Thursday, Nov 15 2018 | Time 21:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • मध्यप्रदेश में 2907 प्रत्याशी चुनाव मैदान में
  • स्कूल के शौचालय से युवक का शव बरामद
  • बिहार में सड़क दुर्घटना में आठ लोगों की मौत , सात घायल
  • दहेज हत्या मामले में पति और ससुर को आजीवन कारावास
  • नाबालिग के साथ दुष्कर्म
  • पंसारे हत्या मामले में अमोल आठ दिन की एसआईटी हिरासत में
  • अखाड़ा भवन ध्वस्तीकरण मामले में नगर निगम आयुक्त एवं पुलिस को नोटिस
  • विकास लक्ष्य हासिल नहीं कर सका झारखंड : झाविमो
  • 84 के सिख दंगा पीड़ितों को मुआवजे के भुगतान पर सरकार से जवाब तलब
  • जौनपुर बिजली विभाग के बिल घोटाले की जांच करेंगी एमडी
  • विजयी पदार्पण चाहेंगी मनीषा, दिग्गज सरिता वापसी पर उत्साहित
  • वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में ईको टूरिज्म का शुभारंभ 18 नवंबर को
खेल Share

भारतीय मुक्केबाजों का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का वादा

भारतीय मुक्केबाजों का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का वादा

नयी दिल्ली, 14 अगस्त (वार्ता) भारतीय मुक्केबाजों ने 18 अगस्त से इंडोनेशिया के जकार्ता में होने वाले 18वें एशियाई खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का वादा किया है। भारत ने 2014 में पिछले एशियाई खेलों में एक स्वर्ण और चार कांस्य सहित कुल पांच पदक जीते थे लेकिन मुक्केबाज इस बार इस संख्या से आगे जाने का भरोसा जता रहे हैं।

भारत के 10 मुक्केबाज एशियाई खेलों में हिस्सा लेंगे जिनमें तीन महिला मुक्केबाज शामिल हैं जबकि पिछले खेलों में 13 मुक्केबाजों ने हिस्सा लिया था। भारतीय मुक्केबाजी संघ के अध्यक्ष अजय सिंह ने इन मुक्केबाजों के लिए मंगलवार को यहां जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में विदाई समारोह का आयोजन कर उन्हें अपनी शुभकामनाएं दीं।

एशियाई खेलों में भारत की सबसे बड़ी पदक उम्मीद 75 किलोग्राम भारवर्ग के विकास कृष्णन ने इस अवसर पर सभी मुक्केबाजों की तरफ से कहा, “यह अब तक की हमारी सर्वश्रेष्ठ टीम है जिसमें अनुभवी मुक्केबाजों के साथ साथ अनुभवी कोच भी है। यह एक परफेक्ट टीम है जिससे हम पिछले प्रदर्शन को पीछे छोड़ने की उम्मीद कर सकते हैं।”

संघ के अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा, “यह एक बेहतरीन टीम है लेकिन एशियाई खेलों में मुश्किल प्रतियोगिता होगी। एशिया में कजाकिस्तान और उज्बेकिस्तान के रूप में मुक्केबाजी के दो सर्वश्रेष्ठ देश मौजूद हैं इसलिए पदक जीतना आसान नहीं होगा।”

अजय सिंह ने साथ ही कहा, “पदक दावेदार के लिए मैं किसी खिलाड़ी विशेष का नाम नहीं लेना चाहता। हमें तो सभी से उम्मीदें हैं। इस टीम का चयन ही योग्यता के आधार पर हुआ है और हम 2020 तथा 2024 ओलम्पिक को पदक लक्ष्य बना कर चल रहे हैं।”

 

More News
दक्षिण भारतीय एथलीटों का वर्चस्व कायम, जीते 23 पदक

दक्षिण भारतीय एथलीटों का वर्चस्व कायम, जीते 23 पदक

15 Nov 2018 | 9:28 PM

मुम्बई, 15 नवंबर (वार्ता) रिलायंस फाउंडेशन यूथ स्पोर्ट्स नेशनल एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के दूसरे दिन ट्रैक एंड फील्ड इवेंट्स में गुरुवार को दक्षिण भारतीय छात्र एथलीटों का वर्चस्व रहा।

 Sharesee more..

15 Nov 2018 | 9:27 PM

 Sharesee more..

15 Nov 2018 | 9:17 PM

 Sharesee more..
छेत्री-मीकू की जोड़ी पर निर्भर है बेंगलुरू

छेत्री-मीकू की जोड़ी पर निर्भर है बेंगलुरू

15 Nov 2018 | 9:05 PM

बेंगलुरू, 15 नवंबर (वार्ता) स्ट्राइकर हमेशा जोड़ी में शिकार करते हैं और हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में इस बात को बेंगलुरू एफसी के सुनील छेत्री तथा मीकू से बेहतर कोई साबित नहीं कर सकता।

 Sharesee more..
image