Wednesday, Sep 19 2018 | Time 16:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तीन तलाक को ‘राजनीतिक फुटलबाल’ बना रही है मोदी सरकार : कांग्रेस
  • सोना ढाई महीने के उच्चतम स्तर पर, चाँदी 300 रुपये चमकी
  • इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम और दामाद की सजा स्थगित की।
  • शिखर ने गेंदबाजों को दिया जीत का श्रेय
  • शिखर ने गेंदबाजों को दिया जीत का श्रेय
  • रुपए की चढ़ती कीमतों का असर स्थानीय स्वर्ण बाजार पर नहीं
  • हरियाणा में 194 सरकारी और निजी अस्पताल आयुष्मान योजना के पैनल पर
  • गुजरात में अंबाजी का विख्यात भादरवि पूनम मेला शुरू
  • सड़क हादसे में प्रखंड कर्मचारी की मौत
  • रुपये की संदर्भ दर
  • मोदी द्वारका में विश्व स्तरीय सम्मेलन केन्द्र की अाधारशिला रखेंगे
  • जनविरोधी है केंद्र सरकार: ममता
  • तीन तलाक पर तीन साल की जेल, अध्यादेश मंजूर
  • पेट्रोल डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी के खिलाफ साइकिल से विधानसभा पहुंचे कांग्रेस विधायक
भारत Share

जनधन दुनिया में सबसे बड़ी वित्तीय समावेशन योजना

जनधन दुनिया में सबसे बड़ी वित्तीय समावेशन योजना

नयी दिल्ली 05 सितंबर (वार्ता) नरेंद्र मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत 32.41 करोड़ बैंक खाते खोले हैं जिनमें से 53 प्रतिशत खाते ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज यहां हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि यह दुनिया भर में वित्तीय समावेशन की यह सबसे बड़ी योजना है। उन्होंने बताया कि इसी अवधि में दुनियाभर में 51.5 करोड बैंक खाते खोले गये हैं। जन धन योजना में अब परिवार की बजाय प्रत्येक वयस्क व्यक्ति पर जोर दिया जाएगा। अभी तक इस योजना में परिवार पर बल दिया जाता था।

उन्होंने बताया कि जनधन खाताधारकों में से 53 प्रतिशत महिलाएं हैं और 59 प्रतिशत बैंक खाते ग्रामीण और अर्ध शहरी क्षेत्रों में खोले गए हैं। अभी तक 83 प्रतिशत बैंक खातों को अाधार से जोड़ा जा चुका है और 24.4 करोड़ लोगों के पास रुपे कार्ड है।

श्री जेटली ने बताया कि 7.5 करोड़ बैंक खातों में प्रत्यक्ष लाभ अंतरण के माध्यम से सब्सिडी का भुगतान किया जा रहा है। इन खातों में मिलने वाली 5000 रुपए की अोवर ड्राफ्ट की सुविधा का 30 लाख लोगों ने उपयोग किया है। उन्होंने बताया कि ओवर ड्राफ्ट की सुविधा 10 हजार रुपए तक बढ़ा दी गयी है और इसके नियम शर्तों में ढील दी गयी है। इसके अलावा 31 जनवरी 2015 से पहले के खातों में 30 हजार रुपए के बीमा की सुविधा से 4981 परिवारों को लाभ मिला है। लाेगों की जीवन प्रत्याशा बढ़ी है इसलिए इसमें प्रवेश की आयु 18 से 65 वर्ष तक कर दी गयी है। दुर्घटना बीमा की राशि एक लाख रुपए से बढ़ाकर दो लाख रुपए कर दी गयी है।

उन्होंने बताया कि एक रुपया महीना की जीवन बीमा योजना को 13.98 करोड़ लोगों ने अपनाया है और उसमें 19 हजार 436 दावों का निस्तारण किया गया है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ 5.47 करोड़ लोग उठा रहे हैं। इसके एक लाख 10 हजार दावों पर भुगतान किया गया है। इन दोनों योजनाओं में 2600 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है।

श्री जेटली ने कहा कि अटल पेंशन योजना में 1.11 लाख लोग जुड़े हैं और यह योजना अगस्त 2018 में समाप्त हो रही थी लेकिन अब इसे आगे भी जारी रखने का फैसला किया गया है।

सत्या सचिन

वार्ता

More News
आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय बढ़ाने का फैसला

आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय बढ़ाने का फैसला

19 Sep 2018 | 3:54 PM

नयी दिल्ली 19 सितंबर (वार्ता) केंद्र सरकार ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं का मानदेय बढ़ाने तथा कार्य निष्‍पादन के अनुरूप प्रोत्‍साहन राशि देने का निर्णय किया है। इसके साथ ही आशा कर्मियों का पैकेज बढ़ाने की भी मंजूरी दी गयी है।

 Sharesee more..

19 Sep 2018 | 3:48 PM

 Sharesee more..

19 Sep 2018 | 3:11 PM

 Sharesee more..
image