Friday, Jul 19 2019 | Time 18:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • लखनऊ में गिरफ्तार माओवादी से उत्तराखंड पुलिस भी करेगी पूछताछ
  • कर्नाटक में ‘खरीद-फरोख्त’ के पीछे अमित शाह का हाथ: गुंडू राव
  • औरंगाबाद-जालना के लिए विधान परिषद का चुनाव 19 अगस्त को
  • आत्महत्या का प्रयास करने वाली महिला के खिलाफ मामला दर्ज
  • डेहरी में अखिल भारतीय पुलिस शूटिंग प्रतियोगिता नवंबर में
  • उत्तराखंड में 12 पुलिस निरीक्षक का किया तबादला
  • बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने बी वार्ड के सहायक आयुक्त निलंबित
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • ओकूहारा पर जीत से सिंधू सेमीफाइनल में
  • नीतीश ने बाढ़ पीड़ितों के लिए अनुग्रह राशि भुगतान की प्रक्रिया शुरू की
  • मदर डेयरी 40 रुपये किलो मिलेगा टमाटर
  • मदर डेयरी 40 रुपये किलो मिलेगा टमाटर
  • फर्जी प्रमाण पत्रों पर शिक्षक भर्ती कराने वाले गिरोह सरगना समेत दो गिरफ्तार
  • किसानों की स्थिति सुधारने के लिए चौतरफा प्रयास : रूपाला
भारत


मालेगांव विस्फोट मामला : कर्नल पुरोहित की याचिका खारिज

मालेगांव विस्फोट मामला : कर्नल पुरोहित की याचिका खारिज

नयी दिल्ली, 04 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने 2008 के मालेगांव विस्फोट मामले में कर्नल श्रीकांत पुरोहित को कथित तौर पर अगवा किये जाने की विशेष जांच दल (एसआईटी) से जांच कराये जाने संबंधी उनकी याचिका आज खारिज कर दी।

न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय खंडपीठ ने कर्नल पुरोहित की याचिका खारिज करते हुए कहा कि इस मामले की सुनवाई निचली अदालत में चल रही है और ऐसी स्थिति में वह हस्तक्षेप नहीं करेगी।

न्यायालय ने हालांकि याचिकाकर्ता को अपनी मांग निचली अदालत के समक्ष रखने की अनुमति दे दी। न्यायालय ने कहा, “यदि हम इस समय हस्तक्षेप करेंगे तो सुनवाई प्रभावित हो सकती है।”

कर्नल पुरोहित की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे ने दलील दी कि याचिकाकर्ता ने जो मुद्दा उठाया है , उस पर ध्यान दिया जाना चाहिए। इस पर न्यायमूर्ति गोगोई ने कहा कि याचिकाकर्ता अपनी बात लेकर निचली अदालत के समक्ष जायें।

इससे पहले गत 27 अगस्त को न्यायाधीश उदय उमेश ललित के सुनवाई से अलग होने के कारण नयी पीठ के गठन तक के लिए सुनवाई टालनी पड़ी थी।

याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में खुद को साजिश के तहत फंसाये जाने का आरोप लगाते हुए न्यायालय की निगरानी में एसआईटी से जांच कराये जाने की मांग की है।

शीर्ष अदालत ने पिछले साल कर्नल पुरोहित को जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया था। वह पिछले नौ साल से जेल में थे। उच्चतम न्यायालय ने बॉम्बे उच्च न्यायालय के फैसले को पलटते हुए जमानत दी थी।

गौरतलब है कि 29 सितंबर 2008 को मालेगांव में एक बाइक में बम लगाकर विस्फोट किया गया था, जिसमें आठ लोगों की मौत हुई थी और तकरीबन 80 लोग जख्मी हो गए थे।

More News
भाजपा सरकार अपराध रोकने में नाकाम: प्रियंका

भाजपा सरकार अपराध रोकने में नाकाम: प्रियंका

19 Jul 2019 | 6:28 PM

नयी दिल्ली, 19 जुलाई (वार्ता) कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश सरकार पर अपराध रोकने में नाकाम होने का आरोप लगाया और कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार उन्हें भी अपना कर्तव्य करने से रोक रही है।

see more..
कर्नाटक संकट फिर पहुंचा शीर्ष अदालत की चौखट पर

कर्नाटक संकट फिर पहुंचा शीर्ष अदालत की चौखट पर

19 Jul 2019 | 5:34 PM

नयी दिल्ली, 19 जुलाई (वार्ता) कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष शुक्रवार को एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर पहुंच गया।

see more..
प्रियंका की गिरफ्तारी खेदजनक: राहुल

प्रियंका की गिरफ्तारी खेदजनक: राहुल

19 Jul 2019 | 5:02 PM

नयी दिल्ली, 19 जुलाई (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके श्री राहुल गांधी ने पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की गिरफ्तारी को अवैध तथा दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए आरोप लगाया है कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार मनमानी पर उतर आयी है और सत्ता का दुरुपयोग कर रही है।

see more..
image