Sunday, Feb 17 2019 | Time 16:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तुर्की ने चार विदेशी संदिग्धों को हिरासत में लिया
  • मुरादाबाद- कश्मीरी छात्रों के बारे में छानबीन जारी
  • सरकारी चिकित्सा महाविद्यालयों में शिक्षकों के 153 पद भरने के लिए मंत्रिमंडल की स्वीकृति
  • शाह सोमवार को जयपुर आयेंगे
  • संजय तोमर और श्री सीमा बने ‘मैक्स लाइफ इंश्योरेंस - द रन’ के चैंपियन
  • पुल की रेलिंग तोड़ गहरे नाले में गिरी बस, तीन की मौत पचास घायल
  • पुलवामा हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा: नकवी
  • सुरक्षा हमारे लिए कोई मसला नहीं : मीरवाइज
  • पंजाब कांग्रेस भवन में पुलवामा के शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि
  • विश्वेन्द्र ने शहीद के परिजनों को बंधाया ढांढस
  • नारायणस्वामी का धरना पांचवे दिन भी जारी रहा
  • देवरिया में शहीद विजय के घर कल जायेंगे योगी
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • मोदी ने ईमानदारी से चलायी है पांच साल सरकार: नकवी
  • चीन में मकान ढहने से तीन लोगों की मौत, 14 घायल
खेल Share

भारत ने इंचियोन के 11 स्वर्ण की बराबरी की

भारत ने इंचियोन के 11 स्वर्ण की बराबरी की

जकार्ता, 29 अगस्त (वार्ता) भारत ने अपने एथलीटों के दमदार प्रदर्शन की बदौलत 18वें एशियाई खेलों में चार साल पहले के इंचियोन एशियाई खेलों के 11 स्वर्ण की बराबरी कर ली है।

भारत इन एशियाई खेलों में 11 स्वर्ण, 20 रजत और 23 कांस्य सहित कुल 54 पदक जीत चुका है और पिछले खेलों के कुल 57 पदक के प्रदर्शन को पीछे छोड़ने के करीब पहुुंच गया है। भारत का एशियाई खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1951 के पहले एशियाई खेलों में रहा था जब उसने 15 स्वर्ण सहित 51 पदक जीते थे। भारत ने 1962 के जकार्ता खेलों में 12 स्वर्ण सहित 52 पदक जीते थे और 56 साल बाद जकार्ता एक बार फिर भारत के लिए भाग्यशाली साबित हो रहा है।

अरपिंदर सिंह ने 18वें एशियाई खेलों की पुरुष तिहरी कूद स्पर्धा में बुधवार को 16.77 मीटर की छलांग लगाकर स्वर्ण पदक जीता जबकि स्वप्ना बर्मन ने दांत में दर्द होने के बावजूद महिलाओं की हेप्टाथलन स्पर्धा में सोना जीता। दुती चंद ने 200 मीटर में रजत पदक जीतकर 100 और 200 मीटर का सिल्वर डबल पूरा कर लिया। इस प्रदर्शन को आगे बढ़ाते हुए महिला हॉकी टीम ने चीन को 1-0 से हराकर 20 साल बाद फाइनल में प्रवेश कर लिया।

पंजाब के अमृतसर के 25 वर्षीय अरपिंदर ने भारत काे इन खेलों का 10वां स्वर्ण और स्वप्ना ने 11वां स्वर्ण दिलाया। पश्चिम बंगाल की 21 वर्षीय स्वप्ना ने 6026 अंक लेेकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और स्वर्ण पदक जीता।

मुक्केबाज़ अमित पंघल ने पुरूषों के 49 किग्रा लाइट फ्लाईवेट और विकास कृष्णन ने 75 किग्रा मिडलवेट स्पर्धा के अपने अपने मुकाबले जीतकर सेमीफाइनल में प्रवेश करने के साथ ही देश के लिये पदक पक्के कर दिये।

अचंत शरत कमल तथा मणिका बत्रा की मिश्रित युगल टीम ने कांस्य पदक जीता। मिश्रित युगल के सेमीफाइनल में शरत और मणिका की जोड़ी को चीन के चूकिन वांग और यिंगशा सून से 9-11, 5-11, 13-11, 4-11, 8-11 से हारकर कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

 

image