Tuesday, Dec 1 2020 | Time 14:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कृषि कानूनों में संशोधन से किसान समेत 80 प्रतिशत आबादी प्रभावित होंगी : डॉ उरांव
  • ज्यादातर राज्यों में सक्रिय मामलों में कमी
  • अमेरिका की अहम क्रिकेट लीग में निवेश करेगा नाइट राइडर्स
  • सहकारी विभाग का एक कर्मचारी रिश्वत लेते गिरफ्तार
  • बंगाल की खाड़ी में बने गहरे दबाव के चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका
  • जाट ने किया चलो किसानों दिल्ली चलो का आह्वान
  • नायडू ने दी बीएसएफ को शुभकामनायें
  • ट्रम्प के कोविड-19 विशेष सलाहकार का इस्तीफा
  • वार्नर के पहले टेस्ट से पहले फिट होने पर संदेहः लेंगर
  • वार्नर के पहले टेस्ट से पहले फिट होने पर संदेहः लेंगर
  • कश्मीर में डीडीसी चुनाव का दूसरा चरणः 11 बजे तक 15 64 प्रतिशत मतदान
  • उत्तर प्रदेश में निवेश बढ़ाने कल मुम्बई जायेंगे योगी
  • सेना के नायब सूबेदार ने आत्महत्या की
राज्य » अन्य राज्य


आंध्र में कृष्णा नदी की बाढ़ से स्थिति गंभीर

आंध्र में कृष्णा नदी की बाढ़ से स्थिति गंभीर

विजयवाड़ा 17 अक्टूबर (वार्ता) आंध्र प्रदेश में कृष्णा नदी में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुयी है और शहर के कई रिहायशी इलाके और अन्य क्षेत्रों के कई गांव बाढ़ के पानी में डूबे हुए हैं।

यहां प्रकाशम बैराज से 6.82 लाख क्यूसेक पानी समुद्र में बहाया जा रहा है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बैराज के पुलिचिंतला परियोजना से नीचे की ओर 4.45 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। प्रकाशम बैराज में जल स्तर 57.05 फीट है।

अधिकारियों ने कहा कि कृष्णा नदी में पानी की आमद आज रात तक घटने की संभावना है। मुन्नारू, पलेरू, वेलागलेरु और बुडामेरु धाराओं के परिणामस्वरूप कृष्णा नदी में पानी का भारी बहाव आता है।

राणादेवनगर, रामलिंगेश्वर नगर क्षेत्र सहित कृष्णा लंका में कई आवासीय बस्तियों और यनामालकुडुरु क्षेत्र में कुछ बस्तियों में एक से दो फीट गहरे पानी में हैं। बाढ़ पीड़ितों को इंदिरा गांधी स्टेडियम में स्थापित राहत केंद्रों में स्थानांतरित कर दिया गया है।

गुंटूर और कृष्णा जिलों में, कई गाँव बाढ़ के पानी में डूब गए और गाँवों में सड़क संपर्क बाधित हो गया। कई गांवों में बिजली की आपूर्ति नहीं है। ग्रामीणों को बाढ़ के पानी से सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए इंतजार में जागते देखा गया।

अमरावती-विजयवाड़ा के बीच सड़क यातायात बाधित हो गया है क्योंकि बाढ़ के पानी में सड़क बह गया। कृष्णा जिले के अवनीगड्डा, मोपीदेवी और नागयालंका मंडल में स्थित कई गांव बाढ़ के पानी में डूब गए।

प्रारंभिक अनुमान के मुताबिक कृष्णा एवं गुंटूर जिलों में करीब 25000 हेेक्टेयर में फसल को नुकसान हुआ है।

इसबीच राज्य की गृह मंत्री एम सुचारिता ने कई बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया तथा लोगों से मुलाकात की। बाढ़ प्रभावित किसानों ने उन्हें अपनी नष्ट हुई फसलों की जानकारी दी एवं सरकार से मदद दिलाने की गुहार लगायी।

संजय.आशा

वार्ता

More News
टीआरएस विधायक नोमुला नरसिम्हैया का निधन

टीआरएस विधायक नोमुला नरसिम्हैया का निधन

01 Dec 2020 | 1:06 PM

हैदराबाद 01 दिसम्बर (वार्ता) तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) विधायक नोमुला नरसिम्हैया का मंगलवार को यहां एक अस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।

see more..
तेलंगाना में जीएचएमसी की 150 सीटों के लिए मतदान शुरू

तेलंगाना में जीएचएमसी की 150 सीटों के लिए मतदान शुरू

01 Dec 2020 | 8:40 AM

हैदराबाद 01 दिसंबर (वार्ता) ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) की 150 सीटों के लिए मंगलवार सुबह कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान शुरू हो गया।

see more..
कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामलों में गिरावट

कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामलों में गिरावट

30 Nov 2020 | 9:05 PM

बेंगलुरु 30 नवंबर (वार्ता) कर्नाटक में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 998 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या सोमवार रात 8.84 लाख के पार पहुंच गयी, लेकिन राहत की बात यह है कि इस दौरान स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या अधिक होने से सक्रिय मामलों में एक बार फिर गिरावट आई।

see more..
image