Friday, Jul 19 2019 | Time 22:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • उत्तर कोरिया ने जीता इंटरकांटिनेंटल कप
  • दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी से जुड़ा होने से हम सब सौभाग्यशाली - नड्डा
  • पीडीपी नेता के पीएसओ की गोली मारकर हत्या
  • एटा में पूर्व विधायक के आवास पर फायरिंग, मामला दर्ज
  • भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने जीते राष्ट्रमंडल टेटे खिताब
  • भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने जीते राष्ट्रमंडल टेटे खिताब
  • विश्वास मत पर आज भी नहीं हुआ मतदान, कार्यवाही सोमवार तक स्थगित
  • एसटीएफ ने दो लाख 42 हजार के जाली नोट पकड़े, पांच गिरफ्तार
  • बिहार में विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक वातावरण में हो रहा सुधार : लालजी
  • नवादा में वज्रपात की घटना में आठ बच्चे समेत नौ की मौत, आठ घायल
  • मवेशी चोरी के आरोप में तीन लोगों के हत्या मामले में सात गिरफ्तार
  • डॉल्फिन मारने वाला गिरफ्तार
  • वज्रपात से आठ बच्चों की मौत से लालजी टंडन मर्माहत
  • अरुणाचल प्रदेश में भूकंप के झटके
  • छात्रों और शिक्षकों पर लाठियां बरसाने से बेहतर नहीं होगी शिक्षा : उपेंद्र
बिजनेस


भारतीय विमान कंपनियों को 1.9 अरब डॉलर का घाटा होने का अनुमान

भारतीय विमान कंपनियों को 1.9 अरब डॉलर का घाटा होने का अनुमान

नयी दिल्ली 04 सितंबर (वार्ता) लागत मूल्य में बढोतरी और टिकटों की कीमत में कटौती करने के दबाव में भारतीय विमानन कंपनियों को चालू वित्त वर्ष में करीब 1.9 अरब डॉलर का नुकसान उठाना पड़ सकता है।

विमानन कंपनियों के लिये शोध करने वाली और सलाह सेवा मुहैया करने वाले सेंटर फॉर एशिया फैसिफिक ऐविएशन(इंडिया) कापा इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार उन्हें डॉलर की तुलना में भारतीय मुद्रा की तेज गिरावट और कचचे तेल की कीमतों में रही तेजी के मद्देनजर विमान कंपनियों को होने वाले घाटे का पूर्वानुमान बढाना पड़ा।

रिपोर्ट में कहा गया है कि बढ़ती लागत को देखते हुये टिकटों के दाम नहीं बढाये गये हैं। निजी क्षेत्र की विमान कंपनी इंडिगो के अलावा किसी भी अन्य विमानन कंपनी की बैलेंस शीट उतनी मजबूत नहीं कि वह बढ़ती लागत और कम उत्पादन को झेल पाये। क्षमता में तेज विस्तार के कारण विमान कंपनियां अब टिकट की कीमत तय नहीं कर पातीं। भारत घरेलू विमान क्षेत्र के मामले में दुनिया में सबसे तेजी से उभरता बाजार है, जिसे देखते हुये कंपनियों ने अपने बेड़े में हवाई जहाजों की संख्या बढाने के लिये कई नयी एयरबस अौर बोइंग जेट का ऑर्डर दिया है।

गत चार साल में घरेलू यात्रियों की संख्या दोगुनी से भी अधिक बढ़ी है और विमान के करीब 90 फीसदी सीट भरे होते हैं लेकिन फिर भी विमान सेवा प्रदाता कंपनियों को लाभ में रहने के लिये कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

कापा इंडिया का अनुमान है कि सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया समेत अन्य विमान कंपनियों को अपने बैलेंसशीट में सुधार के लिये तीन अरब डॉलर की अतिरिक्त पूंजी की आवश्यकता होगी। जेट एयरवेज की गत माह की रिपोर्ट के मुताबिक उसे पिछली तिमाही में 13.23 अरब रुपये का घाटा हुआ। इंडिगो ने भी जुलाई में बताया कि उसे पिछली तिमाही में पिछले तीन साल में सबसे कम लाभ हुआ। ईंधन की कीमत में बढोतरी और विनिमय दर घाटे के कारण उसकी आय 97 फीसदी घट गयी।

अर्चना/शेखर

वार्ता

More News
मदर डेयरी 40 रुपये किलो मिलेगा टमाटर

मदर डेयरी 40 रुपये किलो मिलेगा टमाटर

19 Jul 2019 | 7:03 PM

नयी दिल्ली 19 जुलाई (वार्ता) राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में रसोईघर की शान माने जाने वाले टमाटर के मूल्य पर नियंत्रण कें लिए सरकार ने मदर डेयरी को गुणवत्तापूर्ण टमाटर 40 रुपये प्रति किलो की दर से उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।

see more..
रुपया 17 पैसे चढ़ा

रुपया 17 पैसे चढ़ा

19 Jul 2019 | 6:45 PM

मुंबई 19 जुलाई (वार्ता) वैश्विक स्तर पर दुनिया की प्रमुख मुद्राओं के बॉस्केट में डॉलर पर बने दबाव के कारण शुक्रवार को भारतीय मुद्रा 17 पैसे चढ़कर 68.80 रुपये प्रति डाॅलर पर रही।

see more..
image