Wednesday, Sep 19 2018 | Time 05:14 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका और पोलैंड करेंगे सैन्य और खुफिया संबंधों को सुदृढ़
  • आईसीसी ने शुरू की म्यांमार से रोहिंग्याओं के पलायन की जांच
  • हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे
  • गाजा में प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी, दो की मौत 46 घायल
  • प्रधानमंत्री से सिक्किम दौरा स्थगित करने की मांग
दुनिया Share

भारत-रवांडा के बीच आठ समझौते, शीघ्र खुलेगा भारतीय उच्चायोग

भारत-रवांडा के बीच आठ समझौते, शीघ्र खुलेगा भारतीय उच्चायोग

किगाली 24 जुलाई (वार्ता) भारत और रवांडा के बीच अहम समझौते पर हस्ताक्षर हुए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस अफ्रीकी देश में शीघ्र ही भारतीय उच्चायोग खोले जाने की घोषणा की है।

श्री मोदी तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा के पहले पड़ाव पर सोमवार शाम यहां पहुंचे और इसके साथ ही रवांडा की यात्रा करने वाले वह पहले भारतीय प्रधानमंत्री बन गये। दोनों देशों ने चमड़ा एवं इससे संबद्ध क्षेत्रों और कृषि अनुसंधान के क्षेत्र में समझौतों पर हस्ताक्षर किये हैं।

दोनों देशों के बीच शिष्ठमंडल स्तर की वार्ता के दौरान भारत ने किगाली में विशेष आर्थिक क्षेत्र और तीन कृषि परियोजनाओं के लिए 20 करोड़ डॉलर ऋण देने की पेशकाश की। भारत कई औद्योगिक पार्क के विकास और रवांडा में किगाली विशेष आर्थिक क्षेत्र (एसईजेड) के लिये 10 करोड़ डॉलर तथा कृषि के लिये 10 करोड़ डॉलर को रवांडा को कर्ज देगा।

श्री मोदी ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए इस किगाली में शीघ्र भारतीय उच्चायोग खोले जाने की घोषण की। उन्होंने कहा कि भारत शीघ्र ही रवांडा में अपना उच्चायोग खोलेगा जिससे न केवल दोनाें देशों के बीच संवाद का रास्ता प्रशस्त होगा बल्कि दोनों देशों की सरकारों को पासपोर्ट और वीजा से संबंधित काम काज करने में भी सुविधा होगी। रवांडा के आर्थिक विकास की यात्रा में उसके साथ कंधा से कंधा मिलाकर खड़ा रहना भारत के लिए गौरव की बात है। इस देश की विकास यात्रा में भारत की मदद कायम रहेगी।

रवांडा के राष्ट्रपति रिपीट राष्ट्रपति पॉल कामगे ने कहा कि श्री मोदी की यात्रा दोनों दशों के बीच संबंधों और सहयोग में मील का पत्थर साबित हुयी है।

आशा आजाद

जारी वार्ता

image