Wednesday, Nov 25 2020 | Time 15:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चालू वित्त वर्ष में 41 25 करदाताओं को रिफंड
  • सिक्किम में कोरोना के रिकॉर्ड 41 नए मामले
  • 'सीबीआई को गहराई से करनी चाहिए रोशनी योजना की जांच'
  • तूफान के गुजरने तक लोग घर से बाहर नहीं निकले-अनबारासु
  • कोरोना का घटता-बढ़ता प्रकोप , नये मामले फिर 44 हजार के पार
  • कोरोना का घटता-बढ़ता प्रकोप , नये मामले फिर 44 हजार के पार
  • आईसीसी के नए चेयरमैन चुने गए ग्रेग बार्कले
  • बारिश और हिमपात के बावजूद कश्मीर राजमार्ग वाहनों के लिए खुला, मुगल रोड बंद
  • संवैधानिक व्यवस्था की बहाली हमारी प्रमुख प्राथमिकता : कैरी लैम
  • रद्द रद्द रद्द
  • Restoration of Constitutional order among key priorities: Hong Kong Chief
  • पूर्व वित्तमंत्री मानिक चंद सुराना का निधन
  • उत्तर कश्मीर के कई सदूरवर्ती इलाकों का घाटी से संपर्क टूटा
  • आंगडिया पीढ़ी में 50 लाख रूपये की धोखाधड़ी
राज्य » जम्मू-कश्मीर


Infiltration down, Pak making attempts to send militants, GOC 15 Corps

Srinagar, Oct 26 (UNI) General Officer Commanding (GoC) 15 Corps Lt General (LG) B S Raju on Monday said the number of infiltration has come down this summer though Pakistani is trying to push trained militants into this side.श्रीनगर, 26 अक्टूबर (वार्ता) जनरल ऑफिसर कमांडिंग (जेओसी) 15 कॉर्प लेफ्टिनेंट जनरल (एलजी) बीएस राजू ने सोमवार को कहा कि इस साल गर्मियों में घुसपैठ के मामलों में कमी आयी है और ऐसा नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर रखवाली करने वाले सैनिकों की कड़ी निगरानी की बदौलत संभव हो पाया है, हालांकि पाकिस्तान लगातार आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की कोशिशें कर रहा है।
श्री राजू ने सोमवार को मध्य कश्मीर के बडगाम जिले में युसमर्ग त्योहार के मौके पर पत्रकारों को दिये गये संबोधन के दौरान स्थानीय आतंकवादियों से हिंसा का रास्ता छोड़कर राष्ट्रीय मुख्यधारा में शामिल होने और अपने परिवारों के साथ एक सामान्य और शांतिपूर्ण जीवन जीने की अपील को दोहराते हुये चेतावनी दी कि जिन्होंने बंदूकें पकड़ी हुयी हैं, उनसे सुरक्षा बलों द्वारा सख्ती से निपटा जायेगा।उन्होंने कहा '' फिलहाल नियंत्रण रेखा पर स्थिति नियंत्रण में है, हालांकि अगले कुछ महीने काफी महत्वपूर्ण होंगे, क्योंकि पाकिस्तान भारी बर्फबारी के कारण घुसपैठ के रास्ते बंद होने से पहले भारत में ज्यादा से ज्यादा आतंकवादियों को घुसाने की कोशिश करेगा। पाकिस्तानी सेना आतंकवादियों को इस ओर भेजने के लिये संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रही है और भारत में घुसने के लिये आतंकवादी लॉन्च पैड पर इंतजार कर रहे हैं, लेकिन ऐसी किसी भी कोशिश को नाकाम करने के लिये सेना हाई अलर्ट पर है। आतंकवादियों के खिलाफ सुरक्षा बलों ने कई अभियान चलाये हैं, जिनमें से अधिकांश सफल हुये हैं।
श्री राजू ने आतंकवादी गतिविधियों से सबसे ज्यादा प्रभावित दक्षिण कश्मीर की स्थिति के बारे में कहा कि चीजें वापस सामान्य हो रही हैं। व्यापारी, खास तौर पर फल का कारोबार करने वाले अब अपना व्यवसाय सामान्य रूप से कर रहे हैं। सं वार्ता
Reiterating his appeal to local militants to shun the path of violence and join the national mainstream and lead a normal and peaceful life with their families, Lt Gen Raju warned that those who are holding the gun will be dealt with sternly by the security forces.This summer the infiltration has come down due to strict vigil maintained by the troops guarding the Line of Control (LoC), GOC told reporters on the sideline of Yusmarg festival in the central Kashmir district of Badgam today.
He said situation at the LoC is under control and this year the number of infiltration by militants was down as compared to previous year. This, he said, was possible because of strict vigil maintained by the troops guarding the LoC. However, next couple of months will be more important as Pakistan will try to send more militants into this side before the infiltration routes are closed due to heavy snowfall, he said. He said Pakistani troops are violating ceasefire to push militants, waiting at launch pads, to enter this side. But, he said, troops are on high alert to foil any such attempt.
About the situation in hinterland, Lt Gen Raju said security forces conducted several successful operation against the militants.
''We again appeal to local youth, who have taken to militancy, to shun the path of gun and return to mainstream and live a peaceful life with their families'', he said. However, he said, those who refused to laid down their arms will be dealt with sternly.
About situation in south Kashmir, where maximum operations were conducted by militants, he said things are returning back to normal. Traders , particularly dealing with fruit, are now doing their business normally, he said.
UNI ABS SB 1627
More News
फारूख,उमर , मेहबूबा ने अहमद पटेल के निधन पर जताया शोक

फारूख,उमर , मेहबूबा ने अहमद पटेल के निधन पर जताया शोक

25 Nov 2020 | 1:45 PM

श्रीनगर, 25 नवंबर (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूक अब्दुल्ला, उनके बेटे उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती तथा कांग्रेस प्रदेश प्रमुख जी ए मीर ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

see more..
image