Thursday, Nov 15 2018 | Time 21:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मध्यप्रदेश में 2907 प्रत्याशी चुनाव मैदान में
  • स्कूल के शौचालय से युवक का शव बरामद
  • बिहार में सड़क दुर्घटना में आठ लोगों की मौत , सात घायल
  • दहेज हत्या मामले में पति और ससुर को आजीवन कारावास
  • नाबालिग के साथ दुष्कर्म
  • पंसारे हत्या मामले में अमोल आठ दिन की एसआईटी हिरासत में
  • अखाड़ा भवन ध्वस्तीकरण मामले में नगर निगम आयुक्त एवं पुलिस को नोटिस
  • विकास लक्ष्य हासिल नहीं कर सका झारखंड : झाविमो
  • 84 के सिख दंगा पीड़ितों को मुआवजे के भुगतान पर सरकार से जवाब तलब
  • जौनपुर बिजली विभाग के बिल घोटाले की जांच करेंगी एमडी
  • विजयी पदार्पण चाहेंगी मनीषा, दिग्गज सरिता वापसी पर उत्साहित
  • वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में ईको टूरिज्म का शुभारंभ 18 नवंबर को
  • पलामू में चार अपराधी गिरफ्तार
भारत Share

जनधन दुनिया में सबसे बड़ी वित्तीय समावेशन योजना

जनधन दुनिया में सबसे बड़ी वित्तीय समावेशन योजना

नयी दिल्ली 05 सितंबर (वार्ता) नरेंद्र मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत 32.41 करोड़ बैंक खाते खोले हैं जिनमें से 53 प्रतिशत खाते ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज यहां हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि यह दुनिया भर में वित्तीय समावेशन की यह सबसे बड़ी योजना है। उन्होंने बताया कि इसी अवधि में दुनियाभर में 51.5 करोड बैंक खाते खोले गये हैं। जन धन योजना में अब परिवार की बजाय प्रत्येक वयस्क व्यक्ति पर जोर दिया जाएगा। अभी तक इस योजना में परिवार पर बल दिया जाता था।

उन्होंने बताया कि जनधन खाताधारकों में से 53 प्रतिशत महिलाएं हैं और 59 प्रतिशत बैंक खाते ग्रामीण और अर्ध शहरी क्षेत्रों में खोले गए हैं। अभी तक 83 प्रतिशत बैंक खातों को अाधार से जोड़ा जा चुका है और 24.4 करोड़ लोगों के पास रुपे कार्ड है।

श्री जेटली ने बताया कि 7.5 करोड़ बैंक खातों में प्रत्यक्ष लाभ अंतरण के माध्यम से सब्सिडी का भुगतान किया जा रहा है। इन खातों में मिलने वाली 5000 रुपए की अोवर ड्राफ्ट की सुविधा का 30 लाख लोगों ने उपयोग किया है। उन्होंने बताया कि ओवर ड्राफ्ट की सुविधा 10 हजार रुपए तक बढ़ा दी गयी है और इसके नियम शर्तों में ढील दी गयी है। इसके अलावा 31 जनवरी 2015 से पहले के खातों में 30 हजार रुपए के बीमा की सुविधा से 4981 परिवारों को लाभ मिला है। लाेगों की जीवन प्रत्याशा बढ़ी है इसलिए इसमें प्रवेश की आयु 18 से 65 वर्ष तक कर दी गयी है। दुर्घटना बीमा की राशि एक लाख रुपए से बढ़ाकर दो लाख रुपए कर दी गयी है।

उन्होंने बताया कि एक रुपया महीना की जीवन बीमा योजना को 13.98 करोड़ लोगों ने अपनाया है और उसमें 19 हजार 436 दावों का निस्तारण किया गया है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ 5.47 करोड़ लोग उठा रहे हैं। इसके एक लाख 10 हजार दावों पर भुगतान किया गया है। इन दोनों योजनाओं में 2600 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है।

श्री जेटली ने कहा कि अटल पेंशन योजना में 1.11 लाख लोग जुड़े हैं और यह योजना अगस्त 2018 में समाप्त हो रही थी लेकिन अब इसे आगे भी जारी रखने का फैसला किया गया है।

सत्या सचिन

वार्ता

More News
गैर-संक्रामक बीमारी दे रही हैं नयी चुनौती: जितेन्द्र सिंह

गैर-संक्रामक बीमारी दे रही हैं नयी चुनौती: जितेन्द्र सिंह

15 Nov 2018 | 9:36 PM

नयी दिल्ली 15 नवंबर (वार्ता) प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्‍यमंत्री डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने कहा है कि वर्तमान परिवेश में गैर-संक्रामक बीमारियां तेजी से फैल रही हैं और हर उम्र के लोगों को चपेट में लेकर नयी चुनौती पैदा कर रही हैं।

 Sharesee more..
लिवर की बीमारियों से हर साल दो लाख लोगों की मौत

लिवर की बीमारियों से हर साल दो लाख लोगों की मौत

15 Nov 2018 | 8:37 PM

नई दिल्ली, 15 नवंबर (वार्ता) देश में यकृत (लिवर) से जुड़ी बीमारियां गंभीर रूप लेती जा रही हैं आैर हर साल दो लाख लोगों की मौत इन बीमारियां के कारण हो रही हैं जबकि 20 हजार लोगों को लिवर प्रत्यारोपण की जरूरत पड़ती है लेकिन केवल 1800 लोगों का ही लिवर प्रत्यारोपित हो पाता है।

 Sharesee more..
राफेल पर फ्रांस ने नहीं दी गारंटी : राहुल

राफेल पर फ्रांस ने नहीं दी गारंटी : राहुल

15 Nov 2018 | 7:56 PM

नयी दिल्ली,15 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरते हुए गुरुवार को कहा कि इस संबंध में जो नया खुलासा हुआ है उसके अनुसार फ्रांस सरकार की तरफ से कोई गारंटी नहीं दी गयी है।

 Sharesee more..
सभी मीडिया संस्थान बराबर, गलत रिपोर्टिंग से समझौता नहीं: प्रसाद

सभी मीडिया संस्थान बराबर, गलत रिपोर्टिंग से समझौता नहीं: प्रसाद

15 Nov 2018 | 7:51 PM

नयी दिल्ली 15 नवंबर (वार्ता) भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई) के अध्यक्ष न्यायमूर्ति चंद्रमौलि कुमार प्रसाद ने आज यहां कहा कि परिषद की नज़र में कोई भी अखबार छोटा या बड़ा नहीं है तथा जो भी गलत रिपोर्टिंग करेगा, उसके विरुद्ध कार्रवाई होना तय है।

 Sharesee more..
image