Wednesday, Jul 24 2019 | Time 14:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एनआईए के अधिकार राज्यों के अधिकार में हस्तक्षेप, बनेगा राजनीतिक हथियार : विपक्ष
  • विधानसभा में किशनगढ़ में धर्मांतरण का मामला उठा
  • न्यूजीलैंड से नहीं होगा दुग्ध उत्पादों का आयात: गिरिराज
  • सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं में कमी: सरकार
  • एशेज़ के लिये कोचिंग टीम से जुड़े ट्रेसकोथिक
  • एशेज़ के लिये कोचिंग टीम से जुड़े ट्रेसकोथिक
  • भाजपा ने सत्ता और धनबल का इस्तेमाल करके कर्नाटक में गिरायी सरकार: मायावती
  • अफगानिस्तान में गोलीबारी में चार पुलिसकर्मियों समेत छह मरे
  • विधानसभा में अध्यक्ष एवं भाजपा सदस्यों में गतिरोध समाप्त
  • भाजपा विधायकों ने की विधानसभा अध्यक्ष के इस्तीफे की मांग
  • दो लाख 95 हजार श्रद्धालुओं ने किये बाबा बर्फानी के दर्शन
  • मार्च 2022 तक भारत - पाकिस्तान सीमा पर बाड़ लग जाएगी: सरकार
  • भाजपा कर्नाटक प्रमुख को केन्द्रीय नेतृत्व के निर्देश का इंतजार
  • बाढ़ और सुखाड़ में किसानों की तरह मछली पालकों को भी क्षतिपूर्ति देती है सरकार
  • प्रवासी भारतीयों की 50 हजार से अधिक शिकायतें मिली
खेल


गुमनाम खेलों से चमकी भारत की किस्मत

गुमनाम खेलों से चमकी भारत की किस्मत

नयी दिल्ली, 02 सितंबर (वार्ता) भारत के एशियाई खेलों के इतिहास में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में कई ऐसे गुमनाम खेलों की महत्वपूर्ण भूमिका रही जिनके बारे में अब से पहले चंद ही लोग जानते थे।

इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबंग में रविवार को समाप्त हुये 18वें एशियाई खेलों में भारत ने 15 स्वर्ण, 24 रजत और 30 कांस्य सहित कुल 69 पदक जीतकर पिछले 67 वर्षाें में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन में कुछ ऐसे खेलों की अहम भूमिका रही जिनके बारे में सामान्य ज्ञान की किताबों में भी जानकारी नहीं मिलती है।

इन खेलों से यदि किसी कुराश या सेपकटकरा के बारे में पूछा जाए तो संभवत: वह बगलें झांकता नज़र आयेगा। लेकिन इंडोनेशिया में हुये एशियाई खेलों ने ऐसे अनजान खेलों से अब हर भारतीय को अवगत करा दिया है। कुछ ऐसे खेल थे जिनके नाम तो सुने थे लेकिन उनके बारे में विस्तृत जानकारी नहीं थी। एशियाड के प्रदर्शन से अब ऐसे खेलों के बारे में भी जानकारी सामने आ गयी है।

भारत ने उज्बेकिस्तान के परंपरागत खेल कुराश में एक रजत और एक कांस्य सहित दो पदक हासिल किये जबकि वुशू में भारत को चार कांस्य पदक मिले। पैरों की मदद से गेंद के साथ खेले जाने वाले खेल सेपकटकरा में भारत ने ऐतिहासिक कांस्य हासिल किया।

राज प्रीति

जारी वार्ता

More News
विंडीज़ दौरे की तैयारी में जुटे धवन

विंडीज़ दौरे की तैयारी में जुटे धवन

24 Jul 2019 | 1:46 PM

नयी दिल्ली, 24 जुलाई (वार्ता) आईसीसी विश्वकप से चोट के कारण बाहर हो गये भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज़ शिखर धवन तीन अगस्त से शुरू होने जा रहे वेस्टइंडीज़ दौरे के लिये तैयारियों में जुट गये हैं।

see more..
अहसान मनी दोबारा बने आईसीसी समिति के अध्यक्ष

अहसान मनी दोबारा बने आईसीसी समिति के अध्यक्ष

24 Jul 2019 | 1:26 PM

दुबई, 24 जुलाई (वार्ता) पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष अहसान मनी को 17 वर्ष बाद एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट समिति की वित्तीय एवं वाणिज्य मामलों की समिति का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है।

see more..
केशव दत्ता का सम्मान करेगा मोहन बगान

केशव दत्ता का सम्मान करेगा मोहन बगान

23 Jul 2019 | 10:27 PM

कोलकाता, 23 जुलाई (वार्ता) मशहूर फुटबॉल क्लब मोहन बगान पूर्व हॉकी खिलाड़ी एवं दो बार के ओलंपिक स्वर्ण विजेता टीम के सदस्य रहे केशव चंद्र दत्ता को 29 जुलाई को ‘मोहन बगान रत्न’से सम्मानित करेगा।

see more..
जैसन, स्टोन आयरलैंड के खिलाफ करेंगे टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण

जैसन, स्टोन आयरलैंड के खिलाफ करेंगे टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण

23 Jul 2019 | 10:27 PM

लंदन, 23 जुलाई (वार्ता) इंग्लैंड के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज जैसन रॉय और तेज गेंदबाज ओली स्टोन आयरलैंड के खिलाफ बुधवार से लार्ड्स मैदान पर शुरू हो रहे टेस्ट मैच के दौरान टेस्ट क्रिकेट में अपना अंतरराष्ट्रीय पर्दापण करेंगे।

see more..
मुझे लगा था कि मैं सीमित ओवरों में नहीं खेल पाऊंगा : प्लंकेट

मुझे लगा था कि मैं सीमित ओवरों में नहीं खेल पाऊंगा : प्लंकेट

23 Jul 2019 | 10:27 PM

लंदन, 23 जुलाई (वार्ता) इंग्लैंड के तेज गेंदबाज लियाम प्लंकेट ने स्वीकार किया है कि एक समय उन्हें लगा था कि वह फिर कभी भी सीमित ओवर में नहीं खेल पाएंगे

see more..
image