Monday, Sep 24 2018 | Time 17:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दुष्कर्म के आरोपी को 12 वर्ष कारावास की सजा
  • ट्रेन यात्री से करीब दो किलोग्राम सोना बरामद
  • अल्पेश ठाकोर ने भाजपा में शामिल होने की अटकलों को खारिज किया
  • कच्चे तेल की आग में झुलसा रुपया, 43 पैसे कमजोर
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • शरद ने भी की जेपीसी से राफेल सौदे की जांच की मांग
  • कठुआ में बाढ़ में फंसे लगभग 10 लोगों को बचाया
  • राजधानी की बारिश में धुले विजय हजारे के तीन मैच
  • राफेल मामले में बेवजह हल्ला मचा रहा है विपक्ष : राजनाथ
  • गुड़ और चुनिंदा खाद्य तेल महंगे;चीनी लुढ़की;दालों में घटबढ़
  • ऑडिट रिपोर्ट और आयकर रिटर्न भरने की तिथि बढ़ी
  • पूर्व मेयर की हत्या के विरोध में मुजफ्फरपुर में प्रदर्शन
  • जेमिमा-अनुजा के अर्धशतक, भारत ने जीती सीरीज
  • गणपति विसर्जन के समय 16 श्रद्धालुओं की मौत
  • सपाक्स का आंदोलन भाजपा प्रायोजित - दिग्विजय
खेल Share

आईओए के फैसले के खिलाफ हैंडबाल फेडरेशन अदालत की चौखट पर

आईओए के फैसले के खिलाफ हैंडबाल फेडरेशन अदालत की चौखट पर

लखनऊ, 13 जुलाई (वार्ता) इंडोनेशिया में 18 अगस्त से शुरू होने वाले 18वें एशियाई खेलों में हैंडबाल टीम को नहीं भेजने के भारतीय ओलपिंक संघ (आईओए) के फैसले के खिलाफ हैंडबाल फेडरेशन ने अदालत का दरवाजा खटखटाया है।

फेडरेशन के अध्यक्ष एन एन पांडेय ने शुक्रवार को यूनीवार्ता से कहा, “भारतीय हैंडबाल टीम को ऐन वक्त पर एशियाई खेलों में नहीं भेजने का फैसला अचरज भरा और दुर्भाग्यपूर्ण है। हमने इस बेतुके फैसले के खिलाफ इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ खंडपीठ में याचिका दायर की है जिसकी सुनवाई की तारीख 16 जुलाई नियत की गयी है। फेडरेशन को उम्मीद है कि फैसला हमारे पक्ष में होगा। ”

पांडेय ने कहा कि टीम ने एशियाई खेलों के लिये क्वालीफाई किया है। भारतीय खेल प्राधिकरण ने खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के लिये बाकायदा शिविर का आयोजन किया। खिलाड़ियों ने पूरी शिद्दत और मेहनत के साथ अपने प्रदर्शन में सुधार किया। इस तैयारी में सरकार का पैसा और खिलाड़ियों की मेहनत शामिल है। ऐसे में अगर टीम को नहीं भेजा गया तो इससे खेल का नुकसान होगा और खिलाड़ियों का मनोबल गिरेगा।

आईओए के साथ मतभेदों पर साफ तौर पर कुछ भी कहने से इंकार करते हुये उन्होंने कहा कि अगर किसी बात पर दो संस्थाओं के बीच असहमति होती भी है तो इससे अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के लिये जाने वाले फैसलों पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ना चाहिये। एशियन गेम्स में खिलाड़ी भले ही पदक न हासिल कर सके मगर इस प्रतियोगिता से उन्हें भरपूर अनुभव मिलेगा जिसका फायदा भविष्य के प्रदर्शन पर देखने को मिलेगा।

गौरतलब है कि 18वें एशियाई खेल इंडोनेशिया की राजधानी जर्काता और पालेमबांग में खेले जायेंगे। दाे सितम्बर तक चलने वाली प्रतियोगिता में 45 देश हिस्सा लेंगे जिसमे 40 खेलों की 462 र्स्पधायें आयोजित होंगी।

More News
टीम इंडिया के पास बेंच आजमाने का मौका

टीम इंडिया के पास बेंच आजमाने का मौका

24 Sep 2018 | 5:03 PM

दुबई, 24 सितम्बर (वार्ता) भारत ने लगातार जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बना ली है और अब उसके पास अफगानिस्तान के खिलाफ मंगलवार को होने वाले अपने अंतिम सुपर-4 मुकाबले में अपनी बेंच को आजमाने का अच्छा मौका होगा।

 Sharesee more..

24 Sep 2018 | 4:53 PM

 Sharesee more..

24 Sep 2018 | 4:10 PM

 Sharesee more..
image