Saturday, Apr 20 2024 | Time 01:01 Hrs(IST)
image
राज्य » बिहार / झारखण्ड


बहुउद्देशीय केंद्र के रूप में विकसित होगा पैक्स : मंत्री

पटना 21 फरवरी (वार्ता) बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने कहा कि प्राथमिक कृषि साख समितियों (पैक्स) को एक बहुउद्देशीय केंद्र के रूप में विकसित किया जाएगा, जहां जेनेरिक दवाएं, उर्वरक, कीटनाशक, कीटनाशकों के छिड़काव के लिए ड्रोन, एटीएम और पेट्रोल आउटलेट की सुविधाएं उपलब्ध होंगी।
श्री कुमार ने बुधवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए सहकारिता और अन्य विभागों की बजटीय मांगों पर हुई चर्चा के जवाब में कहा कि जेनेरिक दवाएं, उर्वरक, कीटनाशक, कीटनाशकों के छिड़काव के लिए ड्रोन, एटीएम, पेट्रोल आउटलेट और ऐसी अन्य सुविधाएं पैक्स में किसानों के लिए उपलब्ध होंगी। उन्होंने कहा कि पैक्स की गतिविधियों को सरल बनाने तथा इसे और अधिक पारदर्शी बनाने के साथ-साथ इन्हें बहुउद्देशीय केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए किसानों को अलग-अलग योजनाओं की जानकारी आसानी से देने के लिए सभी पैक्सों को कम्प्यूटरीकृत किया जा रहा है।
मंत्री ने देश और राज्य के समावेशी विकास में सहकारिता के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि इसकी भूमिका को समझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक अलग सहकारिता विभाग की स्थापना की, जिससे किसानों के विकास में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि धान अधिप्राप्ति वित्तीय वर्ष 2021-22 में लक्ष्य के विरूद्ध 99.78 प्रतिशत तथा 202-23 में 93.4 प्रतिशत जबकि वर्ष 2023-24 में मात्र 30 प्रतिशत रही।
श्री कुमार ने बिहार के बाहर सहकारी विभागों के कामकाज का अध्ययन करने के लिए अपने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की एक टीम गठित करने की घोषणा की और कहा कि किसानों के हित में सहकारिता की कार्यप्रणाली में सुधार के लिए टीम एक माह के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। सहकारिता में आमूल-चूल परिवर्तन के लिए नई सहकारी नीतियां बनाई जा रही हैं। जब मंत्री ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के बारे में बात की तो उनके जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्य सदन से बहिर्गमन कर गए।
सूरज शिवा
जारी (वार्ता)
More News
बिहार: 48.23 प्रतिशत मतदाताओं ने 38 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में किया लॉक

बिहार: 48.23 प्रतिशत मतदाताओं ने 38 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में किया लॉक

19 Apr 2024 | 9:10 PM

पटना 19 अप्रैल (वार्ता) बिहार में प्रथम चरण की चार लोकसभा सीट गया (सु), औरंगाबाद, नवादा और जमुई (सु) में शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुए मतदान में लगभग 48.23 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट कर पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी समेत 38 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला आज इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में लॉक कर दिया।

see more..
image