Monday, Jul 15 2019 | Time 23:29 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सेल्फी लेने के चक्कर में छात्र की डूबकर मौत
  • सड़क दुर्घटना में युवती की मौत
  • कैनरा बैंक की शाखा से साढ़े तीन लाख की लूट, एक गिरफ्तार
  • पीएचईडी का जिला कॉर्डिनेटर रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार
  • नहीं रहे जाने-माने पत्रकार बादल सान्याल
  • सफेदपोश अपराधियों से सख्ती से निपटें : रघुवर
  • उत्तर कोरिया ने ताजिकिस्तान को हराया, भारत बाहर
  • उत्तर कोरिया ने ताजिकिस्तान को हराया, भारत बाहर
  • सड़कों की खुदाई एवं साफ सफाई को लेकर हाईकोर्ट सख्त
  • बिहार में बंद पड़ी 12 चीनी मिलों की जमीन बियाडा को शीघ्र : सुशील
  • लखनऊ में सड़को की खुदाई एवं साफ-सफाई को लेकर हाईकोर्ट सख्त
  • उप्र में लखनऊ ,मेरठ समेत कई स्थानों पर बारिश
  • बिहार में फिल्म ‘सुपर-30’ हुआ टैक्स फ्री
  • दौसा जिले में किसान फिर आंदोलन की राह पर
  • फीस वृद्धि के विरोध में छात्रों ने खट्टर की गाड़ी रोकने का प्रयास किया
भारत


माल्या का बयान तथ्यात्मक रूप से गलत : जेटली

माल्या का बयान तथ्यात्मक रूप से गलत : जेटली

नयी दिल्ली 12 सितम्बर (वार्ता) वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या के इस बयान को तथ्यात्मक रूप से गलत तथा सच्चाई से परे बताया है कि उसने विदेश जाने से पहले उनसे मुलाकात कर बकाया ऋण निपटाने की पेशकश की थी।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, ब्रिटेन में रह रहे विजय माल्या ने लंदन की एक अदालत में उसके प्रत्यर्पण पर सुनवाई के लिए पेशी से पहले संवाददाताओं से कहा कि भारत छोड़ने से पहले वह वित्त मंत्री से मिला था और बैंकों का बकाया कर्ज निपटाने की पेशकश की थी।

श्री जेटली ने कहा “विजय माल्या का मुझसे मिलने और कर्ज निपटाने की पेशकश की बात तथ्यात्मक रूप से गलत है क्योंकि यह सच्चाई से परे है।” उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के बाद से उन्होंने माल्या को कभी मिलने के लिए समय नहीं दिया इसलिए उससे मिलने का सवाल ही नहीं पैदा होता।

वित्त मंत्री ने कहा कि राज्यसभा का सदस्य होने के नाते माल्या कभी-कभार संसद आ जाते थे और एक दिन उन्होंने अचानक संसद के गलियारे में उनके पास आकर कहा कि वह बैंकों से लिये गये कर्ज को निपटाने के बारे में कुछ पेशकश करना चाहते हैं। श्री जेटली ने कहा “मुझे माल्या के झूठों के बारे में पहले बताया जा चुका था और इसलिए मैंने शिष्टता पूर्वक उनसे कहा “मुझसे बात करने का कोई फायदा नहीं है। आपको अपने बैंकरों से बात करनी चाहिये। मुझे पता था कि बैंकों का ऋण चुकाने की उसकी कोई मंशा नहीं है।”

श्री जेटली ने कहा कि माल्या अपने साथ जो कागजात लेकर आये थे वे भी उन्होंने नहीं लिये। माल्या ने इस मौके का राज्यसभा सदस्य होने के नाते गलत लाभ उठाया लेकिन मैंने उनसे सिर्फ एक वाक्य कहा। इसके अलावा कभी भी न तो अपने कार्यालय में और न घर पर उन्हें मिलने का समय दिया।

अजीत संजीव

वार्ता

More News
कुरेशी के मुख्य न्यायाधीश की नियुक्त में देरी को लेकर याचिका

कुरेशी के मुख्य न्यायाधीश की नियुक्त में देरी को लेकर याचिका

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली 15 जुलाई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय वरिष्ठ न्यायाधीश अकील कुरेशी को मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर नियुक्ति में हो रही देरी को लेकर दायर जनहित याचिका पर 22 जुलाई को सुनवाई करेगा।

see more..
मोदी, जयशंकर, शेखावत से मिले अमरिंदर

मोदी, जयशंकर, शेखावत से मिले अमरिंदर

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली, 15 जुलाई (वार्ता) पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने सोमवार को यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अौर जलशक्ति मंत्री गजेंन्द्र सिंह शेखावत से मुलाकात की। विदेश मंत्री एस जयशंकर भी कैप्टन सिंह से मिले।

see more..
उच्चतम न्यायालय ने एलआईसी के खिलाफ दायर याचिका खारिज की

उच्चतम न्यायालय ने एलआईसी के खिलाफ दायर याचिका खारिज की

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली 15 जुलाई (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) की ‘जीवन सरल’ पॉलिसी के खिलाफ ‘मनी लाइफ फाउंडेशन’ की याचिका सोमवार को खारिज कर दी।

see more..
कर्नाटक संकट: न्यायालय मंगलवार को कर सकता है बागी विधायकों की याचिका पर सुनवाई

कर्नाटक संकट: न्यायालय मंगलवार को कर सकता है बागी विधायकों की याचिका पर सुनवाई

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली 15 जुलाई (वार्ता) कर्नाटक में जारी राजनीतिक संकट के बीच राज्य के पांच बागी विधायकों ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की है जिस पर मंगलवार को सुनवाई हो सकती है।

see more..
image