Monday, Oct 21 2019 | Time 15:39 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ईरान ने अपने टैंकर पर हमले संबंधी दस्तावेज सुरक्षा परिषद में भेजे
  • 2020 टोक्यो ओलंपिक में जगह बनाना है लक्ष्य: सुशीला चानू
  • सीरिया के हालात पर पुतिन और नेतान्याहू ने बातचीत की
  • चुनाव महाराष्ट्र-मतदान प्रतिशत
  • चुनाव महाराष्ट्र-मतदान प्रतिशत
  • डीजीपी ने दी पुलिस के शहीदों को श्रद्धांजलि
  • हरियाणा चुनाव-मतदान 1300बजे दो अंतिम चंडीगढ़
  • हरियाणा विस चुनाव: 1300 बजे तक 35 प्रतिशत से अधिक मतदान
  • 102 वर्षीय बीमार बुजुर्ग ने वोट डाल पेश की नजीर
  • हरियाणा चुनाव-मतदान 1300बजे दो अंतिम चंडीगढ़
  • हरियाणा विस चुनाव: 1300 बजे तक 35 प्रतिशत से अधिक मतदान
  • हर्षवर्धन ने जापान में की साइकिल की सवारी
  • एक बजे तक मंडावा में 41 से एवं खींवसर में 32 प्रतिशत से अधिक मतदान
  • महिला उत्पीड़न के मामलों में दोषियों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई : जगन मोहन
  • रामपुर में फर्जी पोलिंग एजेंट हिरासत में
राज्य » उत्तर प्रदेश


बेहतर बिजली व्यवस्था के लिए की दरों में वृद्धि :रमाशंकर सिंह पटेल

बेहतर बिजली व्यवस्था के लिए की दरों में वृद्धि :रमाशंकर सिंह पटेल

वाराणसी, 12 सितंबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के ऊर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर सिंह पटेल ने गुरुवार को यहां कहा कि बेहतर बिजली व्यवस्था के लिए उसकी दरों में वृद्धि की गई है।

श्री पटेल ने विद्युत विभाग के अधिकारियों के साथ वाराणसी मंडल की विद्युत व्यवस्था की समीक्षा के बाद संवादताओं को संबोधित किया। उन्होंने राज्य में बिजली की दरों में वृद्धि को जायज ठहराते हुए कहा कि जनता बेहतर बिजली व्यवस्था चाहती है। सरकार ने दरों में वृद्धि जनता को अधिक सुविधा देने के उद्देश्य से की है। ज्यादातर लोगों को बिजली की दरों में वृद्धि से कई शिकायत नहीं है।

उन्होंने वाराणसी में बार-बार अघोषित बिजली कटौती के सवाल पर कहा कि यह अस्थायी समस्या मांग एवं आपूर्ति के अलावा आपूर्ति व्यवस्था में खराबी के कारण पिछले दिनों लोगों कुछ परेशानियां हुई थीं, जिसे अब दूर कर लिया गया है। अब ऐसी समस्या नहीं आएगी और पूर्व निर्धारित योजना के तहत गांव, शहर एवं महानगर इलाके में बिजली की आपूर्ति बिना किसी बाधा के 15, 20 और 24 घंटे की जा रही है।

श्री पटेल ने कहा अब शहर से लेकर गांव तक बिजली एक जरूरत बन गई है तथा राज्य सरकार 2022 तक गांवों में भी 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने की दिशा में काम कर रही है।

ऊर्जा राज्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि रात में कटौती बिल्कुल नहीं की जाए। ट्रांसफार्मर 24 से 48 घंटे के बीच में बदले जाएं और उपभोक्ताओं की शिकायत प्राथमिकता के आधार पर हल किये जाएं।

उन्होंने विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता स्तर के अधिकारियों को क्षेत्र में भ्रमण करने एवं एसडीओ, जेई और लाइनमैन के कार्यों पर निगाह रखने के निर्देश दिए हैं। निचले स्तर पर छोटी-छोटी कमियों, खराबी आदि गंभीरता से लेते हुए उसे हल की जाए ताकि जनता के बीच सरकार की अच्छी छवि बनी रहे।

श्री पटेल ने कहा कि किसानों को खेती के उपयोग के लिए दिन में बिजली सप्लाई की व्यवस्था की गई है। इसके लिए अलग किसान फीडर लगाए गए हैं, जिनसे प्रातः पांच बजे से शाम सात बजे तक बिजली आपूर्ति की जाती है। किसान दिन में अपने सिंचाई के कार्य कर सकें और रात में आराम से सो सकें। इसी उद्देश्य से ये व्यवस्था की गई है।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि बिजली के जो भी कार्य पूर्ण हो, उनका स्थानीय सांसद एवं विधायक से उद्घाटन कराएं।

बैठक में विद्युत विभाग की पंडित दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना,सौभाग्य योजना,आईपीडीएस, बिजनेस प्लान आदि की बिंदुवार एवं जिलेवार समीक्षा हुई। समीक्षा के बाद राज्यमंत्री ने संतोष व्यक्त किया।

बीरेंद्र त्यागी

वार्ता

More News
संगठित अपराधों पर नकेल कसने में सरकार सफल: योगी

संगठित अपराधों पर नकेल कसने में सरकार सफल: योगी

21 Oct 2019 | 1:38 PM

लखनऊ 21 अक्टूबर, (वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि पुलिस की हौसलाफजाई और अपराधियों के खिलाफ जीरो टाॅलरेंस नीति के चलते सरकार को संगठित अपराध पर प्रभावी अंकुश पाने में सफलता मिली है।

see more..
image