Sunday, Nov 18 2018 | Time 03:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सीरियाई शरणार्थियों का राष्ट्रीयकरण स्वीकार नहीं: लेबनान
  • फ्रांस में पेट्रोल, डीजल की मंहगाई को लेकर प्रदर्शन, एक की मौत, 106 घायल
  • 112वें नंबर की टीम जॉर्डन से कड़े संघर्ष में हारा भारत
राज्य Share

हेरीटेज में शामिल होगी बिसाऊ की मूक रामलीला

हेरीटेज में शामिल होगी बिसाऊ की मूक रामलीला

झुंझुनूं07 सितम्बर(वार्ता) राजस्थान में झुंझुनू जिले के बिसाऊ कस्बे की मूक रामलीला 180 साल से जारी है। अपनी बरसों पुरानी परम्पराओं को बरकार रखने के लिए लोगों में किस कदर उत्साह है, इसका जीता-जागता नमूना है मूक रामलीला को दुनिया के मानचित्र में लाने के लिए पूरे कस्बेवासी एकजुट हुए। इसे विरासत गतिविधि (हेरीटेज एक्टिविटी) में शामिल करने के उद्देश्य से बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के सौजन्य से गुरुवार को शाम से देर रात तक इसका विशेष मंचन किया गया।

कलाकारों ने रामलीला के प्रसंगों को एक ही दिन में दिखाकर सांस्कृतिक समृद्धता का परिचय दिया। बिसाऊ में मूक रामलीला का मंचन प्रतिवर्ष अश्विन शुक्ल एकम् से पूर्णिमा तक होता है।आमतौर पर यह रामलीला 15 दिन तक चलती है। लेकिन इसे हेरीटेज एक्टिविटी में शामिल कराने के लिए कल स्थानीय लोग और प्रवासी बंधु मातृभूमि पर पहुंचे।

संबंधित कला एवं संस्कृति मंत्रालय एवं देवस्थान विभाग के अधिकारी कस्बे की अनमोल विरासत को परखने पहुंचे। कस्बे की हेरिटेज सिटी के दावे को परखने और सत्यता जांचने के लिए उच्च स्तरीय टीम भी मौजूद रही। टीम ने बिसाऊ के ऐतिहासिक स्थलों का बारीकी से निरीक्षण किया। बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के पदाधिकारी और सदस्यों ने टीम को विभिन्न स्थलों का दौरा कराने के अलावा ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्ता की जानकारी दी।

इस अवसर पर बांके बिहारी जी मंदिर के पास विशेष मूक रामलीला का मंचन किया गया और एक पखवाड़े तक चलने वाले प्रसंगों को छह घंटे में बखूबी मंचित किया गया। मूक रामलीला के सभी दृश्य कलाकारों ने एक के बाद एक कडिय़ों में मंचित किया। इस अनूठी रामलीला को देखने के लिए दूरदराज से भी लोग आए। प्रत्येक पात्र ने अपनी भूमिका को शानदार ढंग से निभाया। मूक रामलीला के विशेष मंचन में सवा सौ कलाकारों ने भाग लिया। जिनमें सौ से ज्यादा कलाकारों ने मुखौटे पहन रखे थे। इस दौरान रावण के पुतले का भी दहन किया गया एवं रामायण के सभी प्रसंगों का मंचन किया गया। रामलीला मंडल कमेटी के अध्यक्ष महावीर सोती और बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के कमल पोद्दार ने बताया कि मूक रामलीला बिसाऊ सहित समूचे राजस्थान की धरोहर है। इसे दुनिया से रूबरू कराने के लिए एक दिन में रामलीला का विशेष आयोजन किया गया।

कलाकारों के हुनर और स्थानीय लोगों की मेहनत को देखने के लिए इस विशेष रामलीला को देखने देश के विभिन्न प्रांतों और विदेश से भी लोग पहुंचे। इस अवसर पर बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष अरुण बजाज और महासचिव श्याम सुंदर शर्मा सहित अनेक गणमान्य नागरिक मौजद रहे।

More News
अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के पहलवान देने से गोरखपुर का नाम हुआ रोशन:योगी

अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के पहलवान देने से गोरखपुर का नाम हुआ रोशन:योगी

17 Nov 2018 | 11:14 PM

गोरखपुर, 17 नवम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कुश्ती राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय खेल है जो प्राचीन काल से ही गांव में त्यौहरो एवं विशेष अवसरो पर इसके दंगल लगते आए है तथा गोरखपुर ने राष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के पहलवान दिये है जिससे जिले का नाम रोशन हुआ है।

 Sharesee more..

केरल देश का सर्वश्रेष्ठ हनीमून डेस्टिनेशन

17 Nov 2018 | 11:06 PM

 Sharesee more..
सरकार द्वारा शिक्षकों के नियमितिकरण की चुनौती वाली याचिका खारिज

सरकार द्वारा शिक्षकों के नियमितिकरण की चुनौती वाली याचिका खारिज

17 Nov 2018 | 10:44 PM

प्रयागराज,17 नवम्बर (वार्ता) इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने सरकार द्वारा डिग्री कालेजों में मानदेय पर नियुक्त शिक्षकों के नियमितिकरण को लेकर किए गये संशोधन वाली चुनौती याचिका को खारिज कर उनका रास्ता साफ कर दिया है।

 Sharesee more..
भारत का डीएनए है हिंदू, श्री राम ‘राष्ट्रीय भगवान’:स्वामी

भारत का डीएनए है हिंदू, श्री राम ‘राष्ट्रीय भगवान’:स्वामी

17 Nov 2018 | 10:36 PM

वाराणसी, 17 नवंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने शनिवार को कहा कि भारत का ‘डीएनए’ हिंदू है और प्रभु श्रीराम यहां के ‘राष्ट्रीय भगवान’, अयोध्या में उनके मंदिर निर्माण को देश की कोई भी ताकत नहीं रोक सकती।

 Sharesee more..
image