Saturday, Sep 22 2018 | Time 20:32 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पुन: जारी पंजाब अमरिंदर जीत दो अंतिम चंडीगढ़
  • नांदेड में डेंगू के 144 मरीज पाये गये
  • चर्चा, बहस, असहमति लोकतंत्र के जरूरी पहलू : प्रणव
  • सर्जिकल स्ट्राइक की वर्षगांठ पर ‘पराक्रम पर्व ’
  • कुशासन और घमण्ड से परेशान नेता छोड़ रहे हैं भाजपा-खाचरियावास
  • भारत ने दूसरे दिन जीते एक स्वर्ण और दो रजत
  • साई-भाई गिरोह के खिलाफ मकोका लगाने का आदेश
  • शिव विधायक मानवेन्द्र ने भाजपा छोड़ी
  • पंचायतीराज चुनावों में कांग्रेस की जीत सरकार के कार्यों पर मुहर: कैप्टन
  • तेलंगाना में अक्टूबर में चुनाव प्रचार शुरू करेंगे केेजरीवाल
  • हसन अली, असगर और राशिद पर लगा जुर्माना
  • हसन अली, असगर और राशिद पर लगा जुर्माना
  • मुख्यमंत्री की नलवा विस़ क्षेत्र को 54 54 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात
  • फोटो कैप्शन-दूसरा सेट
भारत Share

भारत-अमेरिका ने अाव्रजन सहित विभिन्न मुद्दों पर की चर्चा

भारत-अमेरिका ने अाव्रजन सहित विभिन्न मुद्दों पर की चर्चा

नयी दिल्ली 06 सितंबर (वार्ता) भारत-अमेरिका के विदेश अौर रक्षा मंत्रियों की ‘टू प्लस टू’ बैठक के पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने आज यहां द्विपक्षीय बैठक में आव्रजन सहित परस्पर हितों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर विचार -विमर्श किया।

श्री पोम्पियो का जवाहरलाल नेहरू भवन पहुंचने पर श्रीमती स्वराज ने स्वागत किया और उसके बाद द्विपक्षीय बैठक शुरू हुई। बैठक में विदेश सचिव विजय गोखले और अमेरिका में भारत के राजदूत नवतेज सरना भी उपस्थित थे।

सूत्रों के अनुसार इस बैठक में भारत द्वारा मुख्य रूप से एच1बी वीसा को लेकर अमेरिकी प्रशासन की नीति और उसे लेकर भारतीय पेशेवरों में चिंता को उठाये जाने की संभावना है। अमेरिका से हालांकि संकेत मिले हैं कि इस नीति में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। लेकिन भारत चाहता है कि इस बारे में इतनी स्पष्टता अवश्य आये कि आगे भी इस नीति को लेकर कोई भ्रम नहीं पैदा हो। सूत्रों के बताया कि अन्य द्विपक्षीय मुद्दों पर भी दोनों पक्षों ने विचार-विमर्श किया।

बैठक के तुरंत बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और अमेरिकी रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस के शामिल होने के साथ टू प्लस टू बैठक शुरू हो जाएगी। बैठक में भारत ,अमेरिका के बीच रक्षा क्षेत्र में उच्च प्रौद्योगिकी वाले नवान्वेषण एवं व्यापार का रास्ता खुलने तथा हिन्द-प्रशांत क्षेत्र को समावेशी, सुरक्षित, शांतिपूर्ण एवं सबके लिए समान रूप से खुला बनाने के नये रोडमैप पर चर्चा होने की संभावना है। भारत हिन्द-प्रशांत क्षेत्र को समावेशी, सुरक्षित, शांतिपूर्ण एवं सबके लिए समान रूप से खुले क्षेत्र के रूप में देखना चाहता है। इसके अलावा आतंकवाद निरोधक कार्रवाई, ऊर्जा सुरक्षा और सामरिक साझीदारी पर बातचीत होने की संभावना है।

More News
उच्च शिक्षा सामग्री भारतीय भाषाओं में हो उपलब्ध: कोविंद

उच्च शिक्षा सामग्री भारतीय भाषाओं में हो उपलब्ध: कोविंद

22 Sep 2018 | 8:00 PM

नयी दिल्ली 22 सितम्बर (वार्ता) राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हिंदी तथा अन्य भारतीय भाषाओं के प्रचार-प्रसार पर जोर देते हुए शनिवार को कहा कि इन सभी भाषाओं में बुनियादी और उच्च शिक्षा से संबंधित सामग्री उपलब्ध कराने के प्रयास किये जाने की आवश्यकता है।

 Sharesee more..
शिक्षकों की गरिमा बहाल हो: राहुल

शिक्षकों की गरिमा बहाल हो: राहुल

22 Sep 2018 | 8:02 PM

नयी दिल्ली 22 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश के उच्च शिक्षण संस्थानों की स्वयात्तता और शिक्षकों की गरिमा बहाल करने का आह्वान किया है।

 Sharesee more..

22 Sep 2018 | 7:46 PM

 Sharesee more..
image