Wednesday, Sep 19 2018 | Time 13:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिलासपुर लाठी चार्ज घटना को लेकर कांग्रेस ने किया विरोध प्रदर्शन
  • बिलासपुर घटना की रमन ने दिए मजिस्ट्रेट से जांच के आदेश
  • बहराइच :महिला के साथ अभद्रता का वीडियो वायरल होने के बाद चौकी इंचार्ज निलंबित
  • नशा तस्करों की धमकी के बाद बढ़ायी गयी देव की सुरक्षा
  • पंजाब में 22 जिला परिषदों,150 पंचायत समितियों के लिए मतदान जारी
  • नहर मे डूबने से दो किशोरियों की मौत
  • एससीएसटी एक्ट के खिलाफ महाजन के घर के बाहर प्रदर्शन
  • ट्रंप ने परमाणु निरस्त्रीकरण समझौते का किया स्वागत
  • मुखिया पति ने सरपंच के भाई समेत तीन को मारी गोली, एक की मौत
  • बिहार में भारी मात्रा में शराब बरामद, छह गिरफ्तार
  • कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर समझौता
  • सिद्धार्थनगर: लेखपाल निलंबित
  • सड़क दुर्घटना में गर्भवती महिला सहित एक की मौत
  • रचनात्मक सोच विकसित कर राजनीतिक दल ढूंढे देश की समस्याओं का हल: हरिवंश सिंह
  • भाजपा शासन में तानाशाही बन गया पेशा : राहुल
भारत Share

सिफारिशों पर नहीं, काम के आधार पर मिलेगा शिक्षकों को पुरस्कार: जावडेकर

सिफारिशों पर नहीं, काम के आधार पर मिलेगा शिक्षकों को पुरस्कार: जावडेकर

नयी दिल्ली 05 सितम्बर (वार्ता) मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि अब सिफारिशों के आधार पर नहीं बल्कि काम के आधार पर शिक्षकों को पुरस्कार दिए जायेंगे और इसलिए इस बार से राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार की चयन प्रक्रिया बदली गयी है।

श्री जावडेकर ने आज यहां शिक्षक दिवस पर विज्ञान भवन में आयोजित पुरस्कार समारोह में यह बात कही। इस अवसर पर देश के केवल 45 चुनिन्दा शिक्षकों को पुरस्कार प्रदान किये गये। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने इन शिक्षकों को पदक, प्रशस्ति पत्र और 50 हज़ार रुपये का चेक प्रदान कर उन्हें सम्मानित किया। इससे पहले हर साल तीन सौ से अधिक शिक्षकों को पुरस्कृत किया जाता था।

मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि पहले शिक्षक पुरस्कार के लिए राज्यों से सिफारिशें आती थी लेकिन इस बार चयन प्रक्रिया बदल दी गयी है और उसे पारदर्शी बना दिया है। अब सिफारिशों के आधार पर नहीं बल्कि काम के आधार पर पुरस्कार दिये जायेंगे। अब पुरस्कार के लिए नवाचार को बढ़ावा देने वालों को अवसर दिया है।

उन्होंने कहा कि अब शिक्षक खुद भी अपने नाम का प्रस्ताव कर सकते हैं। इन शिक्षकों ने खुद ऑनलाइन आवेदन किया और अपने काम का वीडियो भी डाउनलोड किया। कुल 6500 शिक्षकों के आवेदन मिले, प्रत्येक जिले से तीन-तीन नाम आये और फिर उनकी छटायी के बाद छोटे बड़े राज्यों से तीन से लेकर छह शिक्षकों के नाम आये और इस तरह कुल डेढ़ सौ शिक्षकों का चयन हुआ फिर एक राष्ट्रीय जूरी ने उनमें से 45 शिक्षकों का चयन पुरस्कार के लिए किया। उन्होंने कहा कि इस बार पुरस्कार ऐसे लोगों को दिया गया जिनके नाम पहले आ नहीं सकते थे। उन्होंने कहा कि इन पुरस्कृत शिक्षकों में कई ऐसे हैं जिन्होंने छात्रों को शिक्षा देने के लिए खुद मोबाइल एप्प बनाये।

More News
भाजपा शासन में तानाशाही बन गया पेशा : राहुल

भाजपा शासन में तानाशाही बन गया पेशा : राहुल

19 Sep 2018 | 11:35 AM

नयी दिल्ली 19 सितंबर (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर तानाशाह होने का आरोप लगाया और कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर जुल्म ढ़ाहकर उसने तानाशाही का एक और उदाहरण पेश किया है।

 Sharesee more..

आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 20 सितंबर)

19 Sep 2018 | 8:09 AM

 Sharesee more..
रेवाड़ी दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने से खफा सुप्रीम कोर्ट

रेवाड़ी दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने से खफा सुप्रीम कोर्ट

18 Sep 2018 | 11:40 PM

नयी दिल्ली, 18 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने रेवाड़ी दुष्कर्म मामले की पीड़िता की पहचान उजागर करने को लेकर मीडिया से गहरी नाराजगी जताते हुए आज कहा कि इस मामले में नियमों की अनदेखी की गयी।

 Sharesee more..
image