Sunday, Feb 17 2019 | Time 14:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बीसीसीआई शहीदों के परिवारों को दे 5 करोड़ की मदद : सीके खन्ना
  • मुस्लिम फ्रंट ने की पुलवामा हमले की पुरजोर निंदा
  • सोना 170 रुपये महंगा; चांदी स्थिर
  • शंकराचार्य ने अयोध्या के लिए 'रामाग्रह यात्रा' स्थगित की
  • कृषि के क्षेत्र में देश का नेतृत्व करे हरियाणा:कोविंद
  • अफगानिस्तान में बम विस्फोट से तीन लोगों की मौत
  • मोदी ने कहा, जो आग आपके दिल में है, वही आग मेरे दिल में भी
  • कृषि के क्षेत्र में देश का नेतृत्व करे हरियाणा:कोविंद
  • उत्तर प्रदेश में 107 वरिष्ठ पीसीएस अधिकारियों का तबादला
  • जम्मू में कर्फ्यू तीसरे दिन भी जारी, स्थिति सामान्य
  • आगरा- सड़क दुर्घटना में तीन महिलाओं और बच्चे सहित पांच लोगों की मृत्यु
  • श्रीनगर समेत घाटी के अन्य हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट पर रोक
  • व्यापारी करेंगे चीनी वस्तुुओं का बहिष्कार
  • न्यायाधीशों, सेवानिवृत्त न्यायाधीशों के लिए एयर एंबुलेंस सेवा
  • मोदी ने केसीआर को दी जन्मदिन की बधाई
दुनिया Share

लीबिया ने संयुक्त राष्ट्र की मदद से फंसे सैंकड़ों शरणार्थियों को निकाला

लीबिया ने संयुक्त राष्ट्र की मदद से फंसे सैंकड़ों शरणार्थियों को निकाला

त्रिपोली 31 अगस्त (रायटर) लीबिया सरकार ने देश के विभिन्न गुटों के संघर्ष के कारण सरकारी निगरानी केंद्रों में फंसे सैंकड़ों शरणार्थियों को संयुक्त राष्ट्र की मदद से निकालकर किसी अन्य जगह पर स्थानांतरित कर दिया। संयुक्त राष्ट्र और सहायता सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

एक सहायता सूत्र ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र समर्थित सरकार ने राजधानी त्रिपोली के दक्षिण-पूर्वी आइन जारा क्षेत्र के दो केंद्रों से इन शरणार्थियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया।

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी यूएनएचसीआर ने अपने बयान में कहा कि उसने अन्य एजेंसियों और अवैध शरणार्थी प्रतिरोधक विभाग के साथ मिलकर इन शरणार्थियों को स्थानांतरित किया है। एक अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठन ने कहा इन शरणार्थियों में मुख्यत: इथोपिया, सोमालिया और इरिट्रिया से हैं। इनको युद्ध क्षेत्र से निकालकर अलग-अलग निगरानी केंद्रों में ले जाया गया है। आइन जारा में कुछ शरणार्थी अभी भी मदद का इंतजार कर रहे हैं।

इन शरणार्थियों के रक्षक गुटों के संघर्ष के कारण इनको छोड़कर भाग गये थे जिसके कारण करीब 30 शरणार्थियों की मौत हो गयी थी। लीबिया में वर्ष 2011 में नाटो समर्थित क्रांति से तानाशाह मुअम्मर गद्दाफी के सत्ता से बेदखल किये जाने के बाद यहां विभिन्न गुट सत्ता के लिए संघर्षरत है।

लीबिया के प्रधानमंत्री फयज अल सेराज ने कहा है कि दक्षिणी त्रिपोली में अभी भी संघर्ष जारी है और वहां निवासी अपने घरों में फंसे हुए हैं। विभिन्न अफ्रीकी देशों के शरणार्थियों के लिए लीबिया उत्तरी अफ्रीका से भूमध्य सागर पार करके यूरोप जाने का मुख्य निकासी स्थान है।

दिनेश

रायटर

More News

बंगलादेश में आग से नौ लोगों की मौत

17 Feb 2019 | 2:17 PM

 Sharesee more..
कंजर्वेटिव सांसद ब्रेक्जिट पर एकजुट हों : थेरेसा

कंजर्वेटिव सांसद ब्रेक्जिट पर एकजुट हों : थेरेसा

17 Feb 2019 | 12:13 PM

लंदन 17 फरवरी (वार्ता) ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मेे ने कंजर्वेटिव पार्टी के सांसदों को पत्र लिखकर अपनी ‘व्यक्तिगत वरीयताओं’ को एक ओर रखकर ब्रेक्जिट समझौते का समर्थन करने की अपील की।

 Sharesee more..
रूस के खिलाफ प्रतिबंध को मर्केल का समर्थन

रूस के खिलाफ प्रतिबंध को मर्केल का समर्थन

17 Feb 2019 | 11:27 AM

म्यूनिख 17 फरवरी (वार्ता) जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने रूस के खिलाफ प्रतिबंधों का समर्थन करते हुए कहा है कि प्रतिबंध के उपायों को लेकर यूक्रेन के साथ समन्वय स्थापित किया जाना चाहिए।

 Sharesee more..
नाइजीरिया में लूटरों की गिरफ्त से 80 बंधक मुक्त

नाइजीरिया में लूटरों की गिरफ्त से 80 बंधक मुक्त

17 Feb 2019 | 11:03 AM

लागोस 17 फरवरी (शिन्हुआ) नाइजीरिया के सुरक्षाबलों ने उत्तरी पश्चिमी जामफारा प्रांत में हथियारबंद लूटरों द्वारा बंधक बनाये गये कम से कम 80 लोगों को मुक्त करा लिया।

 Sharesee more..
स्पेन में कैटेलोनिया राजनेताओं पर मुकदमे के विरोध में प्रदर्शन

स्पेन में कैटेलोनिया राजनेताओं पर मुकदमे के विरोध में प्रदर्शन

17 Feb 2019 | 10:43 AM

मेड्रिड 17 फरवरी (स्पूतनिक) स्पेन के उच्चतम न्यायालय में कैटेलोनिया राजनेताओं पर इस सप्ताह शुरू हुए मुकदमे के विरोध में कैटेलोनिया के लोगों ने बार्सिलोना में करीब 2,00,000 लोगों विरोध प्रदर्शन किया और रैली निकाली।

 Sharesee more..
image