Sunday, Sep 23 2018 | Time 12:37 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिकी आइसक्रीम ब्रांड का भारत में विस्तार योजना
  • अाजमगढ:जमीनी विवाद में पोते ने मारी दादी को गोली
  • अन्नाद्रमुक विधायक करुनास गिरफ्तार
  • वीरायतन नेपाल में खोलेगा शिक्षण संस्थान
  • जॉनी इंग्लिश स्ट्राइक्स अगेन में एटकिंसन के साथ दिखेंगी थॉम्पसन
  • चंबल में वनाधिकारियों ने पहली बार देखा अजगर का लाइव शिकार
  • आईएमआई ने एक्जीक्यूटिव पीजीडीएम कोर्स के लिए आवेदन आमंत्रित किए
  • अवध विश्वविद्यालय में बनेगा बेगम अख्तर संग्रहालय
  • पुलवामा में मुठभेड़, एक आतंकवादी ढेर
  • 76 साल की अमेरिकी ‘युवती’ ने लाइव फूड से उम्र के प्रभाव पर पायी जीत, अब मोदी से सीखना चाहती है योग
  • पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़
  • कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हसन इमाम का निधन
  • ईरान में हो सकती है क्रांति: गुलियानी
  • चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द की
  • सीरियाई विद्रोही इदलिब में तुर्की से करेंगे सहयोग
बिजनेस Share

इंटरनेट सोसायटी का इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स ऐसोसिएशन ऑफ इंडिया से करार

नयी दिल्ली 03 सितंबर (वार्ता) इंटरनेट सोसायटी (आईसीओसी) और इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स ऐसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएसपीएआई) ने भारत में म्युुचुअली ऐग्रीउ नॉर्म्स फॉर राउटिंग सिक्युरिटी (एमएएनआरएस) को बढ़ावा देने के लिए सोमवार को एक करार किया।
आईएसओसी के एशिया प्रशांत क्षेत्रीय ब्यूरो के निदेशक रजनीश सिंह और आईएसपीएआई के अध्यक्ष राजेश छरिया ने इस संबंध में हुये करार पर हस्ताक्षर किये। एमएएनआरएस एक ऐसा कार्यक्रम है जिसका प्राथमिक उद्देश्य इंटरनेट के राउटिंग सिस्टम के खतरों को कम करना है। इस करार से भारत में राउटिंग इंफ्रास्ट्रक्चर और सुरक्षा में सुधार के उपाय किये जा सकेंगे जिससे व्यापार और ग्राहक दोनों के लिए इंटरनेट को सुरक्षित रखा जा सकेगा।
इस करार से देश में साइबर सुरक्षा के जोखिम कम करने में मदद मिलेगी। इंटरनेट के भविष्य तथा स्थिरता के लिए राउटिंग सिक्युरिटी महत्वपूर्ण है और एमएएनआरएस नेटवर्क आॅपरेटरों के लिए सरल किंतु ठोस कदम मुहैया कराता है जो बेहतर इंटरनेट सुरक्षा एवं विश्वसनीयता संभव करता है। एमएनएसआरएस एक कम्यूनिटी संचालित पहल है। करार के तहत दोनों संगठन क्षमता निर्माण पर ध्यान केन्द्रित करेंगे जिससे भारत में एमएएनआरएस अपनाने में मदद मिलेगी।
की जाएंगी।
शेखर अर्चना
वार्ता
image