Wednesday, Nov 14 2018 | Time 20:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नेहरू स्टेडियम में 18 साल के एथलीट ने की आत्महत्या
  • विकास के मुद्दे पर 2019 का चुनाव लड़ेगी भाजपा: मौर्य
  • उप्र में निवेश की असीम संभावनायें: मुख्य सचिव
  • बागेश्वर में आतंक का पर्याय बना आदमखोर तेंदुआ मारा गया
  • कीटनाशक की गंध से युवती की मौत
  • गुजरात सरकार ने 200 करोड़ से अधिक के विनय शाह घोटाले की जांच के आदेश दिये
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • जूनागढ मेले के लिए चलेंगी अतिरिक्त ट्रेनें
  • हरियाणा रोडवेज की बस ने बच्चे को कुचला,मौत
  • पहली बार जॉर्डन से भिड़ेगा भारत
  • कार चालक ने चलती कार से नर्स को फेंका, नर्स की मौत
  • मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी
  • जूनागढ़ के मेले के दौरान चलेंगी अतिरिक्त ट्रेनें
  • अपने ही कार्यालय के सेवानिवृत्त क्लर्क से रिश्वत मांगने वाला इंजीनियर गिरफ्तार
  • चलती कार से चालक ने नर्स को फेंक की हत्या
राज्य Share

जरूरत पड़ने पर मोदी सरकार को अदालत में करेंगे खड़ा : कांग्रेस

जरूरत पड़ने पर मोदी सरकार को अदालत में करेंगे खड़ा : कांग्रेस

कानपुर, 05 सितम्बर (वार्ता) लोकसभा चुनाव से पहले राफेल विमान सौदे को सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ भुनाने की मुहिम में जुटी कांग्रेस ने बुधवार को उत्तर प्रदेश की औद्योगिक नगरी कानपुर में केन्द्र सरकार को ललकारा और कहा कि देशहित से जुड़े इस मामले को लेकर कांग्रेस अदालत का दरवाजा खटखटा सकती है।

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चर्तुवेदी ने यहां पार्टी के जिला मुख्यालय तिलक हाल में पत्रकारों से कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पूंजीपति मित्र की निजी कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए देश के साथ धोखा किया। वर्ष 2012 में कांग्रेस के नेतृ़त्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार ने वायुसेना की जरूरत के अनुसार 126 विमानों के लिए सौदा किया था जिसके मुताबिक सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी हिन्दुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को टेक्नोलॉजी ट्रान्सफर होनी थी।

उन्होने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने महज 36 विमानों का सौदा किया, वह भी तीन गुना अधिक कीमत में। उनके पास इसके सारे सबूत हैं। इस मामले की जांच संयुक्त संसदीय समिति से कराने की मांग करते हुये उन्होने कहा कि जरूरत पड़ी तो उनकी पार्टी इस मामले को लेकर उच्चतम न्यायालय की शरण लेगी।

राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि यदि सरकार ने कोई घोटाला नहीं किया है तो संयुक्त संसदीय समिति बनाने से क्यों बच रही है। अगले साल कांग्रेस की सरकार आई तो समिति बनाकर जाच कराएंगे। सभी दोषियों को सजा दिलाएंगे। उससे पहले इस मुद्दे को लेकर जनता के बीच जाएंगे और संवाद करेंगे।

उन्होंने कहा कि देश में हुए घोटाले पर जनता को खुलकर विरोध में सामने आना होगा। उनकी पार्टी विपक्ष की भूमिका पूरी जिम्मेदारी से निभा रही है, वह जनता के साथ हर समय खड़ी है। उन्होंने राफेल सौदा मामले को भाजपा सरकार का सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए कहा कि देश के चौकीदार भ्रष्टाचार के भागीदार बन गए हैं।

सं प्रदीप

वार्ता

More News
सशस्त्र सेना का राजनीतिकरण किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण :अमरिंदर

सशस्त्र सेना का राजनीतिकरण किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण :अमरिंदर

14 Nov 2018 | 8:34 PM

चंडीगढ़, 14 नवम्बर (वार्ता ) पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा है कि रक्षा सेनाओं का राजनीतिकरण नहीं किया जाये क्योंकि सशस्त्र सेना रेजिमेंटल प्रमुखों के प्रति जवाबदेह होती है ।

 Sharesee more..

बंंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका खारिज

14 Nov 2018 | 8:25 PM

 Sharesee more..
image