Thursday, Sep 20 2018 | Time 17:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राफेल पर एचएएल के पूर्व प्रमुख का बयान सही नहीं
  • कुमारस्वामी को मेरे बारे में बात करने का नैतिक अधिकार नहीं: येद्दियुरप्पा
  • जेट के विमान में बीमार पड़े सभी यात्रियों को अस्पताल से छुट्टी
  • प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार
  • झूठ बोलने वाले ‘मसखरा राजकुमार’ हैं राहुल : जेटली
  • हरियाणा में गांवों को साफ-स्वच्छ बनाने के लिये चलेगा अभियान
  • फिलीपींस में भूस्खलन:12 की मौत, कई मलबे में फंसे
  • फोटाे कैप्शन-पहला सेट
  • खेल मंत्री से न्याय नहीं मिला तो अदालत जाऊंगा: बजरंग
  • खेल मंत्री से न्याय नहीं मिला तो अदालत जाऊंगा: बजरंग
  • गुजरात सरकार ने किसान दुर्घटना बीमा योजना के तहत राशि को दोगुना किया
  • चुनिंदा दालों में नरमी;सोया तेलों में तेजी
  • कठिन फैसले लेती रहेगी सरकार : मोदी
राज्य Share

अनशन के 14 वें दिन हार्दिक अस्पताल में भर्ती

अनशन के 14 वें दिन हार्दिक अस्पताल में भर्ती

अहमदाबाद, 07 सितंबर (वार्ता) पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के नेता हार्दिक पटेल का गत 25 अगस्त से शुरू हुआ अनशन आज 14 वें दिन भी जारी रहा हालांकि तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

पास के प्रवक्ता मनोज पनारा ने बताया कि हार्दिक की तबीयत बिगड़ने तथा सांस लेने में तकलीफ के चलते सोला सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने हालांकि कहा कि अभी उनका अनशन समाप्त नहीं हुआ है।

पूर्व में उनके कार्यक्रमों के बाद हिंसा के चलते सरकार से बाहर अनशन की अनुमति नहीं मिलने पर हार्दिक ने गत 25 अगस्त से यहां ग्रीनवुड रिसार्ट स्थित अपने आवास पर ही अनशन शुरू कर दिया था। सरकार की ओर से बातचीत की पहल नहीं होने से नाराज होकर कल शाम से पानी पीना भी बंद कर दिया था। उन्हें मनाने तथा अनशन समाप्त करने का प्रयास करने के लिए पाटीदारों की लेवुआ उपजाति (हार्दिक स्वयं कड़वा उपजाति के हैं) की शीर्ष धार्मिक संस्था खोडलधाम ट्रस्ट के चेयरमैन नरेश पटेल ने राजकोट से यहां आकर आज उनसे मुलाकात भी की।

बाद में उन्होंने कहा कि हार्दिक ने उनसे कहा है कि उनकी तीनों मांगों , किसानों की रिण माफी, पाटीदार अारक्षण और राजद्रोह के मामले में उनके साथी अल्पेश कथिरिया की जेल से रिहाई को लेकर खोडलधाम तथा उमिया धाम (कड़वा पाटीदारों की शीर्ष धार्मिक संस्था) सरकार से बात करे। उनके लिए तथा पाटीदार समुदाय के लिए 14 दिन से उपवास कर रहे तथा पिछले 18 घंटे से पानी छोड़ चुके हार्दिक का स्वास्थ्य सर्वोच्च प्राथमिकता की चीज है। वह चाहते हैं कि वह जितनी जल्दी हो सके और संभव हो तो आज ही वह अपना उपवास समाप्त कर दें। वह एक दो दिन में सरकार से बात करने जायेंगे। वह सरकार पर इस बारे में दबाव भी बनायेंगे। सरकार की ओर से किसी प्रतिनिधि को उनसे बात करने आना चाहिए।

हार्दिक ने इससे पहले गत 30 और 31 जुलाई को पानी का त्याग किया था पर एक सितंबर से फिर से पानी पीना शुरू कर दिया था।

इस बीच, पिछले कुछ दिनों से सरकारी डाक्टरों से जांच में पूरा सहयोग नहीं करने वाले हार्दिक के कल शाम के मूत्र के नमूने में एसीटोन की मात्रा बढ़ने से उन्हें एक बार फिर जल्द से जल्द अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी गयी थी। उनका रक्तचाप और नब्ज आदि हालांकि सामान्य था। उन्होंने वजन कराने से आज भी इंकार कर दिया था तथा आज फिर से रक्त और मूत्र के नमूने जांच के लिए नहीं दिये।थे।

ऐसा अनुमान था कि श्री नरेश पटेल की मध्यस्थता के बाद आज उन्हें यहां सोला सिविल अस्पताल में भर्ती कराया जा सकता है। और ऐसा ही हुआ है। वह पिछले कुछ समय से चक्कर अाने तथा पेट दर्द की भी शिकायत कर रहे थे। डाक्टरों का कहना था कि अस्पताल में ले जाये बिना उनका उचित इलाज संभव नहीं।

रजनीश

वार्ता

More News
कानपुर के निकट हादसे का शिकार होने से बाल बाल बची शताब्दी

कानपुर के निकट हादसे का शिकार होने से बाल बाल बची शताब्दी

20 Sep 2018 | 5:49 PM

कानपुर, 20 सितम्बर (वार्ता) नई दिल्ली से लखनऊ आ रही 2004 शताब्दी एक्सप्रेस गुरुवार को कानपुर सेंट्रल स्टेशन के निकट हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बच गई।

 Sharesee more..
image