Sunday, Feb 25 2024 | Time 07:00 Hrs(IST)
image
बिजनेस


आईसीआईसीआई बैंक का निर्यातकों के लिए डिजिटल सॉल्यूशन

आईसीआईसीआई बैंक का निर्यातकों के लिए डिजिटल सॉल्यूशन

नयी दिल्ली 04 जनवरी (वार्ता) आईसीआईसीआई बैंक ने आज निर्यातकों के लिए एक ही मंच पर बैंकिंग और मूल्य वर्धित सेवाओं के व्यापक सेट के साथ डिजिटल सॉल्यूशन शुरू करने की घोषणा की।

उद्योग में अपनी तरह के इस पहले कदम के तहत निर्यात संबंधी पूरी प्रक्रिया को डिजिटाइज़ किया जाता है, जिसमें निर्यात बाजारों की खोज, निर्यात वित्त, विदेशी मुद्रा सेवाओं से लेकर निर्यात प्रोत्साहन प्राप्त करने तक की प्रक्रिया शामिल है। इस

पहल का उद्देश्य काफी वक्त लेने वाली मैनुअल प्रक्रियाओं को कम करके निर्यातकों की यात्रा को सरल बनाना है, जिससे उनकी परिचालन दक्षता में काफी सुधार हुआ है।

सॉल्यूशंस के तहत इंडस्ट्री में सर्वप्रथम पेश की जाने वाली सुविधाएं भी उपलब्ध हैं, जैसे कि निर्यात पैकिंग क्रेडिट (इंस्टा ईपीसी) और ट्रेड एपीआई का तत्काल वितरण। इंस्टा ईपीसी तुरंत निर्यात वित्त प्रदान करता है, जबकि ट्रेड एपीआई सीधे निर्यातकों के ईआरपी सिस्टम से निर्यात लेनदेन को सुचारू रूप से चलाने में सक्षम बनाता है, जिससे अधिक सुविधा मिलती है।

बैंक के लार्ज क्लाइंट्स ग्रुप के प्रमुख सुमित संघई ने कहा, ‘‘जैसा कि हम जानते हैं, वर्षों से निर्यात भारत के विकास का एक अभिन्न अंग रहा है। वित्त वर्ष 2022 में भारत का कुल निर्यात एक साल पहले की अवधि से 36 फीसदी बढ़कर 670

बिलियन अमरीकी डालर से अधिक हो गया। इसके 2030 तक 2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। आईसीआईसीआई बैंक डिजिटल सॉल्यूशंस के व्यापक सूट के साथ निर्यातकों को सपोर्ट करने का इरादा रखता है। समाधानों का सेट बड़ी, मध्यम और उभरती कंपनियों को अपने निर्यात लेनदेन को कहीं भी और कभी भी ऑनलाइन करने में सक्षम बनाता है। हमारा मानना है कि यह पहल उद्योगों में संपूर्ण निर्यात जीवनचक्र में बेजोड़ दक्षता लाएगी और उनके कारोबार को तेजी से आगे बढ़ाने में मददगार साबित होगी।’’

इसके तहत बैंक के साथ संबंध रखने वाले निर्यातकों को तुरंत और डिजिटल रूप से निर्यात पैकिंग क्रेडिट (ईपीसी) की सुविधा मिलेगी। यह सुविधा निर्यात-आयात लेनदेन के लिए बैंक के प्रमुख डिजिटल प्लेटफॉर्म ट्रेड ऑनलाइन के माध्यम से प्राप्त की जा सकती है। वर्तमान में इंस्टा ईपीसी के लिए कुछ कार्य दिवसों का समय लगता है, अब इसकी तुलना में कुछ ही मिनटों में क्रेडिट का इंस्टेंट डिस्बर्सल संभव हो पाएगा। यह सुविधा निर्यातकों को महत्वपूर्ण लाभ प्रदान करती

है क्योंकि इसके जरिये वे उसी दिन के उपयोग के लिए तत्काल धन हासिल कर सकते हैं, जिससे

उनकी परिचालन दक्षता में वृद्धि होती है। इसके तहत विदेशी मुद्रा खाते अर्थात ‘एक्सचेंज अर्नर्स फॉरेन करेंसी अकाउंट्स’

(ईईएफसी) की सुविधा प्रदान की जाती है। यह एक चालू खाता है जो निर्यातकों को अपनी विदेशी मुद्रा कमाई को स्थानीय मुद्रा में परिवर्तित किए बिना खाते में रखने की अनुमति देता है। खाते की यह सुविधा निर्यातकों को उनकी विदेशी मुद्रा लेनदेन लागत को कम करने में मदद करती है। यह निर्यात और आयात संबंधी लेनदेन के लिए वन ग्लोब ट्रेड अकाउंट (ओजीटीए) जैसे विशेष करंट अकाउंट की भी पेशकश करता है।

·बैंक के डिजिटल समाधान जैसे ई-सॉफ्टेक्स (आईटी/आईटीईएस निर्यातकों की जरूरतों के लिए) और ई-डीओसी ने दस्तावेजों की डिजिटल फाइलिंग, निपटान और निर्यात चालानों के समाधान आदि की पेशकश करके विभिन्न चरणों में निर्यातकों के लिए प्रक्रिया को सरल बनाया है। अभी इसमें कुछ दिनों का समय लगता है, इसकी तुलना में इन लेनदेन के

लिए कम टर्न-अराउंड समय की महत्वपूर्ण सुविधा मिलती है। सरलीकृत डिजिटल समाधान निर्यातकों को अपने निर्यात प्रोत्साहनों का तेजी से दावा करने में सक्षम बनाते हैं। बुकिंग दरों में फ्लेक्सिबिलिटी और पारदर्शिता प्राप्त करने के लिए निर्यातक फोन पर या डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑनलाइन विदेशी मुद्रा सौदे बुक कर सकते हैं।

·निर्यातक ई-एलसी सुविधा का लाभ उठा सकते हैं, जिसके तहत व्यापार शर्तों के सत्यापन के लिए एक डिजिटल रिपॉजिटरी के साथ-साथ वास्तविक समय के आधार पर एलसी उपलब्ध कराती है। बैंक ने दुनिया भर में व्यापार संबंधी दस्तावेजों के शुरू से अंत तक डिजिटल संचलन की सुविधा के लिए प्रमुख ई-बीएल सेवा प्रदाताओं के साथ भागीदारी

की है। इस तरह 8-10 दिनों के मौजूदा समय की तुलना में टर्नअराउंड समय को कम करके कुशल कार्यशील पूंजी का प्रबंध किया जा सकता है।

निर्यातक बैंक के वन-स्टॉप प्लेटफॉर्म ट्रेड इमर्ज से मूल्य वर्धित सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं, जो कंपनियों के लिए विभिन्न बैंकिंग और बैंकिंग सेवाओं से परे एक व्यापक डिजिटल सूट प्रदान करता है। प्लेटफॉर्म विश्वसनीय गठबंधन भागीदारों द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं के माध्यम से व्यापार निगमन, विनियामक दिशानिर्देशों, भागीदार खोज, लॉजिस्टिक्ए और कार्गाे ट्रैकिंग की एंड टू एंड यात्रा की सुविधा प्रदान करता है। बैंक ट्रेड एपीआई की पेशकश करता है, यह इंडस्ट्री का पहला एक फ्यूचर रेडी सॉल्यूशन है, जो निर्यात बिलों के निर्बाध संचालन की सुविधा प्रदान करता है। एपीआई की श्रेणी में रेमिटेंस, लैटर ऑफ क्रेडिट और बैंक गारंटी शामिल है। ट्रेड एपीआई समाधान निर्यातकों को कहीं भी

कभी भी सरलीकृत डू-इट-योरसेल्फ अनुभव प्रदान करता है। एपीआई के साथ, निर्यातक सीधे बैंक के साथ अपने ईआरपी के माध्यम से लेनदेन शुरू कर सकते हैं, जिससे उत्पादकता में वृद्धि होगी।

शेखर

वार्ता

More News
जिंसों में टिकाव

जिंसों में टिकाव

24 Feb 2024 | 7:14 PM

नयी दिल्ली 24 फरवरी (वार्ता) स्थानीय स्तर पर उठाव कमजोर रहने से आज दिल्ली थोक जिंस बाजार में खाद्य तेलों के साथ ही सभी जिंसों में टिकाव रहा।

see more..
पेट्रोल और डीजल की कीमतें यथावत

पेट्रोल और डीजल की कीमतें यथावत

24 Feb 2024 | 7:11 PM

नयी दिल्ली 24 फरवरी (वार्ता) अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट आने के बावजूद घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल के दाम आज यथावत रहे, जिससे दिल्ली में पेट्रोल 96.72 रुपये प्रति लीटर तथा डीजल 89.62 रुपये प्रति लीटर पर पड़े रहे।

see more..
image