Tuesday, Jul 16 2019 | Time 01:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पुतिन, ट्रम्प और रूहानी से करूंगा परमाणु समझौते पर चर्चा : मैक्रॉन
खेल


महिला टीम के साथ इतिहास रचने को तैयार जेके नेशनल रेसिंग

महिला टीम के साथ इतिहास रचने को तैयार जेके नेशनल रेसिंग

कोयम्बटूर, 06 जुलाई (वार्ता) जेके टायर एफएमएससीआई नेशनल रेसिंग चैम्पियनशिप-2018 अपने 21वें संस्करण में महिला टीम को उतारने के साथ ही नया इतिहास रचने जा रही है। चैम्पियनशिप का पहला राउंड कारी मोटर स्पीडवे पर शनिवार से शुरू हो रहा है।

इस महिला टीम में छह खिलाड़ी हैं जिन्हें देश भर में चलाए गए प्रतिभा खोज कार्यक्रम से चुना गया है। यह महिलाएं आहुरा रेसिंग टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी। टीम में महाराष्ट्र की अभिनेत्री मनीषा केलकर भी हैं जो ट्रैक पर पुरुषों की टीम से टकराने को तैयार हैं।

जेके मोटरस्पोटर्स के प्रमुख संजय शर्मा ने कहा, “जेकेएनआरसी में हम महिला टीम का स्वागत करते हुए गर्व महसूस कर रहे हैं। हम इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि यह एक नए दौर की शुरुआत करेगा जिसमें मोटर स्पोटर्स में ज्यादा से ज्यादा महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़ेगी।”

इस चैम्पियनशिप में 25 ड्राइवर हिस्सा ले रहे हैं जिनमें पिछले साल के विजेता चित्तेश मनडोडी (अवलांच रेसिंग) और पूर्व विजेता विष्णु प्रसाद (एमस्पोर्ट) शामिल हैं। पिछले साल चित्तेश से दो अंक पीछे रहने वाले संदीप कुमार (डार्क डॉन रेसिंग) की कोशिश इस बार पहले से बेहतर करने की होगी।

जेकेएनआरसी की यूरो जेके 18 स्पर्धा में देश के शीर्ष-11 रेसर हिस्सा लेंगे। इसके बेहद रोमांचक होने की उम्मीद है। मौजूदा विजेता अनिंदित रेड्डी के अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चले जाने के बाद पिछले साल तीसरे स्थान पर रहने वाले नयन चटर्जी इस साल जीत के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं।

एफबी 02 की पहली महिला चालक मीरा इर्डा और युवा जोड़ी यश अराध्य तथा निर्मल उमा शंकर से भी कड़ी टक्कर की उम्मीद होगी। श्रीलंका के ब्रायन परेरा और मानव शर्मा जैसे अनुभवी रेसर भी अच्छी चुनौती पेश करेंगे।

टू-व्हीलर सेक्शन में जोसफ मैथ्यू सुजुकी जिक्सर कप में अपने खिताब को बचाने उतरेंगे।

चेन्नई का यह रेसर पिछले सीजन में शानदार फॉर्म था। उन्होंने पिछले सीजन में चौथे और फाइनल राउंड से पहले शानदार प्रदर्शन करते हुए जीत हासिल की थी। वह अपनी उसी फॉर्म को इस सीजन में भी जारी रखना चाहेंगे। अहमदाबाद के सचिन चौधरी, आइजोल के मालस्वाम्डानगिलाना भी इस स्पर्धा में कड़ी चुनौती पेश करेंगे।

पिछले साल की तरह, रेड बुल के रोकीस कप में पूर्वोत्तर राज्यों की हिस्सेदारी देखी जाएगी। इसमें कुल नौ रेसर हिस्सा ले रहे जिनमें से सात आइजोल के हैं। 12-16 आयु वर्ग में युवा ट्रैक पर अपनी क्षमता दिखाने को बेताब हैं ताकि वे स्पेन में होने वाले बड़े टूर्नामेंट में भारत का प्रतिनिधित्व कर सकें।

राज

वार्ता

More News
इस बार प्रो कबड्डी का खिताब जीतेंगे: गुजरात फार्च्यून जायंट्स

इस बार प्रो कबड्डी का खिताब जीतेंगे: गुजरात फार्च्यून जायंट्स

15 Jul 2019 | 11:27 PM

अहमदाबाद, 15 जुलाई (वार्ता) प्रो कबड्डी लीग में अपने प्रवेश के बाद से दोनों सत्रों में फाइनल तक पहुंचने वाली युवा टीम गुजरात फार्च्यून जायंट्स ने सोमवार को कहा कि इस बार यानी लीग के सीजन 7 में यह बदली हुई रणनीति के जरिये खिताब पर जरूर कब्जा जमायेगी।

see more..
राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस से हटा पाकिस्तान

राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस से हटा पाकिस्तान

15 Jul 2019 | 11:27 PM

कटक, 15 (वार्ता) ओडिशा के कटक में होने वाली 21वीं राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस चैंपियनशिप से ठीक पूर्व में पाकिस्तान इस टूर्नामेंट से हट गया है।

see more..
उत्तर कोरिया ने ताजिकिस्तान को हराया, भारत बाहर

उत्तर कोरिया ने ताजिकिस्तान को हराया, भारत बाहर

15 Jul 2019 | 11:27 PM

अहमदाबाद, 15 जुलाई (वार्ता) उत्तर कोरिया ने शीर्ष पर चल रही टीम ताजिकिस्तान को सोमवार को 1-0 से हरा दिया और उत्तर कोरिया की इस जीत के साथ मेजबान तथा गत चैंपियन भारत इंटरकांटिनेंटल कप फुटबॉल टूर्नामेंट से बाहर हो गया।

see more..
इंग्लैंड-न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता, बाउंड्री नियम क्रूर

इंग्लैंड-न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता, बाउंड्री नियम क्रूर

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली, 15 जुलाई (वार्ता) विश्वकप फाइनल में सुपर ओवर भी टाई हो जाने के बाद सर्वाधिक बाउंड्री के आधार पर इंग्लैंड को विजेता घोषित करने पर पूर्व क्रिकेटरों ने आईसीसी के इस नियम को काफी क्रूर बताया और कई खिलाड़ियों ने कहा कि दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया जाना चाहिये था।

see more..
इंग्लैंड और न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता

इंग्लैंड और न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली, 15 जुलाई (वार्ता) विश्वकप फाइनल में सुपर ओवर भी टाई हो जाने के बाद सर्वाधिक बाउंड्री के आधार पर इंग्लैंड को विजेता घोषित करने पर पूर्व क्रिकेटरों ने आईसीसी के इस नियम को काफी क्रूर बताया आैर कई खिलाड़ियों ने कहा कि दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया जाना चाहिये था।

see more..
image