Thursday, Apr 18 2024 | Time 12:40 Hrs(IST)
image
बिजनेस


इफको पुनः दुनिया की शीर्ष 300 सहकारिताओं में पहले स्थान पर

इफको पुनः दुनिया की शीर्ष 300 सहकारिताओं में पहले स्थान पर

नयी दिल्ली, 22 फरवरी (वार्ता) इंडियन फारमर्स फर्टिलाइजर कोआपरेटिव लिमिटेड (इफको) को देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में योगदान के अनुपात के आधार पर पुनः दुनिया की शीर्ष 300 सहकारिताओं में पहला स्थान मिला है। भारत में उर्वरकों का उत्पादन करने वाली सहकारी क्षेत्र की यह विशाल कंपनी कारोबार के हिसाब से दुनिया की 72वीं सबसे बड़ी सहकारी इकाई बन गयी है।

इफको की एक विज्ञप्ति के अनुसार इंटरनेशनल कोआपरेटिव एलायंस (आईसीए) और यूरोपियन रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑन कोऑपरेटिव एंड सोशल एंटरप्राइजेज के तत्वाधान में प्रकाशित वर्ल्ड कोऑपरेटिव मॉनिटर के 2023 संस्करण में इफको को 300 प्रमुख सहकारी संगठनाें की सूची में पुन: पहले स्थान पर रखा गया है। यह रैंकिंग संगठन के देश के प्रति व्यक्ति जीडीपी और उसके कारोबार के अनुपात पर आधारित है। इफको ने कहा है कि यह रैंकिंग दर्शाती हे कि भारत के जीडीपी और आर्थिक वृद्धि में उसका महत्वपूर्ण योगदान है। कुल कारोबार के हिसाब से इफको वैश्विक सूची में पिछले वित्तीय वर्ष के 97वें पायदान से ऊपर उठकर 72वें स्थान पर पहुंच गया है।

इफको के साथ कुल 35,500 सहकारी समितियों जुड़ी हैं, जिनमें 25,000 प्राथमिक कृषि सहकारी समितियां (पैक्स) है। इफको देश भर में 52,400 प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्रों का परिचालन करा रहा है।

देश की इस प्रमुख सहकारी कंपनी ने दुनिया में पहली बार नैनो यूरिया और नैनो डीएपी विकसित किया है। जिससे उर्वरक परिवहन की लागत में भारी बचत के अलावा उर्वरकों के उपयोग में कुशलता आयी है।

इफको जैव-उर्वरक, सागरिका जैसे जैव-उत्तेजक और कृषि-रसायन आदि के छिड़काव के लिए सहायक उपकरण और स्पेयर के साथ 2,500 कृषि ड्रोन खरीद रहा है। इफको ने कहा कि वह 5000 से अधिक ग्रामीण उद्यमियों को प्रशिक्षण देगा और 2500 कृषि ड्रोन का वितरण करेगा।

इफको के प्रबंध निदेशक डॉ. उदय शंकर अवस्थी ने कहा, “यह इफको और भारतीय सहकारिता आंदोलन के लिए गौरव का क्षण है। इफको में, हम किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य रखते हैं, ताकि देश भर के किसानों का विकास सुनिश्चित हो सके और सहकारिता आंदोलन को मजबूत किया जा सके। भारतीय किसानों द्वारा ‘इफको नैनो यूरिया तरल’ का जोरदार स्वागत किया गया है।”

समीक्षा, मनोहर

वार्ता

More News
2024 में कम आर्थिक विकास और व्यापार में गिरावट से विकास होगा प्रभावित: अंकटाड

2024 में कम आर्थिक विकास और व्यापार में गिरावट से विकास होगा प्रभावित: अंकटाड

17 Apr 2024 | 7:02 PM

जिनेवा, 17 अप्रैल (वार्ता) संयुक्त राष्ट्र व्यापार और विकास (अंकटाड) ने गिरते निवेश और कमजोर वैश्विक व्यापार का हवाला देते हुए 2024 में विकास में और गिरावट आने की चेतावनी देते हुये कहा है कि इस वर्ष वैश्विक विकास 2.6 प्रतिशत रहने का अनुमान है जबकि वर्ष 2023 में यह 2.7 प्रतिशत रहा है।

see more..
अंबुजा सीमेंट में अडानी परिवार की हिस्सेदारी हुयी 70.3 प्रतिशत

अंबुजा सीमेंट में अडानी परिवार की हिस्सेदारी हुयी 70.3 प्रतिशत

17 Apr 2024 | 6:57 PM

नयी दिल्ली 17 अप्रैल (वार्ता) अडानी समूह की सीमेंट और निर्माण सामग्री कंपनी अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड में अडानी परिवार ने 8,339 करोड़ रुपये का निवेश करके अपनी हिस्सेदारी को बढ़ाकर 70.3 प्रतिशत करने की आज घोषणा की।

see more..
आईआईएफएल फाइनेंस का राइट्स शेयर निर्गम 30 अप्रैल से

आईआईएफएल फाइनेंस का राइट्स शेयर निर्गम 30 अप्रैल से

17 Apr 2024 | 6:52 PM

नयी दिल्ली, 17 अप्रैल (वार्ता) आईआईएफएल फाइनेंस ने वर्तमान शेयरधारकों के लिए करीब 1272 करोड़ रुपये का राइट्स शेयर निर्गम लाने की बुधवार को घोषणा की। यह निर्गम 30 अप्रैल से 15 मई तक खुला रहेगा।

see more..
महिंद्रा ने पेश की नयी नौ सीटर बोलेरो नियो प्लस

महिंद्रा ने पेश की नयी नौ सीटर बोलेरो नियो प्लस

17 Apr 2024 | 6:48 PM

मुंबई, 17 अप्रैल (वार्ता) देश की प्रमुख वाहन विनिर्माता महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड ने बुधवार को नौ सीटों की क्षमता वाली बोलेरो नियो प्लस 9-सीटर पेश की।

see more..
चालू वर्ष में भारत की विकास दर रहेगी 6.5 प्रतिशत: अंकटाड

चालू वर्ष में भारत की विकास दर रहेगी 6.5 प्रतिशत: अंकटाड

17 Apr 2024 | 6:43 PM

नयी दिल्ली 17 अप्रैल (वार्ता) संयुक्त राष्ट्र व्यापार एवं विकास (अंकटाड) ने अपनी नयी रिपोर्ट में कहा है कि चालू वर्ष में भारत की विकास दर 6.5 प्रतिशत रहने का अनुमान है जबकि वर्ष 2023 में विकास दर 6.7 प्रतिशत रही है।

see more..
image