Thursday, Sep 20 2018 | Time 15:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अगले ओलम्पिक में खेलने की कोशिश है: योगेश्वर
  • गिर वन के पूर्वी विस्तार में 48 घंटे में तीन शेरों के शव मिलने से सनसनी
  • भारत से औपचारिक जवाब का इंतजार: पाकिस्तान
  • प्रख्यात कवि विष्णु खरे पंच तत्त्व में विलीन
  • उत्तर कोरिया से बातचीत के लिए तैयार: पोम्पियो
  • शहीद के साथ बर्बरता का करार जवाब दे सरकार : कांग्रेस
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पूरे विमानन क्षेत्र के सुरक्षा ऑडिट के आदेश
  • जेट की उड़ान में यात्रियों की नाक से निकाला खून, जाँच के आदेश
  • चीन के बाजार में पैठ बनाने की जुगत में भारत
  • दिलबाग बने रहेंगे जम्मू-कश्मीर के कार्यकारी डीजीपी
भारत Share

माल्या का बयान तथ्यात्मक रूप से गलत : जेटली

माल्या का बयान तथ्यात्मक रूप से गलत : जेटली

नयी दिल्ली 12 सितम्बर (वार्ता) वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या के इस बयान को तथ्यात्मक रूप से गलत तथा सच्चाई से परे बताया है कि उसने विदेश जाने से पहले उनसे मुलाकात कर बकाया ऋण निपटाने की पेशकश की थी।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, ब्रिटेन में रह रहे विजय माल्या ने लंदन की एक अदालत में उसके प्रत्यर्पण पर सुनवाई के लिए पेशी से पहले संवाददाताओं से कहा कि भारत छोड़ने से पहले वह वित्त मंत्री से मिला था और बैंकों का बकाया कर्ज निपटाने की पेशकश की थी।

श्री जेटली ने कहा “विजय माल्या का मुझसे मिलने और कर्ज निपटाने की पेशकश की बात तथ्यात्मक रूप से गलत है क्योंकि यह सच्चाई से परे है।” उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के बाद से उन्होंने माल्या को कभी मिलने के लिए समय नहीं दिया इसलिए उससे मिलने का सवाल ही नहीं पैदा होता।

वित्त मंत्री ने कहा कि राज्यसभा का सदस्य होने के नाते माल्या कभी-कभार संसद आ जाते थे और एक दिन उन्होंने अचानक संसद के गलियारे में उनके पास आकर कहा कि वह बैंकों से लिये गये कर्ज को निपटाने के बारे में कुछ पेशकश करना चाहते हैं। श्री जेटली ने कहा “मुझे माल्या के झूठों के बारे में पहले बताया जा चुका था और इसलिए मैंने शिष्टता पूर्वक उनसे कहा “मुझसे बात करने का कोई फायदा नहीं है। आपको अपने बैंकरों से बात करनी चाहिये। मुझे पता था कि बैंकों का ऋण चुकाने की उसकी कोई मंशा नहीं है।”

श्री जेटली ने कहा कि माल्या अपने साथ जो कागजात लेकर आये थे वे भी उन्होंने नहीं लिये। माल्या ने इस मौके का राज्यसभा सदस्य होने के नाते गलत लाभ उठाया लेकिन मैंने उनसे सिर्फ एक वाक्य कहा। इसके अलावा कभी भी न तो अपने कार्यालय में और न घर पर उन्हें मिलने का समय दिया।

अजीत संजीव

वार्ता

More News
एयरसेल-मैक्सिस करार: जांच के लिए ईडी को तीन माह की मोहलत

एयरसेल-मैक्सिस करार: जांच के लिए ईडी को तीन माह की मोहलत

20 Sep 2018 | 3:25 PM

नयी दिल्ली 20 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने एयरसेल-मैक्सिस करार मामले की जांच पूरी करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को तीन माह की और मोहलत दी है।

 Sharesee more..
तीन तलाक जारी अध्यादेश मुस्लिम महिलाओं के लिए अवांछित: माकपा

तीन तलाक जारी अध्यादेश मुस्लिम महिलाओं के लिए अवांछित: माकपा

20 Sep 2018 | 3:05 PM

नयी दिल्ली 20 सितम्बर (वार्ता) मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने तीन तलाक पर बुधवार को जारी अध्यादेश को मुस्लिम महिलाओं के लिए अवांछित बताया है और कहा है कि यह अध्यादेश राजनीतिक कारणों से लाया गया है और यह गैर लोकतान्त्रिक भी है।

 Sharesee more..
image