Tuesday, Dec 6 2022 | Time 10:24 Hrs(IST)
image
राज्य » उत्तर प्रदेश


पुतिन के समक्ष मोदी के युद्धविरोधी रुख़ की मैक्रों ने की सराहना

पुतिन के समक्ष मोदी के युद्धविरोधी रुख़ की मैक्रों ने की सराहना

सुंयुक्त राष्ट्र 21 सितंबर (वार्ता) फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्राें ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन के समक्ष युद्ध के विरोध में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कथन की सराहना की है।

यहां संयुक्त राष्ट्र की आम सभा के 77वें सत्र को संबोधित करते हुए फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने कहा “ भारत के प्रधानमंत्री ने एकदम सही बात कही कि यह समय युद्ध के लिए नही है। न ही पश्चिमी देशों की मुखालफत करने या उनसे किसी तरह से पूर्व के द्वारा कोई बदला लेने का भी यह समय नहीं है।आज हमारे समक्ष जो चुनौतियां खड़ी हैं उनका सामना सभी संप्रभु राष्ट्रों को मिलकर करना है।

अपने तीस मिनट के भाषण में श्री मैक्रों ने इस पूरे मामले पर चुप्पी साधने वाले देशों को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वे लंबे समय तक छुपकर बैठे नहीं रह सकते हैं।

उन्होंने कहा “ जो आज अपनी ही उधेडबुन में चुप्पी साधे हैं वे कहीं न कहीं एक नये साम्राज्यवाद और समसामयिक कुटिलता को प्रश्रय देकर दुनिया को बरबाद कर रहे हैं। ”

श्री मोदी ने समरकंद में एससीओ शिखर सम्मेलन में शिरकत करने से इतर रूसी राष्ट्रपति के साथ द्विपक्षीय संवाद के दौरान अपनी बात कही थी। इस दौरान उन्होंने बातचीत तथा कूटनीति के रास्ते को अपनाने की जरूरत पर बल दिया था। श्री मोदी ने श्री पुतिन से बातचीत में कहा था “ मैं जानता हूं कि आज का समय युद्ध का नहीं है।लोकतंत्र, कूटनीति और बातचीत के जरिए ही हम शांति के पथ पर आगे बढ़ सकते हैं, हमें इस मसले पर बात करने का अवसर मिलेगा और मैं भी आपके पक्ष को समझने का प्रयास करूंगा।”

श्री मोदी ने यूक्रेन में जारी युद्ध में युद्धबंदियों की जल्द से जल्द रिहाई की अपील दोहराते हुए बातचीत और कूट नीति के जरिए विवाद को सुलझाने पर जोर दिया।

इस बीच यूक्रेन में जारी युद्ध और उसके प्रभावों पर यहां विभिन्न क्षेत्रीय समूहों के बीच एक उच्च स्तरीय बातचीत में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मैक्रों के साथ बात की। इसके लिए विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने फ्रांस के राष्ट्रपति को धन्यवाद भी किया। इस मामले पर विदेश मंत्री ने ट्वीट करके बताया “ इस बातचीत में यूक्रेन में जारी संकट पर जी -20 देशों की चुप्पी पर भी बात की गयी।”

सोनिया,आशा

वार्ता

image