Monday, Jun 24 2019 | Time 19:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • प्राथमिक जांच के बाद मुलायम को अस्पताल से छुट्टी
  • बस्ती के बंजरिया फार्म पर करंट लगने से दो मालियों की मृत्यु
  • परिवहन मंत्री इस्तीफा दें : कुलदीप राठौर
  • खाद्य तेल, दालों, गेहूँ में नरमी
  • बंगलादेश और अफगानिस्तान मैच का स्कोरबोर्ड
  • केंद्र और नीतीश सरकार एईएस से बच्चों की मौत रोकने में विफल - भाकपा
  • सोने में नरमी : चांदी उछली
  • यूक्रेन में दो दिन में 42 लोगों की डूबने से मौत
  • जालौन :ट्रक की टक्कर से एक की मौत एक घायल
  • रुपया 23 पैसे मजबूत
  • डेरा प्रमुख की पैरोल को लेकर प्रशासन ग्राऊंड रिपोर्ट तैयार करने में व्यस्त
  • उप्र में कई स्थानों पर बारिश,लखनऊ में उमस से लोग बेहाल
  • शाकिब-मुशफिकुर के अर्धशतक, बंगलादेश के 262
  • शाकिब-मुशफिकुर के अर्धशतक, बंगलादेश के 262
  • सेंसेक्स 72 अंक, निफ्टी 24 अंक लुढ़का
बिजनेस


स्थानीय बाजार में कमजोर मांग से सोना हाजिर 100 रुपये की गिरावट 31,250 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतना ही लुढ़ककर 31,100 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया। आठ ग्राम वाली गिन्नी हालांकि 24,500 रुपये पर टिकी रही।
सिक्का निर्माताओं की कमजोर मांग से चाँदी हाजिर 650 रुपये टूटकर 38,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 37,700 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गयी। चाँदी वायदा में 425 रुपये की तेज गिरावट देखी गयी और यह 36,695 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गयी।
चांदी की गिरावट से सिक्कों की खनक भी कमजोर पड़ गयी। सिक्का लिवाली और बिकवाली 1,000-1,000 रुपये लुढ़ककर क्रमश: 72,000 रुपये और 73,000 रुपये प्रति सैंकड़ा पर आ गये।
दिल्ली सर्राफा बाजार में दोनों कीमती धातुओं के दाम (रुपये में) इस प्रकार रहे:-
सोना स्टैंडर्ड प्रति 10 ग्राम : 31,250
सोना बिटुर प्रति 10 ग्राम : 31,100
चांदी हाजिर प्रति किलोग्राम: 37,700
चांदी वायदा प्रति किलोग्राम : 36,695
सिक्का लिवाली प्रति सैकड़ा : 72,000
सिक्का बिकवाली प्रति सैकड़ा :73,000
गिन्नी प्रति आठ ग्राम : 24,500
अर्चना
वार्ता
More News
अप्रैल में रिलायंस जियो के ग्राहक बढ़े अन्य निजी कंपनियों के घटे

अप्रैल में रिलायंस जियो के ग्राहक बढ़े अन्य निजी कंपनियों के घटे

24 Jun 2019 | 5:54 PM

नयी दिल्ली, 24 जून(वार्ता) मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो ने नये मोबाइल ग्राहक बनाने के मामले में अप्रैल..19 के दौरान निजी कंपनियों को पीछे छोड़ दिया है।

see more..
image