Wednesday, Jul 17 2019 | Time 18:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कांग्रेस ने रमेश कुमार से व्हिप पर मांगा स्पष्टीकरण
  • विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की अनुदान माँगें बिना चर्चा के लोकसभा में पारित
  • धान की पराली से निपटने के लिए अल्ट्रा आधुनिक उपकरणों का करें उपयोग: सिंह
  • हरियाणा में आठ आईएएस और 25 एचसीएस अधिकारियों के तबादले
  • दस घंटों के ऑपरेशन के बाद मैकेनिक के दोनों कटे पैर जोड़े
  • नेमार फाइव स्पर्धा में हंगरी, स्लोवाकिया बने विजेता
  • पहले दिन किआ सेल्टॉस की रिकार्ड बुकिंग
  • केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने एनआईडी संशोधन विधेयक 2014 को दी मंजूरी
  • एनआईए को विदेश में भी जांच का अधिकार, कानून का दुरूपयोग नहीं: अमित शाह
  • 2019-20 के लिए विभिन्न मंत्रालयों एवं विभागों की अनुदान माँगे (गिलोटीन) तथा उनसे संबंधित विनियोग विधेयक लोकसभा में पारित
  • प्रणव सिंह चैम्पियन को भाजपा ने किया पार्टी से निष्कासित
  • ईपेलेटर की ईजमायट्रिप से करार
  • विश्वास मत में हिस्सा लेने या नहीं लेने का फैसला अभी नहीं:बसपा विधायक
  • इंज़माम ने छोड़ा पाकिस्तान बोर्ड के मुख्य चयनकर्ता का पद
खेल


इरफान पठान पर जेकेसीए में हस्तक्षेप का आरोप

इरफान पठान पर जेकेसीए में हस्तक्षेप का आरोप

जम्मू 09 सितंबर (वार्ता) जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ(जेकेसीए) के चयनकर्ता ध्रुव महाजन ने भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान पर तानाशाह जैसा रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

जेकेसीए ने आगामी रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट के मद्देनजर पठान को खिलाड़ी और मेंटर के तौर पर टीम में शामिल किया है।

पूर्व रणजी खिलाड़ी ध्रुव महाजन इससे पहले चार बार रणजी ट्रॉफी में जम्मू-कश्मीर की कप्तानी कर चुके हैं और घरेलू क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद जेकेसीए के चयनकर्ता के रूप में काम कर रहे हैं। महाजन ने पठान पर विभिन्न आयु वर्ग के खिलाड़ियों की चयन प्रक्रिया में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया है।

महाजन ने रविवार को यूनीवार्ता से कहा,“ इरफान अनावश्यक रूप से चयन प्रक्रिया में हस्तक्षेप कर रहे हैं। उनका इस तरह से हस्तक्षेप करना जेकेसीए के संविधान के खिलाफ है। महाजन ने अपने पद से इस्तीफा देने के बाद कहा,“ जब चयन प्रक्रिया को इस तरह से एक व्यक्ति द्वारा प्रभावित किया जाता है सिर्फ इसलिए क्योंकि वह एक भारतीय क्रिकेटर है तो इस पद पर बने रहने का कोई अर्थ नहीं है।”

महाजन ने कहा कि पठान खुद भी एक खिलाड़ी हैं और उन्हें नियमों की जानकारी होनी चाहिए, लेकिन दुर्भाग्यवश वह नियमों का पालन नहीं कर रहे थे इसलिए मैंने अपने पद से हटने का फैसला किया है।

महाजन ने कहा,‘‘ पठान ने कई मौकों पर चयनकर्ताओं की ओर से लिए निर्णयों का विरोध करने के अलावा उन्हें नजरअंदाज़ किया है, जोकि अस्वीकार्य है।”

 

image