Sunday, Sep 23 2018 | Time 22:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मोदी सोमवार को सिक्किम हवाई अड्डा का करेंगे उद्घाटन: डॉ जितेंद्र सिंह
  • मानव तस्करी का प्रमुुुख केन्द्र बना पूर्वोतर: मीर
  • राहुल गांधी 27 और 28 को रीवा तथा सतना जिले के दौरे पर रहेंगे
  • रमन ने की आंध्र के विधायक और पूर्व विधायक की हत्या की निन्दा
  • क्रिकेट प्रतियोगिताओं में प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों के भत्तों में वृदि्ध
  • छोटा उदेपुर में नदी में डूबने से दो युवकों की मौत
  • जम्मू कश्मीर में 90:10 के अनुपात से होगा बीमा योजना के तहत भुगतान
  • कांग्रेस सभी वर्गों को लेकर चलती है साथ- पायलट
  • मुजफ्फरपुर के पूर्व महापौर और उनके चालक की हत्या
  • कायेस और महमूदुल्लाह के अर्धशतकों से बंगलादेश के 249
  • संंप्र्रग सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का श्रेय ले रहे हैं प्रधानमंत्री: जेना
  • आदिवासियों के नाम पर हुई वोट बैंक की राजनीति : रघुवर
  • पाकिस्तान ने भारत को दी 238 की चुनौती
  • पाकिस्तान ने भारत को दी 238 की चुनौती
  • आयुष्मान भारत : स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग - नड्डा
लोकरुचि Share

नागपंचमी पर भगवान नागचंद्रेश्वर के श्रद्धालुओं ने किये दर्शन

नागपंचमी पर भगवान नागचंद्रेश्वर के श्रद्धालुओं ने किये दर्शन

उज्जैन, 15 अगस्त (वार्ता) मध्यप्रदेश के उज्जैन में साल में केवल एक बार 24 घंटे खुलने वाले भगवान नागचन्द्रेश्वर मंदिर में हजारों श्रद्धालुओं ने दर्शन किये।



शहर में स्थित भगवान महाकालेश्वर मंदिर के शीर्ष पर विराजित भगवान नागचन्द्रेश्वर मंदिर के पट प्रतिवर्ष परपंरानुसार साल में केवल नागपंचमी के मौके पर 24 घंटे के लिये आमदर्शनार्थियो के लिये खोले जाते है। दर्शन के लिये इस मंदिर के महत्व के कारण देश के विभिन्न प्रांतो से हजारों की संख्या में दर्शनार्थी आते हैं। इसके लिये जिला प्रशासन प्रतिवर्ष श्रद्धालुओं के लिये व्यापक इंतजाम करता है।

इसी के तहत भगवान महाकालेश्वर और नागचन्द्रेश्वर मंदिर में दर्शनार्थियों की सुरक्षा एवं सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए इस वर्ष बैरिकेट्स लगा कर अलग अलग दर्शन की व्यवस्था की है। मंदिर के पट खुलने के बाद से श्रद्धालुओं के दर्शन का सिलसिला शुरू हो गया। मंदिर के पट आज मध्य रात्रि को विधिवत पूजा अर्चना के पश्चात एक वर्ष के लिये बंद कर दिये जायेंगे।



आधिकारिक सूत्रों के अनुसार नागपंचमी के अवसर पर खुलने वाले भगवान नागचन्देश्वर के पट कल मध्य रात्रि 12 बजे के बाद शुभ मुहुर्त में खुले और मंदिर के पट खुलने के बाद श्री पंचायती महानिर्वाणी अखाडें के महन्त श्री प्रकाश पुरी महाराज ने विधि-विधान से श्री नागचन्द्रेश्वर भगवान का पूजन-अर्चन किया।

इस अवसर पर विधायक जनप्रतिनिधि, जिले के वरिष्ठ अधिकारी सहित हजाराें की संख्या में दर्शनार्थी मौजूद थे। इसके बाद श्रद्धालुओं ने भगवान नागचन्द्रेश्वर के दर्शन करना शुरू किया। पूजन अवसर पर वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों द्वारा मंदिर परिसर में व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से चलाने के लिए निरन्तर निरीक्षण किया जा रहा है।

सं विश्वकर्मा

वार्ता

More News
तेइस को दिन और रात होंगे बराबर

तेइस को दिन और रात होंगे बराबर

21 Sep 2018 | 8:20 PM

उज्जैन, 21 सितंबर (वार्ता) प्रतिवर्षानुसार अागामी 23 सितंबर को दिन रात बराबर होंगे। इस खगोलीय घटना को मध्यप्रदेश के उज्जैन की प्राचीन वैधशाला में देखा जा सकेगा।

 Sharesee more..

पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर

20 Sep 2018 | 3:07 PM

 Sharesee more..
मुर्हरम पर मजहबी सदभाव का प्रतीक है इटावा की “लुट्टस” परम्परा

मुर्हरम पर मजहबी सदभाव का प्रतीक है इटावा की “लुट्टस” परम्परा

19 Sep 2018 | 4:13 PM

इटावा, 19 सितम्बर (वार्ता) यमुना नदी के किनारे बसा उत्तर प्रदेश का इटावा शहर यूं तो सांप्रदायिक सद्भाव की मिसाल पेश करता ही है लेकिन मुहर्रम के दिन निभायी जाने वाली “ लुट्टस परम्परा” इसमें चार चांद लगा देती है।

 Sharesee more..
जब विघ्नहर्ता बने थे अंग्रेजों के खिलाफ आजादी के मतवालों के हथियार

जब विघ्नहर्ता बने थे अंग्रेजों के खिलाफ आजादी के मतवालों के हथियार

12 Sep 2018 | 3:55 PM

इलाहाबाद, 12 सितम्बर (वार्ता) ब्रितानी हुकूमत की गुलामी की जंजीरों से देश को आजाद करने के लिये फड़फड़ा रहे क्रांतिकारियों ने गणेशोत्सव को हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया था।

 Sharesee more..
शिराज-ए-हिन्द के मोहर्रम में हिन्दू भी करते हैं मजलिस

शिराज-ए-हिन्द के मोहर्रम में हिन्दू भी करते हैं मजलिस

09 Sep 2018 | 12:35 PM

जौनपुर, 09 सितम्बर (वार्ता) शिराज-ए-हिन्द जौनपुर के मोहर्रम में सिर्फ शिया मुसलमान ही नहीं बल्कि हिन्दू भी मजलिस और मातम में शामिल होकर गंगा जमुनी संस्कृति की अनूठी मिसाल पेश करते हैं।

 Sharesee more..
image