Monday, Jun 17 2019 | Time 22:08 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एआईएमआईएम के पार्षदों का औरंगाबाद महापौर के खिलाफ धरना
  • कपड़ा मजदूरों ने 27 जून को हड़ताल का ऐलान किया
  • जेपी नड्डा को भाजपा का कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाये जाने पर सुशील ने दी बधाई
  • जल सरंक्षण के लिए श्री दरबार साहिब में सयंत्र स्थापित
  • दिल्ली पुलिस की सिख युवक से मारपीट की लोंगोवाल ने की निंदा
  • मरीज की मौत को लेकर हुआ हंगामा
  • स्कूल वैन से गिरे तीन बच्चे घायल
  • 2027 तक भारत सर्वाधिक आबादी वाला देश होगा
  • कुशीनगर से दो तस्कर गिरफ्तार,40 लाख की शराब बरामद
  • ‘वर्ल्‍ड फूड इंडिया नई दिल्‍ली में नवंबर में
  • चमकी बुखार से बच्चों की हुई मौत पर राष्ट्रीय मानवाधिकार का बिहार सरकार को नोटिस
  • उम्रकैद की सजा काट रहे पूर्व विधायक एवं दो साथियों के लाइसेंस निरस्त
  • चंदौली में शराब फैक्ट्री का पर्दाफाश,पांच गिरफ्तार
  • बिहार में लू का कहर जारी : मृतकों की संख्या 100 के पार
  • एसटीएफ ने गोरखपुर से किया इनामी अपराधी को गिरफ्तार।
दुनिया


मोदी ने थाइलैंड के प्रधानमंत्री से मुलाकात की

मोदी ने थाइलैंड के प्रधानमंत्री से मुलाकात की

काठमांडू, 31 अगस्त(वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को यहां थाइलैंड के प्रधानमंत्री प्रयूत चैन ओचा से मुलाकात कर द्विपक्षीय मसलों पर चर्चा की

प्रधानमंत्री कार्यालय के एक ट्वीट में कहा गया है“ थाइलैंड के प्रधानमंत्री प्रयूत चैन ओचा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने काठमांडू में कईं मसलाें पर बातचीत की और इस बातचीत में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग को मजबूत करने पर अधिक ध्यान दिया गया।”

गौरतलब है कि कल से यहां दक्षिण एशिया और दक्षिण पूर्व एशिया के सात राष्ट्रों के क्षेत्रीय समूह बिम्स्टेक (बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर सेक्टोरल टेक्निकल एंड इकॉनोमिक को-ऑपरेशन) का दो दिवसीय सम्मेलन शुरू हुआ। सात देशों के इस समूह में भारत सहित दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) के सदस्य देश बंगलादेश, भूटान, नेपाल, श्रीलंका, म्यामांर और थाईलैंड भी हैं। आतंकवाद का मुद्दा बिम्स्टेक देशों के बीच बातचीत का बहुत महत्वपूर्ण विषय है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एक ट्वीट कर कहा“ श्री मोदी ने म्यांमार के राष्ट्रपति विन मिंट से इस दो दिवसीय सम्मेलन के दौरान अनौपचारिक तौर पर बातचीत की। सदियों पुराने संबंध, बातचीत में विकासात्मक सहयोग,ऊर्जा और अन्य क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग पर सहयोग को लेकर बातचीत।”

श्री कुमार ने एक अन्य ट्वीट में कहा “बिम्सटेक के नेताओं की यहां आज अनौपचारिक बैठक हुई और इसमें बिम्सटेक के उद्देश्यों को हासिल करने करने के लिए सभी नेता आगे आए हैं।”

इस सम्मेलन का समापन शुक्रवार को होगा।

गाैरतलब है कि विदेश मंत्रालय के सचिव विजय गोखले ने गुरूवार को इस सम्मेलन की शुरूअात के मौके पर पत्रकारों काे संबोधित करते हुए कहा था “चौथा बिम्सटेक सम्मेलन क्षेत्रीय समूहीकरण के लिए एक मील का पत्थर साबित होगा। यह सम्मेलन ऐतिहासिक होगा अाैर हम उम्मीद करते हैं कि इस सम्मेलन के आयोजन के बाद बिम्सटेक की संस्थागत आधारशिला मजबूत होगी। बिम्सटेक सम्मेलन के लिए घोषणापत्र शुक्रवार को स्वीकार किया जाएगा।”

श्री गोखले ने कहा कि इस सम्मेलन के जरिए क्षेत्रीय समूहीकरण के लिए सकेंद्रित और पुनर्स्थापना की दिशा में आगे बढ़ा जाएगा। “हम बिम्सटेक के लिए एक चार्टर का प्रारूप तैयार करेंगे। अभी तक इसका कोई चार्टर नहीं है। इस चार्टर के आधार पर बिम्सटेक की कार्यप्रणाली, नियम और प्रक्रियाएं तय की जाएंगी।”

image