Monday, Jun 17 2019 | Time 10:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पिता शाहरूख के साथ डेब्यू करेंगे आर्यन!
  • पिता शाहरूख के साथ डेब्यू करेंगे आर्यन!
  • फिल्म जगत की ब्यूटी क्वीन थीं नसीम बानो
  • राहुल ने लक्ष्मीबाई को दी श्रद्धांजलि
  • फिल्म जगत की ब्यूटी क्वीन थीं नसीम बानो
  • गुटेरेस ने की केन्या,सोमालिया आतंकी हमलों की निंदा
  • फिल्म जगत की ब्यूटी क्वीन थीं नसीम बानो
  • दक्षिण एशिया में नये आतंकवाद का खतरा : नेपाल
  • ट्रंप ने बस्ती का नाम अपने नाम पर रखने पर नेतन्याहू को दिया धन्यवाद
  • वेनेजुएला में सड़क हादसे में 16 लोगों की मौत
  • हाउती विद्रोहियों का सऊदी हवाई अड्डे पर फिर हमला
  • जापान में 5 2 तीव्रता वाले भूकंप के झटके
  • बागपत पंचायत में फायरिंग,एक की मृत्यु ,तीन घायल
  • बलरामपुर में ट्रैक्टर-ट्राली पलटने से चार लोगों की मृत्यु,19 घायल
  • इजरायल ने गोलन पहाड़ी क्षेत्र में ट्रम्प के नाम पर बस्ती का किया शिलान्यास
राज्य » बिहार / झारखण्ड


आईएएस के. पी. रमैया ने किया आत्मसमर्पण

आईएएस के. पी. रमैया ने किया आत्मसमर्पण

पटना, 08 मई (वार्ता) बिहार महादलित विकाम निगम में हुए करोड़ो रुपये के घोटाला मामले में आरोपित भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी सह निगम के तत्कालीन मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी के. पी. रमैया ने आज पटना की एक विशेष अदालत में आत्मसमपर्ण किया, जहां बाद में उन्हें जमानत पर मुक्त कर दिया गया।

सतर्कता के विशेष प्रभारी न्यायाधीश विपुल सिन्हा की अदालत में आत्मसपर्मण करने के साथ ही एक नियमित याचिका दाखिल कर श्री रमैया को जमानत पर मुक्त किये जाने की प्रार्थना की गयी थी। जमानत अर्जी पर बहस पटना उच्च न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता वाई. वी. गिरि ने की। बहस के दौरान उन्होंने कहा कि निगम में मात्र 38 दिनों का कार्यकाल उनके मुवक्किल का रहा है तथा प्रश्नगत आदेश पूर्व से जारी थे तथा वह पटना उच्च न्यायालय के आदेश से आत्मसमर्पण कर रहे हैं।

निगरानी के विशेष लोक अभियोजक विजय कुमार सिन्हा ने जमानत का विरोध किया। आवेदन पर सुनवाई के बाद विशेष अदालत ने श्री रमैया को बीस हजार रुपये के निजी मुचलके के साथ उसी राशि के दो जमानत दारों का बंध पत्र (बॉन्ड पेपर) दाखिल करने पर जमानत पर मुक्त किये जाने का आदेश दिया।

मामले में पिछले दिनों श्री रमैया समेत छह लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया था। आरोप-पत्र के अनुसार, बिहार महादलित विकास निगम द्वारा इंडस इंगेरेटेड इंफॉर्मेशन मैनेजमेंट लिमिटेड के माध्यम से विभिन्न सरकारी योजनाओं जैसे विकास मित्र, सामुदायिक भवन एवं वर्कशेड निर्माण, दशरथ मांझी कौशल विकास योजना, पोशाक योजना में बिना प्रशिक्षण एवं प्रमाण पत्र जारी किये तथा अतिरिक्त पुस्तकें वितरित कर दो करोड़ रुपये से अधिक की सरकारी राशि का घोटाला किया गया है।

सं.सतीश सूरज

वार्ता

More News
लू लगने से औरंगाबाद, गया और नवादा में 61 लोगों की मौत

लू लगने से औरंगाबाद, गया और नवादा में 61 लोगों की मौत

16 Jun 2019 | 11:03 PM

पटना 16 जून (वार्ता) बिहार में पड़ रही प्रचंड गर्मी में लू लगने के कारण औरंगाबाद, गया और नवाद जिले में अब तक 61 लोगों की मौत हो चुकी है।

see more..
लालजी टंडन ने कबीर जयंती के अवसर पर दी बधाई

लालजी टंडन ने कबीर जयंती के अवसर पर दी बधाई

16 Jun 2019 | 8:25 PM

पटना 16 जून (वार्ता) बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन ने कबीर जयंती के अवसर पर राज्य एवं देश के लोगों को हार्दिक शुभकामनाएं दी है।

see more..
बिहार में एईएस की रोकथाम और इलाज के लिए हरसंभाव सहायता देगा केंद्र : हर्षवर्द्धन

बिहार में एईएस की रोकथाम और इलाज के लिए हरसंभाव सहायता देगा केंद्र : हर्षवर्द्धन

16 Jun 2019 | 8:25 PM

मुजफ्फरपुर 16 जून (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन ने एक्यूट एन्सेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) की रोकथाम और उसके समुचित इलाज के लिए बिहार सरकार को हरसंभव वित्तीय एवं तकनीकी सहायता देने का आश्वासन देते हुये आज कहा कि इस बीमारी से सबसे अधिक प्रभावित जिला मुजफ्फरपुर में इंटर डिसिप्लीनरी रिसर्च सेंटर, वायरोलॉजी रिसर्च इंस्टीच्यूट की स्थापना के अलावा श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एसकेएमसीएच) परिसर में बच्चों के लिए अलग से सौ बेड वाले गहन चिकत्सा कक्ष (आईसीयू) भी बनाये जाएंगे।

see more..
image