Friday, Sep 21 2018 | Time 21:09 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ‘सीबीआई निदेशक के खिलाफ शिकायत दुर्भावना से ग्रस्त’
  • शाहिदी और अफगान के अर्धशतकों से अफगानिस्तान के 257
  • मोदी ने कुआंग के निधन पर शोक जताया
  • हिन्दुस्तान जिंक ने अत्याधुनिक फुटबाल अकादमी की स्थापना की
  • जालन्धर में मतगणना के लिए पुख्ता प्रबंध
  • कांग्रेस ने की लोकतंत्र की हत्या: ब्रह्मपुरा
  • जडेजा की जबरदस्त वापसी, भारत ने बंगलादेश को 173 पर रोका
  • जडेजा की जबरदस्त वापसी, भारत ने बंगलादेश को 173 पर रोका
  • बिटक्वाइन पॉन्जी स्कीम के मामले में 42 88 करोड़ की संपत्ति कुर्क
  • करजई ने जलियांवाला बाग में शहीदों को दी श्रद्धांजलि
  • विश्व शांति दिवस पर मानव श्रंखला बना दिया शांति का संदेश
  • कश्मीर के बांदीपोरा में मुठभेड़, पांच आतंकवादी ढेर
  • राफेल पर सरकार के झूठ का पर्दाफाश : कांग्रेस
  • दक्षिण पश्चिम मानसून गांगेय पश्चिम बंगाल में अति सक्रिय
मनोरंजन Share

कपूर खानदान बेचेगा आर के स्टूडियो

कपूर खानदान बेचेगा आर के स्टूडियो

मुंबई 27 अगस्त (वार्ता) भारतीय सिनेमा जगत के पहले शो मैन कहे जाने वाले राजकपूर के 70 साल पुराने आर के स्टूडियो को कपूर खानदान बेच सकता है।

बताया जा रहा है कि कपूर परिवार स्टूडियो बेचने के लिए बिल्डर्स, डेवलपर्स और कॉर्पोरेट्स से कॉन्टैक्ट में है। ऋषि कपूर ने कहा, “हमने स्टूडियो को रेनोवेट कराया था लेकिन हर बार ऐसा करना मुमकिन नहीं है। कई बार ये जरूरी नहीं कि सारी चीजें आपके हिसाब से ही हों। हम सभी इस बात से बेहद दुखी हैं। हमने अपनी छाती पर पत्थर रखकर और सोच समझकर ये फैसला किया है।”

ऋषि कपूर ने स्टूडियो को आधुनिक टेक्नोलॉजी के साथ फिर से तैयार कराने की इच्छा व्यक्त की थी, लेकिन उनके बड़े भाई रणधीर कपूर ने कहा कि यह व्यवहारिक नहीं था। रणधीर कपूर ने कहा कि “हां, हमने आरके स्टूडियो को बेचने का फैसला किया है। यह बिक्री के लिए उपलब्ध है।”

कहा जा रहा है कि स्टूडियो बेचने की एक वजह यह भी है कि आजकल कोई भी इतनी दूर शूटिंग के लिए आना नहीं चाहता, क्योंकि उन्हें या तो अंधेरी या फिर गोरेगांव में लोकेशन आसानी से मिल जाती है.

राजकपूर ने 1948 में उपनगरीय क्षेत्र चेंबूर में आर के स्टूडियो की स्थापना की थी। दो एकड़ में बने स्टूडियो में पिछले साल आग लग गई थी। इस दौरान इसके कुछ हिस्से बुरी तरह जल गए थे। राज कपूर 90 फीसदी फिल्में इसी स्टूडियो में बनाते थे। आरके बैनर के तहत बनी फिल्मों में ‘आग', ‘बरसात‘, ‘आवारा‘, ‘श्री 420‘, ‘जिस देश में गंगा बहती है‘, ‘मेरा नाम जोकर‘, ‘बॉबी’, ‘सत्यम शिव सुंदरम’, ‘राम तेरी गंगा मैली’ आदि शामिल हैं। आरके बैनर तले बनी आखिरी फिल्म ‘आ अब लौट चलें’ थीं, जिसे ऋषि कपूर ने निर्देशित किया था।

प्रेम, यामिनी

वार्ता

More News
‘मैं दुनिया भुला दूंगा तेरी चाहत में’

‘मैं दुनिया भुला दूंगा तेरी चाहत में’

21 Sep 2018 | 1:55 PM

मुंबई 21 सितंबर (वार्ता) स्टेज से अपने करियर की शुरुआत करके शोहरत की बुलंदियों तक पहुंचने वाले बॉलीवुड के प्रसिद्ध पार्श्वगायक कुमार शानू आज भी श्रोताओं के बीच राज कर रहे हैं।

 Sharesee more..

21 Sep 2018 | 1:43 PM

 Sharesee more..

21 Sep 2018 | 1:40 PM

 Sharesee more..
‘रुक-रुक-रुक अरे बाबा रुक’ को रिक्रिएट करेंगी काजोल

‘रुक-रुक-रुक अरे बाबा रुक’ को रिक्रिएट करेंगी काजोल

21 Sep 2018 | 1:23 PM

मुंबई 21 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री काजोल अपनी आने वाली फिल्म ‘हेलिकाॅप्टर ईला’ में सुपरहिट गाने ‘रुक-रुक-रुक अरे बाबा रुक’ को रिक्रिएट करेंगी।

 Sharesee more..
सिंगर बनेंगी ऋचा चड्ढा

सिंगर बनेंगी ऋचा चड्ढा

21 Sep 2018 | 1:09 PM

मुंबई 21 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री ऋचा चड्ढा सिंगर बनने जा रही हैं।

 Sharesee more..
image