Sunday, Jul 21 2024 | Time 22:56 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


मोदी सरकार का ‘एजेंसी राज’ हमारे काम को चुनौतीपूर्ण बनाता है: ममता

मोदी सरकार का ‘एजेंसी राज’ हमारे काम को चुनौतीपूर्ण बनाता है: ममता

कोलकाता 20 मई (वार्ता) पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र की भारतीय जनता पार्टी नीत सरकार पर निशाना साधते हुए शनिवार को कहा कि केंद्र में सत्तावादी सरकार का ‘एजेंसी राज’ है जो उनके कार्य को चुनौतीपूर्ण बना रहा है।

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख सुश्री बनर्जी ने ट्विटर पर कहा,“इस दिन, 2011 में, हमने 34 साल पुराने राक्षस शासन को बदलने और पश्चिम बंगाल में ‘मा माटी मानुष’ सरकार की शुरुआत करने की शपथ ली थी। हम आज प्रतिज्ञा को नवीनीकृत करते हैं और खुद को फिर से लोगों की समस्याओं को समर्पित करते हैं।”

मुख्यमंत्री ने कहा,“केंद्र में एक सत्तावादी सरकार का एजेंसी-राज हमारे कार्य को चुनौतीपूर्ण बनाता है, लेकिन देश भर में लाखों लोग हमारे साथ हैं। 20 मई अमर रहे।”

सुश्री बनर्जी ने शुक्रवार को बांकुड़ा जिले के लोगों को वर्चुअली संबोधित करते हुए कहा, “भाजपा अभिषेक से इतनी डर गई है कि वे टीएमसी को नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। हम सिर्फ एक पार्टी नहीं हैं, हम लोगों के अधिकारों के लिए एक आंदोलन हैं। वे जो चाहें कोशिश कर सकते हैं लेकिन हम अपनी ईमानदारी से समझौता नहीं करेंगे। पश्चिम बंगाल में मार्क्सवादी पार्टी के शासन ने बंगाल में रक्तपात और आतंक के निशान छोड़े तथा लोगों को उनके मूल अधिकारों से वंचित कर दिया। अब भाजपा-कांग्रेस-माकपा का नापाक गठजोड़ हमारे राज्य के लोगों का शोषण करने और उन्हें धोखा देने की कोशिश कर रहा है।”

भाजपा पर ‘तृणमूल नबो ज्वार’ में बाधा डालने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए सुश्री बनर्जी ने कहा, “भाजपा को सत्ता से बेदखल करने तक लड़ाई जारी रहेगी। मैं भाजपा के सामने घुटने नहीं टेकूंगी। मैं किसी धमकी के आगे नहीं झुक सकती, ईडी और सीबीआई तृणमूल कांग्रेस से डरती हैं, लेकिन अभिषेक को रोककर ‘तृणमूल नबो ज्वार’ को नहीं रोका जा सकता। जरूरत पड़ी तो मैं ‘जोनो संजोग यात्रा’ में शामिल होकर जिलों का दौरा करूंगा और ‘तृणमूल नाबो ज्वार’ जारी रहेगा। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में हार के बाद भाजपा को हर राज्य में हार का सामना करना पड़ेगा।”

इस बीच तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं डायमंड हार्बर से सांसद अभिषेक बनर्जी शनिवार को राज्य सरकार की ओर से सहायता प्राप्त विद्यालयों में शिक्षकों की भर्ती घोटाले में पूछताछ के लिए यहां के निजामा पैलेस स्थित केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के दफ्तर पहुंचे।सीबीआई ने इस मामले में पूछताछ के लिए श्री मुखर्जी को तबल किया था। इससे पहले श्री मुखर्जी ने शुक्रवार को उन्हें (श्री मुखर्जी) को गिरफ्तार करने की चुनौती दी थी।

उल्लेखनीय है कि श्री बनर्जी 25 अप्रैल से ‘तृणमूल नबो ज्वार’ के हिस्से के रूप में दो महीने तक चलने वाली ‘जोनो संजोग यात्रा’पर हैं। सीबीआई द्वारा तबल किए जाने के कारण श्री बनर्जी को ‘जोनो सोनजोग यात्रा’ को बीच में रोकना पड़ा और शुक्रवार रात तक कोलकाता लौटना पड़ा।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे ने बांकुड़ा जिले में एक जनसभा के दौरान कहा कि अगर सीबीआई उन्हें गिरफ्तार कर सकती है तो उन्हें गिरफ्तार करके दिखाए। उन्होंने कहा,“ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआई सालों से मेरे पीछे पड़े हैं। उन्होंने किसी को भी नहीं बख्शा- न तो मेरी पत्नी को, न मेरे सचिव को और न ही मेरे वकील को। तीन-चार साल से लगातार हो रही उनकी जांच अब मजाक बन गई है।”

संजय,आशा

वार्ता

image