Friday, Nov 16 2018 | Time 00:46 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
भारत Share

कांग्रेस के भारत बंद का मिला-जुला असर

कांग्रेस के भारत बंद का मिला-जुला असर

नयी दिल्ली 10 सितम्बर (वार्ता) पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में लगातार वृद्धि और बढ़ती महंगाई के विरोध में कांग्रेस के आह्वान पर सोमवार को भारत बंद का देश के विभिन्न राज्यों में मिला-जुला असर रहा। बंद को 21 विभिन्न राजनीतिक दलों ने अपना समर्थन दिया है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुआई में प्रमुख विपक्षी दलों ने दिल्ली में राजघाट से रामलीला मैदान तक रैली निकाली। रैली के रामलीला मैदान पर पहुंचने के बाद वहां धरना दिया गया। धरने में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन प्रमुख सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद और अहमद पटेल, राष्ट्रवादी कांग्रेस प्रमुख शरद पवार, जनता दल(यूनाइटेड) नेता शरद यादव, आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह, तृणकूल कांग्रेस नेता सुखेंदु शेखर राय तथा अन्य नेता शामिल हुए।

बिहार में भारत बंद के समर्थन में कांग्रेस , राष्ट्रीय जनता दल (राजद) , हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) , जन अधिकार पार्टी (जाप), समाजवादी पार्टी (सपा) और लोकतांत्रिक जनता दल (लोजद) के नेता और कार्यकर्ता सुबह से ही सड़कों पर उतर आये। बंद समर्थकों ने कई स्थानों पर सड़क और रेल यातायात अवरुद्ध करने तथा दुकानों को बंद कराने की कोशिश की। जाप के कार्यकर्ताओं ने राजेन्द्र नगर टर्मिनल पर पूर्व मध्य रेलवे के कर्मचारियों को हाजीपुर ले जाने वाली बस के शीशे तोड़ दिये। पटना में बंद समर्थकों ने डाक बंगला चौराहे पर प्रदर्शन कर सड़क यातायात बाधित कर दिया तथा कई वाहनों के शीशे तोड़ दिये । राज्य के दानापुर, बेलीरोड और मनेर में सड़क पर टायर जलाकर यातायात में बाधा डाली गयी। गया , जहानाबाद, दरभंगा, कटिहार, समस्तीपुर, अररिया, किशनगंज तथा अन्य जिलों में बंद का व्यापक असर देखा जा रहा है।

तमिलनाडु में बंद का आम जनजीवन बेअसर दिखायी दिया । बंद के दौरान दुकानें और व्यावसायिक संस्थानें खुली रही। बसें और अन्य सार्वजनिक यातायात सामान्य रहा, हालांकि केरल और कर्नाटक जैसे पड़ोसी राज्यों के बीच चलने वाली अंतर-राज्यीय बसें ऐहतियात के तौर पर तमिलनाडु सीमा तक ही चलायी गयी। स्कूल- कालेज एवं शैक्षणिक संस्थानें खुली रही तथा सभी सरकारी कार्यालयों, बैंको और अन्य वाणिज्यिक संस्थानों में प्रतिदिन की तरह कामकाज हुआ। चिकित्सा, बिजली, दूध और अन्य सेवायें जारी रही। राज्य में कई स्थानों पर छिटपुट घटनाओं की रिपोर्ट मिली है।

टंडन

जारी वार्ता

More News
छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में चुनाव प्रचार करेंगे सिद्धू

छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में चुनाव प्रचार करेंगे सिद्धू

15 Nov 2018 | 11:39 PM

नयी दिल्ली 15 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस ने कहा कि पूर्व क्रिकेटर एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नवजोत सिंह सिंद्धू छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान के आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करेंगे।

 Sharesee more..
नौसेना ने मालदीव तटरक्षक बल के पोत की मरम्मत की

नौसेना ने मालदीव तटरक्षक बल के पोत की मरम्मत की

15 Nov 2018 | 10:55 PM

नयी दिल्ली 15 नवम्बर (वार्ता) भारतीय नौसेना ने मालदीव तटरक्षक बल के पोत हरावी की सफलतापूर्वक ‘रिफिट’ यानी मरम्मत के बाद उसे समुद्री अभियानों के लिए पूरी तरह तैयार कर आज मालदीव को लौटा दिया।

 Sharesee more..
75 रेलवे स्टेशनों पर लहराएगा सौ फुट ऊंचा तिरंगा

75 रेलवे स्टेशनों पर लहराएगा सौ फुट ऊंचा तिरंगा

15 Nov 2018 | 9:48 PM

नयी दिल्ली 15 नवंबर (वार्ता) रेल मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को घोषणा की कि देश के 75 रेलवे स्टेशनों पर दिसंबर अंत तक सौ फुट ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज लगाया जाएगा।

 Sharesee more..
गैर-संक्रामक बीमारी दे रही हैं नयी चुनौती: जितेन्द्र सिंह

गैर-संक्रामक बीमारी दे रही हैं नयी चुनौती: जितेन्द्र सिंह

15 Nov 2018 | 9:36 PM

नयी दिल्ली 15 नवंबर (वार्ता) प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्‍यमंत्री डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने कहा है कि वर्तमान परिवेश में गैर-संक्रामक बीमारियां तेजी से फैल रही हैं और हर उम्र के लोगों को चपेट में लेकर नयी चुनौती पैदा कर रही हैं।

 Sharesee more..
लिवर की बीमारियों से हर साल दो लाख लोगों की मौत

लिवर की बीमारियों से हर साल दो लाख लोगों की मौत

15 Nov 2018 | 8:37 PM

नई दिल्ली, 15 नवंबर (वार्ता) देश में यकृत (लिवर) से जुड़ी बीमारियां गंभीर रूप लेती जा रही हैं आैर हर साल दो लाख लोगों की मौत इन बीमारियां के कारण हो रही हैं जबकि 20 हजार लोगों को लिवर प्रत्यारोपण की जरूरत पड़ती है लेकिन केवल 1800 लोगों का ही लिवर प्रत्यारोपित हो पाता है।

 Sharesee more..
image