Friday, Jun 14 2024 | Time 23:35 Hrs(IST)
image
राज्य » बिहार / झारखण्ड


मधेपुरा : 25-25 हज़ार के दो इनामी हत्यारोपी गिरफ्तार

मधेपुरा, 12 मई (वार्ता) बिहार में मधेपुरा जिला पुलिस ने रतवारा थाना क्षेत्र अंतर्गत खापुर के पूर्व मुखिया की लगभग एक माह पूर्व गोली मारकर की गई हत्या के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।
पुलिस अधीक्षक संदीप सिंह ने रविवार को प्रेस वार्ता में बताया कि वर्चस्व की लड़ाई व पूर्व के एक मर्डर को लेकर खापुर के पूर्व मुखिया मुकेश कुमार सिंह उर्फ मुन्ना मुखिया की हत्या की गई थी। उन्होंने बताया कि कांड की गंभीरता को देखते हुए अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए उनके द्वारा उदाकिशुनगंज एसडीपीओ अविनाश कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था। जिसमें आसपास के थानों के थानाध्यक्ष, डीआईयू सेल एवं कई पुलिसकर्मी शामिल थे।
श्री सिंह ने बताया कि टीम ने एसटीएफ के साथ संयुक्त रूप से छापेमारी कर घटना में शामिल कुख्यात अपराधी खापुर निवासी रामोतार सिंह के बेटे झपटा सिंह और वेदा सिंह के बेटे रोहित सिंह को गिरफ्तार किया। दोनों अपराधी 25-25 हजार रुपए के इनामी थे। पूछताछ में दोनों ने इस कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार की और घटना के समय मौजूद अन्य अपराधियों की भी जानकारी दी। इन दोनों की निशानदेही पर घटना में प्रयोग किया गया आग्नेयास्त्र एक देसी कट्टा भी बरामद किया गया।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस कांड में संलिप्त तीसरे अपराधी बिहारीगंज थाना क्षेत्र के मोहनपुर वार्ड 10 निवासी गंगा मेहता के बेटे अखिलेश मेहता उर्फ प्रह्लाद मेहता को बिहारीगंज थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। अन्य संलिप्त अभियुक्तों के विरुद्ध छापेमारी एवं अनुसंधान की जा रही है। गिरफ्तार अपराधी झपटा सिंह और रोहित सिंह के विरुद्ध मधेपुरा के अलावा अन्य जिलों में भी कई कांड दर्ज हैं। घटना का कारण वर्चस्व की लड़ाई और पूर्व में एक सिंटू कुमार नाम के व्यक्ति का मर्डर भी है। गिरफ्तार अपराधियों के द्वारा सिंटू सिंह के मर्डर में पूर्व मुखिया मुकेश कुमार मुन्ना का बताया जा रहा है। इससे अलावा लोकल पॉलिटिक्स को लेकर ये लोग एक-दूसरे पर पहले भी छोटा-मोटा हमला कर चुके थे।
उल्लेखनीय है कि 15 अप्रैल की शाम गांव में सड़क ढ़लाई के दौरान छुतहरू सिंह के दुकान के आगे चारपाई पर बैठे पूर्व मुखिया मुकेश कुमार की अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। इस दौरान अपराधियों ने गर्दन के ऊपर सिर पर भी धारदार हथियार से हमला किया था। जिसके कारण घटनास्थल पर उनकी मौत हो गई थी। छापेमारी टीम में रतवारा थानाध्यक्ष त्रिलोकीनाथ शर्मा, एसटीएफ टीम, डीआईयू सेल के पदाधिकारी, कर्मी एवं रतवारा थाना के सशस्त्र बल शामिल थे।
सं.सतीश
वार्ता
More News
बिहार के सरकारी कर्मियों का मकान किराया भत्ता चार प्रतिशत तक बढ़ा

बिहार के सरकारी कर्मियों का मकान किराया भत्ता चार प्रतिशत तक बढ़ा

14 Jun 2024 | 11:27 PM

पटना 14 जून (वार्ता) बिहार में सरकारी कर्मियों के मकान किराया भत्ता में चार प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की गई है।

see more..
बिहार में बेरोजगारों को मिलेगा भत्ता

बिहार में बेरोजगारों को मिलेगा भत्ता

14 Jun 2024 | 11:26 PM

पटना 14 जून (वार्ता) बिहार में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी (मनरेगा) योजना के तहत काम मंगाने के बावजूद रोजगार नहीं मिलने पर अब सरकार उन्हें बेरोजगारी भत्ता देगी।

see more..
image