Tuesday, Jan 19 2021 | Time 17:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गहलोत सरकार निकाय चुनावों में खरीद फरोख्त को बढ़ावा देने का कार्य किया-कटारिया
  • सिंधू, श्रीकांत और समीर दूसरे दौर में, सायना बाहर
  • आप ने की चुनावों में अर्धसैनिक बलों की तैनाती की मांग
  • जम्मू-कश्मीर के तीन सीमावर्ती जिलों में कासो शुरू
  • सोने-चाँदी के दाम बढ़े
  • फागू चौहान ने गुरू गोबिन्द सिंह के ‘प्रकाश उत्सव’ की दी शुभकामनाएं
  • फिल्म के आईएफएफआई में प्रदर्शित होने पर खुश: वेणुगोपाल
  • रुपया 11 पैसे मजबूत
  • जीना आत्महत्या प्रकरण की जांच कराने की मांग उठी
  • कृषि कानून: विरोध कर रहे कई कांग्रेसी नेता गिरफ्तार
  • टीम इंडिया को पांच करोड़ का पुरस्कार देगा बीसीसीआई
  • टीम इंडिया को पांच करोड़ का पुरस्कार देगा बीसीसीआई
  • चीन के खिलाफ देर से कार्रवाई पड़ेगी महंगी : राहुल
  • इस साल पांच फिल्मों में काम करेंगी दीपिका पादुकोण
  • चालक दल ने मां-नवजात को विमान से नहीं उतारा : विस्तारा
राज्य » अन्य राज्य


मोदी की प्रेरणा से पहाड़ी अनाजों की मिठाइयां बाजार में

मोदी की प्रेरणा से पहाड़ी अनाजों की मिठाइयां बाजार में

देहरादून 31 अक्टूबर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के निर्देशों पर ‘वोकल फाॅर लोकल’ को बढ़ावा देने के लिए एक नई पहल शुरू की गई है। इसके तहत शनिवार को श्री त्रिवेंद्र ने हिमालय देवभूमि संसाधन ट्रस्ट की ओर से पहाड़ी अनाजों से तैयार मिठाईयों ‘देवभोग स्वीट्स’ का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर श्री त्रिवेंद्र ने कहा कि प्रधानमंत्री के ‘वोकल फाॅर लोकल’ एवं ‘आत्मनिर्भर भारत’ की दिशा में यह एक सराहनीय पहल है। देवभूमि प्रसाद की सफलता के बाद अब देवभोग स्वीट्स की प्रगति की कहानी शुरू हो रही है। उन्होंने कहा कि दीपावली का त्योहार आने वाला है। ऐसे में उत्तराखण्ड के अनाजों पर आधारित स्वास्थ्यवर्धक मिठाईयों की मांग तेजी से बढ़ेगी। उन्होंने जनता से त्योहार पर स्थानीय उत्पादों का अधिक से अधिक उपयोग करने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि देवभूमि स्वीट्स के लिए ऑनलाईन मार्केटिंग की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाय।

उल्लेखनीय है कि हिमालय देवभूमि संसाधन द्वारा राज्य के मन्दिरों के लिए स्थानीय अनाजों पर आधारित प्रसाद बनाया जा रहा है। अब इसको और अधिक विस्तारित करते हुए उत्तराखण्ड के 12 स्वास्थ्य वर्धक अनाजों से मिठाईयां बनाई जा रही है। इस कार्य में हिमालय देवभूमि संसाधन के संस्थापक गोविन्द सिंह मेहर एवं महासचिव बी.एस.रावत एवं अंशुल गुप्ता के साथ महिला स्वयं सहायता समूहों की ओर से ये मिठाईयां और प्रसाद बनाया जा रहा है। देवभोग प्रसाद की डिमांड काफी तेजी से बढ़ी है।

उत्तराखंड के स्थानीय अनाजों से जो मिठाइयां एवं प्रसाद बनाया जा रहा है, यह अनाज भी स्थानीय स्तर पर लोगों से खरीदा जा रहा है। जिससे स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा मिलने के साथ ही उच्च गुणवत्ता युक्त उत्पाद भी लोगों को मिल रहे हैं।

इन मिठाइयों में जिन स्थानीय अनाजों का इस्तेमाल किया जा रहा है, उनमें मंडुआ, चैलाई, झंगोरा, कुट्टू का आटा, गहत, सोयाबीन तथा उड़द की दाल का प्रयोग किया जा रहा है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रमेश भट्ट, आईटी सलाहकार रविन्द्र दत्त और विशेष सचिव पराग मधुकर धकाते भी उपस्थित थे।

सं.संजय

वार्ता

More News
मोदी, पुरोहित ने शांता के निधन पर जताया शोक

मोदी, पुरोहित ने शांता के निधन पर जताया शोक

19 Jan 2021 | 4:00 PM

चेन्नई, 19 जनवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी, विपक्ष के नेता और द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन और विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कार जीत चुकी प्रसिद्ध कैंसर विशेषज्ञ डॉ. वी शांता के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

see more..
image