाभ गुजरात को हुआ है। उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद नर्मदा के पानी का ऐसा उपयोग हुआ है कि गुजरात हरा-भरा बन गया है। उसके बाद राज्य में 24 घंटे बिजली की व्यवस्था की गई। सेवा और सुशासन ही उनका कार्यमंत्र रहा है।

उन्होंने गुजरात में स्वास्थ्य, आधारभूत सुविधाओं और आर्थिक क्षेत्र में हुए विकास की जानकारी देते हुए कहा कि 2006 में कच्छ के धोरडो में रणोत्सव की शुरुआत के दौरान श्री मोदी ने कहा था कि देश और दुनिया के लोग यहां आएंगे। हाल ही में विश्व पर्यटन संगठन ने धोरडो को ‘श्रेष्ठ पर्यटन गांव’ घोषित किया है। अब दुधाला में भी जल उत्सव का आयोजन शुरू हो गया है। ऐसे में यहां भी प्रकृति का सामीप्य पाने के लिए बड़ी संख्या में लोग आएंगे।

वर्ष 2047 तक भारत को विकसित बनाने के संकल्प के साथ प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत को विकसित बनाने के लिए गुजरात को विकसित बनाना होगा। इसके लिए, इस यात्रा में समाज की अंतिम पायदान पर खड़े पात्र लोगों तक सभी सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने यानी संतृप्ति सुनिश्चित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हाशिए पर खड़े व्यक्ति को मुख्यधारा में शामिल करेंगे, तभी गुजरात विकसित बनेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार के प्रयासों के कारण आज लोगों को पानी मिलने लगा है। लेकिन भविष्य में पानी की समस्या पैदा न हो, इसके लिए प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जल संग्रहण पर जोर देते हुए प्रत्येक जिले में 75 अमृत सरोवर बनाने की योजना क्रियान्वित की है, जिसे गुजरात सरकार ने साकार किया है। जल संचयन और जल संरक्षण के साथ जल जतन के लिए उनके ‘पानी का उपयोग प्रसाद की तरह करने’ के आग्रह का उल्लेख करते हुए उन्होंने लोगों से पानी के विवेकपूर्ण उपयोग की भी अपील की।

अनिल, अशोक

जारी वार्ता

More News
सांसद कंगना रनौत को हिमाचल हाईकोर्ट का नोटिस

सांसद कंगना रनौत को हिमाचल हाईकोर्ट का नोटिस

25 Jul 2024 | 5:22 PM

शिमला, 25 जुलाई (वार्ता) हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने मंडी लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद कंगना रनौत के चुनावी जीत को चुनौती देने वाली याचिका पर उन्हें गुरुवार को नोटिस जारी किया। न्यायालय ने प्रतिवादी सुश्री रनौत को 21 अगस्त तक याचिका का जवाब देने के आदेश जारी किए।

see more..
image