Tuesday, Jul 23 2019 | Time 11:13 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ‘देशभक्ति’ से खास पहचान बनायी मनोज कुमार ने
  • ‘देशभक्ति’ से खास पहचान बनायी मनोज कुमार ने
  • जासूस का किरदार निभायेंगी कंगना रनौत
  • जासूस का किरदार निभायेंगी कंगना रनौत
  • 100 करोड़ क्लब में शामिल हुई सुपर 30
  • 100 करोड़ क्लब में शामिल हुई सुपर 30
  • 100 करोड़ क्लब में शामिल हुई सुपर 30
  • हरियाणा के कांवड़ यात्री की गंगोत्री धाम में मृत्यु
  • रूसी विमान के अपनी सीमा में घुसने पर द कोरिया ने की गोलीबारी
  • सोनिया ने सूचना के अधिकार संशोधन विधेयक पर की केंद्र की आलोचना
  • कश्मीर पर ट्रंप के विवादित बयान पर अमेरिका ने सुधारी गलती
  • ट्रम्प, इमरान के बीच अफगानिस्तान मुद्दे पर हुई चर्चा
  • भाजपा नेता समेत परिवार के तीन सदस्य की गोली मारकर हत्या ,एक घायल
  • कश्मीर पर ट्रंप के विवादित बयान पर अमेरिका ने सुधारी गलती
भारत


वाम दलों ने अलग भारत बंद आयोजित किया

वाम दलों ने अलग भारत बंद आयोजित किया

नयी दिल्ली 10 सितम्बर (वार्ता) वाम दलों ने पेट्रोल एवं डीजल की रोज बढ़ती कीमतों के विरोध में आज देशभर में भारत बंद का आयोजन किया और धरना-प्रदर्शन कर चक्का जाम किया।

राजधानी दिल्ली के अलावा बिहार, उत्तर प्रदेश, पंजाब, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश आदि में वाम नेताओं ने जगह-जगह रैलियां निकली और गिरफ्तारियां भी दी।

दिल्ली में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कमुनिस्ट पार्टी और इससे जुड़े श्रमिक एवं किसान संगठनों के लोगों ने जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, भाकपा नेता डी राजा, अतुल कुमार अनजान, अमरजीत कौर समेत कई नेताओं ने जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन किया और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। सुबह से ही बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होकर मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे थे। गौरतलब है कि वाम दलों ने कांग्रेस के भारत बंद से खुद को अलग रखा और रामलीला मैदान में 21 राजनीतिक दलों की जनसभा में भाग नहीं लिया, जहाँ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार, वरिष्ठ राजनेता शरद यादव, जयप्रकाश यादव आदि ने भाग लिया।

वाम दलों के धरना-प्रदर्शन में आम आदमी पार्टी के नेताओं ने भी भाग लिया। वे भी कांग्रेस का बंद के साथ नहीं थे और इसलिए रामलीला मैदान की रैली में शरीक नहीं हुए।

श्री येचुरी ने कहा कि इस ‘क्रूर’ मोदी सरकार द्वारा पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतें बढ़ाने से आम आदमी का जीना मुश्किल हो गया है। विडम्बना तो यह है कि देश के सभी पेट्रोल पम्प पर मोदी के फोटो लगे हैं। सरकार ने अपने प्रचार के लिए विज्ञापनों पर 4343 करोड़ रुपए खर्च किये हैं जो जनता का पैसा है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार इस तरह पेट्रोल की कीमतें बढ़ाकर आम जनता पर कमरतोड़ बोझ नहीं डाल सकती। यह वृद्धि सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के कारण हो रही है। उन्होंने कहा कि न तो मोदी को और न ही उनके किसी मंत्री को जनता की चिंता है और वे कोई रहत भी नही देना चाहते हैं, केवल जुमलेबाजी नारेबाजी तथा जनसंपर्क से यह सरकार चल रही है।

माकपा नेता ने कहा कि लोगों की नौकरियां ख़त्म हो रही हैं। रुपये की कीमत लगातार गिरती जा रही है, विनिर्माण तथा निर्यात का बुरा हाल है, बैंकों में गैर निष्पादित सम्पत्ति बढ़ता जा रही है। मोदी सरकार केवल विज्ञापनों और झूठे प्रचारों पर टिकी हुई है।

भारत बंद के दौरान वाम नेताओं ने 2019 में मोदी को हटाने की भी जनता से अपील की और कहा कि चार सालों में देश साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण दंगे फसाद और नफरत की आग में जल रहा है जबकि जनता के मुद्दे हाशिये पर चले गए और गौ रक्षा जैसे नकली मुद्दे हावी हो गए।

अरविन्द.श्रवण

वार्ता

More News
अहमद पटेल की चुनाव याचिका पर अंतिम सुनवाई छह अगस्त को

अहमद पटेल की चुनाव याचिका पर अंतिम सुनवाई छह अगस्त को

22 Jul 2019 | 11:05 PM

नयी दिल्ली 22 जुलाई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल की ओर से गुजरात उच्च न्यायालय के फैसले को चुनौती देने वाली चुनाव याचिका पर अंतिम सुनवाई आगामी छह अगस्त को करेगा।

see more..
ईडी ने लॉटरी घोटाले में 119.6 करोड़ की संपत्ति जब्त की

ईडी ने लॉटरी घोटाले में 119.6 करोड़ की संपत्ति जब्त की

22 Jul 2019 | 10:26 PM

नयी दिल्ली, 22 जुलाई (वार्ता) प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने लॉटरी घोटाला मामले में सैंटियागो मार्टिन तथा उसके साथियों की कंपनियों की 119.6 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है।

see more..
image