Tuesday, Jul 14 2020 | Time 16:27 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • काेरोना के कारण बंद की गई कपड़ा मिल के मजदूरों ने किया प्रदर्शन
  • हिमालयीन सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण एवं विकास के लिए आर्थिक मदद
  • रूस में कोरोना वायरस संक्रमण के 6,248 नये मामले
  • विराट को उनके खेल को अलग स्तर में ले जाने पर सलाह दी थी: कस्टर्न
  • संतकबीरनगर में 35 और कोरोना पॉजिटिव मिले, संक्रमितों की संख्या हुई 443
  • इंडोनेशिया में कोरोना संक्रमण के 1591 नये मामले
  • सचिन पायलट और दो मंत्री निष्कासित
  • चेन्नई में कोरोना योद्धा चौथे पुलिसकर्मी की मौत, 1500 संक्रमित
  • अगले दस साल में 275 अरब डॉलर का होगा भारतीय स्वास्थ्य क्षेत्र : हर्षवर्धन
  • श्रेष्ठ प्रदर्शन पर महिला पंच-सरपंचों को मिलेगी स्कूटी
  • सचिन पायलट ने ट्विटर हैंडल से हटाया कांग्रेस का नाम
  • आंध्र में कोरोना मामले 33000 के पार,400 से अधिक की मौत
  • कजाख्रस्तान में कोरोना के कारण प्रतिबंझर दो अगस्त तक बढ़ाये गये
  • गहलोत को विधानसभा में बहुमत साबित करना चाहिए-कटारिया
राज्य » बिहार / झारखण्ड


चतरा से टीपीसी का जोनल कमांडर गिरफ्तार

चतरा, 18 मई (वार्ता) झारखंड में चतरा जिले के कुन्दा थाना क्षेत्र से पुलिस ने प्रतिबंधित नक्सली संगठन तृतीय प्रस्तुति कमेटी ( टीपीसी) के जोनल कमांडर विकास गंझू उर्फ अनिवास उर्फ दशरथ गंझू को आज गिरफ्तार कर लिया।
अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बच्चन देव कुजुर ने यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया कि सूचना मिली थी कि नक्सली कमांडर विकास अपने गांव आया हुआ है। इसी आलोक में त्वरित कार्रवाई करते हुए जगुआर पुलिस और स्थानीय पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नक्सली के घर पर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार नक्सली कुन्दा थाना क्षेत्र के मरगड़ा-एकता गांव का रहने वाला है।इसके विरुद्ध सिमरिया, लावालौंग, पत्थलगड्डा और कुन्दा थाना में 11 मामले दर्ज है।
श्री कुजुर ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली चतरा, हजारीबाग और लातेहार जिले के सीमावर्ती क्षेत्र के आस-पास सक्रिय था और क्षेत्र के संवेदकों, कोयला व्यवसायियों और ईंट भट्ठा मालिकों से लेवी वसूलने का काम करता था। उन्होंने कहा कि जिले में नक्सलियों के विरुद्ध लगातार छापेमारी अभियान जारी है। उन्होंने कहा कि उग्रवादियों से अपना संगठन छोड़ कर मुख्यधारा में शामिल का आह्वान किया जा रहा है। यदि वे मुख्य धारा में शामिल नहीं होते तो उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
सं.सतीश
वार्ता
image