Thursday, Feb 21 2019 | Time 14:10 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • रुपये की संदर्भ दर
  • बंगलादेश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने जताया ढाका अग्निकांड पर शोक
  • चेन्नई तिलहन के भाव
  • चेन्नई सर्राफा के शुरुआती भाव
  • राष्ट्रीय-मोदी सौगात तीन अंतिम गोरखपुर
  • राष्ट्रीय-मोदी सौगात दो गोरखपुर
  • जूली बिशप ने की राजनीति से संन्यास लेने की घोषणा
  • गोरखपुर को 24 फरवरी को 9000 करोड़ की सौगात देंगे मोदी
  • जाने-माने फिल्मकार राजकुमार बड़जात्या का निधन
  • जाने-माने फिल्मकार राजकुमार बड़जात्या का निधन
  • फिल्मकार राजकुमार बड़जात्या का निधन
  • दक्षिण कोरिया भारत के लिए एक रोल मॉडल: मोदी
  • एक परिवार के चार सदस्य जिंदा जले
  • अल अजीजिया मामले में नवाज की सजा पर फैसला सुरक्षित
  • वेनेजुएला ने पड़ोसी द्वीपों के साथ सीमाएं बंद की
राज्य Share

हेरीटेज में शामिल होगी बिसाऊ की मूक रामलीला

हेरीटेज में शामिल होगी बिसाऊ की मूक रामलीला

झुंझुनूं07 सितम्बर(वार्ता) राजस्थान में झुंझुनू जिले के बिसाऊ कस्बे की मूक रामलीला 180 साल से जारी है। अपनी बरसों पुरानी परम्पराओं को बरकार रखने के लिए लोगों में किस कदर उत्साह है, इसका जीता-जागता नमूना है मूक रामलीला को दुनिया के मानचित्र में लाने के लिए पूरे कस्बेवासी एकजुट हुए। इसे विरासत गतिविधि (हेरीटेज एक्टिविटी) में शामिल करने के उद्देश्य से बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के सौजन्य से गुरुवार को शाम से देर रात तक इसका विशेष मंचन किया गया।

कलाकारों ने रामलीला के प्रसंगों को एक ही दिन में दिखाकर सांस्कृतिक समृद्धता का परिचय दिया। बिसाऊ में मूक रामलीला का मंचन प्रतिवर्ष अश्विन शुक्ल एकम् से पूर्णिमा तक होता है।आमतौर पर यह रामलीला 15 दिन तक चलती है। लेकिन इसे हेरीटेज एक्टिविटी में शामिल कराने के लिए कल स्थानीय लोग और प्रवासी बंधु मातृभूमि पर पहुंचे।

संबंधित कला एवं संस्कृति मंत्रालय एवं देवस्थान विभाग के अधिकारी कस्बे की अनमोल विरासत को परखने पहुंचे। कस्बे की हेरिटेज सिटी के दावे को परखने और सत्यता जांचने के लिए उच्च स्तरीय टीम भी मौजूद रही। टीम ने बिसाऊ के ऐतिहासिक स्थलों का बारीकी से निरीक्षण किया। बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के पदाधिकारी और सदस्यों ने टीम को विभिन्न स्थलों का दौरा कराने के अलावा ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्ता की जानकारी दी।

इस अवसर पर बांके बिहारी जी मंदिर के पास विशेष मूक रामलीला का मंचन किया गया और एक पखवाड़े तक चलने वाले प्रसंगों को छह घंटे में बखूबी मंचित किया गया। मूक रामलीला के सभी दृश्य कलाकारों ने एक के बाद एक कडिय़ों में मंचित किया। इस अनूठी रामलीला को देखने के लिए दूरदराज से भी लोग आए। प्रत्येक पात्र ने अपनी भूमिका को शानदार ढंग से निभाया। मूक रामलीला के विशेष मंचन में सवा सौ कलाकारों ने भाग लिया। जिनमें सौ से ज्यादा कलाकारों ने मुखौटे पहन रखे थे। इस दौरान रावण के पुतले का भी दहन किया गया एवं रामायण के सभी प्रसंगों का मंचन किया गया। रामलीला मंडल कमेटी के अध्यक्ष महावीर सोती और बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के कमल पोद्दार ने बताया कि मूक रामलीला बिसाऊ सहित समूचे राजस्थान की धरोहर है। इसे दुनिया से रूबरू कराने के लिए एक दिन में रामलीला का विशेष आयोजन किया गया।

कलाकारों के हुनर और स्थानीय लोगों की मेहनत को देखने के लिए इस विशेष रामलीला को देखने देश के विभिन्न प्रांतों और विदेश से भी लोग पहुंचे। इस अवसर पर बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष अरुण बजाज और महासचिव श्याम सुंदर शर्मा सहित अनेक गणमान्य नागरिक मौजद रहे।

More News
गोरखपुर को 24 फरवरी को 9000 करोड़ की सौगात देंगे मोदी

गोरखपुर को 24 फरवरी को 9000 करोड़ की सौगात देंगे मोदी

21 Feb 2019 | 2:02 PM

गोरखपुर, 21 फरवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 फरवरी को गोरखपुर दौरे में 9325 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे।

 Sharesee more..

राष्ट्रीय-मोदी सौगात तीन अंतिम गोरखपुर

21 Feb 2019 | 2:01 PM

 Sharesee more..

राष्ट्रीय-मोदी सौगात दो गोरखपुर

21 Feb 2019 | 1:53 PM

 Sharesee more..

दुष्कर्म के आरोपी को अदालत ने दी उम्रकैद

21 Feb 2019 | 1:49 PM

 Sharesee more..
image