Wednesday, Sep 26 2018 | Time 16:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विकासशील देशों की मांग से वैश्विक स्तर पर कीमतों में मजबूती
  • महिलाओं के स्वामित्व वाली संपत्तियों पर स्टाम्प ड्यूटी हटाना उत्साहजनक: महबूबा
  • एशियन चैंपिंयस ट्रॉफी में मनप्रीत को कप्तानी
  • राष्ट्रीय डिजिटल संचार नीति 2018 मंजूर
  • सावधान, कांटेक्ट लेंस लगाने से जा सकती है रोशनी
  • निजी फायनांस कंपनी से सात लाख की लूट
  • न्यायालय के निर्णय से आधार की उपयोगिता हुई प्रमाणित: जेटली
  • गांधी जयंती पर वर्धा में होगी कांग्रेस कार्य समिति की बैठक
  • परिवार को खबर नहीं, यशपाल बन गया मिक्स्ड मार्शल का हीरो
  • चीनी मिलों को फिर मिला 5538 रुपये का पैकेज
  • भूमि विवाद में कमी लाने के लिए प्रयास की जरूरत :नीतीश
  • जीएसटीएन पूरी तरह से सरकारी कंपनी होगी
  • सायना और परूपल्ली करेंगे विवाह
  • सायना और परूपल्ली करेंगे विवाह
राज्य Share

हेरीटेज में शामिल होगी बिसाऊ की मूक रामलीला

हेरीटेज में शामिल होगी बिसाऊ की मूक रामलीला

झुंझुनूं07 सितम्बर(वार्ता) राजस्थान में झुंझुनू जिले के बिसाऊ कस्बे की मूक रामलीला 180 साल से जारी है। अपनी बरसों पुरानी परम्पराओं को बरकार रखने के लिए लोगों में किस कदर उत्साह है, इसका जीता-जागता नमूना है मूक रामलीला को दुनिया के मानचित्र में लाने के लिए पूरे कस्बेवासी एकजुट हुए। इसे विरासत गतिविधि (हेरीटेज एक्टिविटी) में शामिल करने के उद्देश्य से बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के सौजन्य से गुरुवार को शाम से देर रात तक इसका विशेष मंचन किया गया।

कलाकारों ने रामलीला के प्रसंगों को एक ही दिन में दिखाकर सांस्कृतिक समृद्धता का परिचय दिया। बिसाऊ में मूक रामलीला का मंचन प्रतिवर्ष अश्विन शुक्ल एकम् से पूर्णिमा तक होता है।आमतौर पर यह रामलीला 15 दिन तक चलती है। लेकिन इसे हेरीटेज एक्टिविटी में शामिल कराने के लिए कल स्थानीय लोग और प्रवासी बंधु मातृभूमि पर पहुंचे।

संबंधित कला एवं संस्कृति मंत्रालय एवं देवस्थान विभाग के अधिकारी कस्बे की अनमोल विरासत को परखने पहुंचे। कस्बे की हेरिटेज सिटी के दावे को परखने और सत्यता जांचने के लिए उच्च स्तरीय टीम भी मौजूद रही। टीम ने बिसाऊ के ऐतिहासिक स्थलों का बारीकी से निरीक्षण किया। बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के पदाधिकारी और सदस्यों ने टीम को विभिन्न स्थलों का दौरा कराने के अलावा ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्ता की जानकारी दी।

इस अवसर पर बांके बिहारी जी मंदिर के पास विशेष मूक रामलीला का मंचन किया गया और एक पखवाड़े तक चलने वाले प्रसंगों को छह घंटे में बखूबी मंचित किया गया। मूक रामलीला के सभी दृश्य कलाकारों ने एक के बाद एक कडिय़ों में मंचित किया। इस अनूठी रामलीला को देखने के लिए दूरदराज से भी लोग आए। प्रत्येक पात्र ने अपनी भूमिका को शानदार ढंग से निभाया। मूक रामलीला के विशेष मंचन में सवा सौ कलाकारों ने भाग लिया। जिनमें सौ से ज्यादा कलाकारों ने मुखौटे पहन रखे थे। इस दौरान रावण के पुतले का भी दहन किया गया एवं रामायण के सभी प्रसंगों का मंचन किया गया। रामलीला मंडल कमेटी के अध्यक्ष महावीर सोती और बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के कमल पोद्दार ने बताया कि मूक रामलीला बिसाऊ सहित समूचे राजस्थान की धरोहर है। इसे दुनिया से रूबरू कराने के लिए एक दिन में रामलीला का विशेष आयोजन किया गया।

कलाकारों के हुनर और स्थानीय लोगों की मेहनत को देखने के लिए इस विशेष रामलीला को देखने देश के विभिन्न प्रांतों और विदेश से भी लोग पहुंचे। इस अवसर पर बिसाऊ वेलफेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष अरुण बजाज और महासचिव श्याम सुंदर शर्मा सहित अनेक गणमान्य नागरिक मौजद रहे।

More News
राहुल कल चित्रकूट में करेंगे मंदिर दर्शन

राहुल कल चित्रकूट में करेंगे मंदिर दर्शन

26 Sep 2018 | 4:16 PM

भोपाल, 26 सितंबर (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कल से मध्यप्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे। इस दौरान राहुल गांधी चित्रकूट में मंदिर दर्शन के लिए भी जाएंगे।

 Sharesee more..

निजी फायनांस कंपनी से सात लाख की लूट

26 Sep 2018 | 4:15 PM

 Sharesee more..
भूमि विवाद में कमी लाने के लिए प्रयास की जरूरत :नीतीश

भूमि विवाद में कमी लाने के लिए प्रयास की जरूरत :नीतीश

26 Sep 2018 | 4:15 PM

पटना 26 सितम्बर (वार्ता) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कहा कि भूमि संबंधी विवादों में कमी लाने के लिये अधिक प्रयास करने की आवश्यकता है।

 Sharesee more..
image