Wednesday, Sep 18 2019 | Time 21:02 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार सरकार विवि परीक्षा में स्वर्ण पदक प्राप्त करने वालों को 31 हजार से करेगी सम्मानित : नीतीश
  • योगी एवं धमेन्द्र प्रधान ने किया उर्वरक कारखाने का निरीक्षण
  • बैंस की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज
  • ई-सिगरेट पर प्रतिबंध से स्वस्थ जीवन को बढ़ावा मिलेगा: हर्षवर्धन
  • बिहार भाजपा के नवनियुक्त अध्यक्ष संजय जायसवाल का पटना में भव्य स्वागत
  • बाबा जगन्नाथ सुरती वाले डेरे के महंत की हत्या, खेत से मिला शव
  • शिवानंद तिवारी के खिलाफ मानहानि मामले में संज्ञान
  • हत्या मामले में चाय दुकानदार को आजीवन कारावास
  • नाबालिग के साथ अप्राकृतिक यौनाचार एवं हत्या के मामले में दोषी को उम्रकैद
  • पंचायत चुनावों में आरक्षण देने की जनहित याचिका खारिज, सरकार को राहत
  • मुजफ्फरनगर में 12 तस्कर गिरफ्तार,एक करोड़ से अधिक की शराब आदि बरामद
  • सड़क हादसे में युवा किसान की मौत, भाई गम्भीर रूप से घायल
  • मोदी के विमान को अपने हवाई क्षेत्र से नहीं जाने देगा पाकिस्तान: कुरेशी
  • ऑस्कर में भारत की आधिकारिक प्रविष्टि होगा ‘मोती बाग’
राज्य » बिहार / झारखण्ड


दरभंगा में बाढ़ से गृह क्षति के नुकसान का होगा सर्वेक्षण

दरभंगा, 20 अगस्त (वार्ता) बिहार में दरभंगा जिले के बाढ़ प्रभावित अंचलों में हुए गृह क्षति के नुकसान के लिए सर्वेक्षण कराया जायेगा।
जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस. एम. ने आज यहां बताया कि जिले के सभी बाढ़ प्रभावित अंचलों के अंचलाधिकारी को गृह क्षति का वास्तविक सर्वेक्षण कराने एवं विस्तृत प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया गया है। सभी अंचलाधिकारी को पंचायतवार सर्वेक्षण टीम का गठन करने को कहा गया है। सर्वेक्षण टीम में इंदिरा आवास सहायक, विकास मित्र, पंचायत रोजगार सेवक एवं कृषि सलाहकार को रखा जायेगा। इन कर्मियों के पास एंड्रायड मोबाईल फोन पहले से मौजूद है जिसमें जी.पी.एस. ट्रैकर साफ्टवेयर इंस्टॉल कराया जायेगा।
डॉ. त्यागराजन ने कहा कि कृषि सलाहकार के पास पूर्व से ही जी.पी.एस. इनेबल्ड फोन है, जिसका उपयोग गृह क्षति सर्वेक्षण में किया जायेगा। सर्वेक्षण के क्रम में साक्ष्य स्वरूप क्षतिग्रस्त गृह का गृह स्वामी के साथ जियो टैग फोटो भी लिया जायेगा। जिसे प्रतिवेदन के साथ संलग्न करना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि बाढ़ से क्षतिग्रस्त सभी घरों चाहे वह पक्का का रहा हो या कच्चा या झोपड़ी रहा हो, के मालिक को आपदा विभाग के प्रावधानों के तहत मुआवजा दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा बाढ़ से क्षतिग्रस्त मकान, फसल आदि का मुआवजा का शीघ्र भुगतान करने का निर्देश जारी दिया गया है।
सं.सतीश
वार्ता
image